राजस्थान के बड़े वुलन मार्केट में हुआ दिल दहलाने वाला हादसा, जिंदा जल गया व्यापारी, कई झुलसे, करोड़ो का माल जला

| Nov 29 2022, 11:24 AM IST

राजस्थान के बड़े वुलन मार्केट में हुआ दिल दहलाने वाला हादसा, जिंदा जल गया व्यापारी, कई झुलसे, करोड़ो का माल जला

सार

राजस्थान में ठंड के चलते एक अस्थायी वूलन मार्केट का एक दिसम्बर को होना था उद्घाटन। पर उससे पहले 28 नवंबर की रात हो गया दर्दनाक हादसा। यहां तीस से ज्यादा दुकानें जलकर खाक हो गई, करोड़ों का नुकसान हुआ। एक व्यापारी जिंदा जल गया तो कई झुलसे। 

 

बीकानेर (bikaner). राजस्थान के बीकानेर शहर में देर रात बड़ी घटना हुई है। करोड़ों रुपयों के वूलन जलकर राख हो गए। छह से सात दमकलें चार घंटे तक मशक्कत करती रही और लाखों लीटर पानी आग पर फेंका तब जाकर आग काबू की जा सकी। बताया जा रहा है कि मामूली चिंगारी से यह आग लगी थी। आग लगने के दौरान दुकानों में पंद्रह से बीस व्यापारी सो रहे थे। बीकानेर प्रशासन ने आग के कारणों की जाचं पड़ताल करने के निर्देश दिए हैं। यह पूरा घटना कोटगेट थाना इलाके की है। 

 

Subscribe to get breaking news alerts

हर साल की तरह लग रहा था वुलन मार्केट, 1 दिसंबर से होना था उद्घाटन
थाना पुलिस ने बताया कि देर रात करीब ग्यारह बजे के बाद यह आग (fire accident) लगी। दरअसल हर साल की तरह इस साल भी रतन बिहारी मंदिर के पास मोहता मार्केट में वुलन का अस्थायी बाजार बनाया गया था। करीब सत्तर दुकानों को अस्थायी तौर पर बनाया गया था। उनमें से लगभग सभी में वुलन वस्त्रों की बिक्री शुरु होनी थी। एक दिसम्बर को बाजार का विधीवत उद्घाटन होना था। नेपाल, तिब्बत समेत अन्य कई राज्यों के वुलन कारोबारी यहां हैंडमेड वुलन क्लोथ लेकर आए थे। साथ ही मशीन से बनाया गया माल भी रखा गया था। सभी दुकानें माल से ठसा ठस भरी हुई थी और हर दुकान में एक से दो व्यापारी रात के समय सो रहे थे।

देर रात अचानक लगी लाग, व्यापारी बचाने लगे माल हो गया हादसा
 देर रात अचानक आग लगी तो व्यापारी अपना माल बचाने की कोशिश में लग गए। कई व्यापारी तो वहां से निकल गए लेकिन माल बचाने के दौरान एक व्यापारी आग की चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई। उसके अलावा अन्य दो व्यापारी  झुसली हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। देर रात ग्यारह बजे लगी आग करीब दो बजे काबू की जा सकी। आग से करोड़ों रुपयों का नुकसान हुआ है। व्यापारियों का रो रोकर बुरा हाल है। व्यापारियों का कहना है कि कई साथियों ने तो अभी तक को खोला तक नहीं था। इस घटना के बाद से देर रात तक पुलिस और प्रशासनिक अफसर मौके पर तैनात रहे।

यह भी पढ़े- राजस्थान में हुए दर्दनाक सड़क हादसेः मदद पहुंचती उससे पहले ही साथ ले गई मौत, 4 जिंदा जले, कई अस्पताल में भर्ती