Asianet News HindiAsianet News Hindi

Rajasthan:घर में ट्यूशन पढ़ाने आए टीचर ने चुराए 15 लाख के जेवर, गोल्ड लोन भी ले डाला, ऐसे पकड़ में आया

दौसा कोतवाली पुलिस के मुताबिक, बैरवा मोहल्ला निवासी अशोक कुमार ने 31 अक्टूबर को चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।  उन्होंने बताया था कि वह पत्नी के साथ खरीदारी करने के लिए बाजार गए थे। घर में बच्चे थे। ट्यूशन पढ़ाने के लिए मोहम्मद आरिफ घर आया था। आरिफ कोरोनाकाल से घर में बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने आ रहा था, इसलिए उस पर भरोसा बढ़ गया था और हम लोग बच्चों को घर पर छोड़कर बाजार चले गए थे। 

Rajasthan Dausa Tuition teacher Student home stole jewelery worth 15 lakhs and took gold loan police arrested
Author
Dausa, First Published Nov 30, 2021, 11:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

दौसा। राजस्थान (Rajasthan) के दौसा (Dausa) में पुलिस ने एक ट्यूशन टीचर (Tuition teacher) को गिरफ्तार किया है। आरोपी जिस लड़के को पढ़ाना जाता था, उसके घर से 15 लाख रुपए की ज्वैलरी चुरा ली थी। घटना के वक्त माता-पिता बच्चों को छोड़कर बाजार गए थे। इसी बीच, ट्यूशन टीचर ने घर में बीमार होने का बहाना बनाया और बच्चों को दवा लेने बाहर भेज दिया। मौका पाकर घर में चोरी को अंजाम दिया। जांच में यह सामने आया कि इसी जेवर से आरोपी ने गोल्ड लोन भी ले लिया था।  

दौसा कोतवाली पुलिस के मुताबिक, बैरवा मोहल्ला निवासी अशोक कुमार ने 31 अक्टूबर को चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।  उन्होंने बताया था कि वह पत्नी के साथ खरीदारी करने के लिए बाजार गए थे। घर में बच्चे थे। ट्यूशन पढ़ाने के लिए मोहम्मद आरिफ घर आया था। आरिफ कोरोनाकाल से घर में बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने आ रहा था, इसलिए उस पर भरोसा बढ़ गया था और हम लोग बच्चों को घर पर छोड़कर बाजार चले गए थे। वहां से लौटकर आए तो पता चला कि 22 तोला सोने और 6 किग्रा चांदी के जेवर समेत 10 हजार नकदी गायब है। बच्चों से पूछा तो वे भी परेशान हो गए। उन्होंने ये बताया कि पढ़ाते वक्त टीचर के सिर में अचानक सिर में दर्द होने लगा था। इस पर बेड पर लेट गए और हमें दवा लेने भेज दिया था। इस पर अशोक को आशंका बढ़ गई। उन्होंने पुलिस को भी घटना के संबंध में पूरी जानकारी दी।

बच्चों को बाहर भेजा और जेवर का बैग चोरी कर लिया
पुलिस ने आरोपी आरिफ को पूछताछ के लिए बुलाया तो शुरुआत में उसने अनभिज्ञता जताई। जब सख्ती की गई तो उसने बताया कि उसका दौसा शहर में कोचिंग सेंटर था। कोरोना लॉकडाउन के दौरान बंद हो गया और उसे घाटा लग गया। वह अशोक के घर में बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने के लिए जाता था। इस बीच, मौका मिला तो उसने बच्चों को बाहर भेज दिया और बेड में रखा जेवर का बैग निकाल लिया। इसके बाद बच्चों की छुट्टी करके भाग आया। परिवार के लोग घर पहुंचे तो चोरी की वारदात का पता चला। 

पुलिस ने ये बरामद किया
कोतवाली थाना प्रभारी लाल सिंह ने बताया कि आरोपी आरिफ दौसा में ही जयपुर रोड नेशनल मोटर्स के पीछे रहता है। आरोपी ने चोरी किए गए जेवर से बैंक से गोल्ड लोन भी ले लिया था। चांदी के जेवरों में से कुछ अपने घर रख लिए। कई जेवर सुनार को बेच दिए। आरोपी आरिफ की निशानदेही पर सोने के चार कंगन, दो सेट कानों की झुमकी, सोने का मंगलसूत्र, सोने का बिस्किट, शादी की 2 जोड़ी कणकती, 5 सेट चांदी की पायजेब, एक सेट पैरों के कड़े, चांदी के सिक्के व अंगूठी बरामद की गई हैं।

Jaipur: होटल से फिल्मी स्टाइल में 2 करोड़ के गहने चोरी, मास्टर चाबी से खुलवाई तिजोरी

Shocking:चोरी के वाहन बेचकर बाइक मिस्त्री इकबाल बना करोड़पति, पुलिस ने 40 मिनट में 10 करोड़ की संपत्ति जब्त की

Interesting: बाइक चोरी की रिपोर्ट नहीं लिख रही थी पुलिस, IG मामा ने ट्वीट किया तो चंद घंटे में सही-सलामत मिली

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios