Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान के इन जिलों में बरसात का अलर्ट: बूंदी और करौली में बाढ़, इस दिन से मिलेगी भारी बारिश से राहत

धौलपुर, जयपुर, टोंक व सीकर सहित बाकी जिलों में बारिश का दौर अभी जारी है। भारी बारिश के कारण कोटा, बूंदी व करौली जिले में बाढ़ के हालात हो गए हैं। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में मानसून आज से फिर सुस्त होना शुरू होगा।

Monsoon Update, Weather Report Rain alert in Rajasthan, floods in Bundi and Karauli pwt
Author
Jaipur, First Published Aug 24, 2022, 10:02 AM IST

जयपुर. राजस्थान में जबरदस्त बारिश का दौर लगातार जारी है।  पिछले 24 घंटे में भी 26 जिलों में हल्की और भारी बारिश दर्ज हुई। भारी बारिश के कारण कोटा, बूंदी व करौली जिले में बाढ़ के हालात हो गए हैं। धौलपुर, जयपुर, टोंक व सीकर सहित बाकी जिलों में बारिश का दौर अभी जारी है। जिस कारण से इन इलाकों में जल भराव हो गया।  इस बीच मौसम विज्ञान केंद्र ने मानसूनी गतिविधियों के पश्चिमी राजस्थान में शिफ्ट होने की संभावना जताई है। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार बुधवार को पूर्वी राजस्थान में मौसम अमूमन साफ रहेगा। जबकि पश्चिमी राजस्थान के कुछ जिलों में आज भारी बारिश हो सकती है। 

बुधवार को इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार बुधवार को पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर व जोधपुर संभागों में अनेक स्थानों पर बारिश की संभावना है। जबकि पूर्वी राजस्थान में मौसम अमूमन साफ रहेगा। अजमेर, भरतपुर, जयपुर, कोटा व उदयपुर संभाग में इस दौरान कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिमी राजस्थान में बाड़मेर, जैसलमेर व जोधपुर जिलों में आज में कहीं-कहीं मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ भारी बरसात हो सकती है। इसे लेकर येलो अलर्ट भी जारी किया गया है।

20 फीसदी ज्यादा हुई बारिश
राजस्थान में मानसून की इस बार अच्छी मेहरबानी हुई है। लगभग पूरे प्रदेश में इस बार अच्छी बारिश हुई है। अंदाजा इस बाद से लगाया जा सकता है कि प्रदेश के 26 जिलों में अब तक ही औसत से 20 फीसदी बारिश ज्यादा हो चुकी है। जबकि अभी करीब एक महीने बारिश की संभावना और है। जो रुक-रुक कर जारी रहने की संभावना है।

आज से सुस्त होगा मानसून
मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में मानसून आज से फिर सुस्त होना शुरू होगा। जो कम से कम इस सप्ताह तक निष्क्रिय ही रहने के आसार है। इसके बाद कोई नया सिस्टम फिर से प्रदेश में बरसात लेकर आ सकता है।

इसे भी पढ़ें-  भारी बारिश से पानी-पानी हुआ राजस्थान...बिगड़े हालात-बुलानी पड़ी सेना, घरों में घुसा पानी तो छत पर बैठना पड़ा

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios