Asianet News HindiAsianet News Hindi

एजुकेशन सिटी कोटा फिर बदनाम.... हो गई चाकूबाजी की एक और घटना, 5 थानों की पुलिस अलर्ट पर

राजस्थान के कोटा शहर में एक बार फिर जिले को बदनाम करने वाली खबर शुक्रवार की देर रात को एक बार फिर सामने आई है। इस पूरी घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। हादसे के बाद से 5 थानों की पुलिस अलर्ट मोड में है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

kota crime news unknown accused attack rickshaw driver with knife incident captured in CCTV asc
Author
First Published Oct 29, 2022, 5:43 PM IST

कोटा (kota). पूरे देश में इंजीनियरिंग और डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए फेमस कोटा 2 कारणों के चलते बदनाम होता जा रहा है। पहला सबसे महत्वपूर्ण कारण कोटा में चाकूबाजी की घटनाएं हैं। कोटा में पूरे प्रदेश की सबसे ज्यादा चाकूबाजी की घटना  हर साल सामने आती हैं। पिछले 6 साल से कोटा जयपुर,  उदयपुर , धौलपुर , अजमेर,  भरतपुर जैसे बड़े शहरों से भी चाकूबाजी की घटनाओं में आगे है। दूसरा बदनामी का कारण कोटा में पढ़ने वाले बच्चों की सुसाइड का है। 

चाकूबाजी की घटना के बाद 5 थानों की पुलिस अलर्ट पर
कोटा में कल रात फिर से चाकूबाजी की घटना सामने आई है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 5 थानों की पुलिस अलर्ट मोड पर है। जवाहर नगर समेत हर जगह सर्च की जा रही है ताकि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सके। जिसे चाकू मारे गए वह एक ऑटो ड्राइवर है और उस पर पैर , कमर और जांघ के नजदीक 17 बार चाकू से वार किए गए हैं। डॉक्टरों का कहना है कि उसकी जान बच गई है, लेकिन हालत स्थिर है। बहुत गंभीर शारीरिक नुकसान है। 

ये है पूरा मामला
पूरा मामला कोटा के जवाहर नगर थाना क्षेत्र का है। जवाहर नगर पुलिस ने बताया कि जवाहर नगर पेट्रोल पंप के नजदीक कल रात की घटना है।  उद्योग नगर निवासी ऑटो चालक तबरेज अपना ऑटो लेकर वहां से गुजर रहा था। ऑटो में इंधन खत्म हुआ तो उसने ऑटो सड़क किनारे रोका और उसे घुमाकर जवाहर नगर पेट्रोल पंप की ओर जाने लगा। इस दौरान अचानक कुछ लड़के आए उन्होंने ऑटो में ही तबरेज को पीटना शुरू कर दिया। उसे पीटते पीटते बाहर खींच लिया और उन लड़कों में से दो ने अपने पास से चाकू निकाले। पेट ,पीठ ,कमर और जांघ पर चाकू से 17 बार से भी ज्यादा वार किए गए। 

मचा हड़कंप, लोग मदद के बजाए भागे
बीच सड़क इस वारदात के बाद वहां हड़कंप मच गया। लोगबाग वहां से भाग छूटे। जब तक पुलिस को सूचना मिली तब तक तबरेज ऑटो के नजदीक अचेत पड़ा था। पुलिस का कहना है कि संभव है यह पुरानी रंजिश के कारण हुआ है। तबरेज को फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि किन लोगों ने उस पर हमला किया था। तबरेज को एमडीएच अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। इस पूरे घटनाक्रम के दो सीसीटीवी फुटेज सामने आए हैं। इन्हीं फुटेज के आधार पर पुलिस जांच पड़ताल कर आरोपियों की तलाश कर रही है।

उल्लेखनीय है कि कोटा में 5 साल के दौरान चाकूबाजी की 12 सौ से भी ज्यादा घटनाएं सामने आई है । इनमें चाकूबाजी के दौरान कुछ लोगों की हत्या तक हो चुकी है।

यह भी पढ़े- रात में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर चली गोलियां... सुबह सामने आई चौंकाने वाली हकीकत...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios