Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान के डूंगरपुर जिले में Corona से दहशत: लगाया गया कर्फ्यू, दूध और दवा की दुकानें भी बंद..तैनात पुलिस

तीन लोगों के संक्रमित मिलने की खबर से डूंगरपुर की मोहम्मदिया कॉलोनी और जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने आनन-फानन में जांच की रफ्तार बढ़ाई और जिनकी रिपोर्ट नहीं आई है उनको दवाई देकर होम आइसोलेट कर दिया गया। वहीं एसडीएम विनीत सुखाडिया ने इलाके में कर्फ्यू  लगाने का आदेश दिया।

Rajasthan dungarpur covid-19 and Omicron fear day night curfew city medical store and milk shop closed
Author
Dungarpur, First Published Dec 4, 2021, 7:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

डूंगरपुर (राजस्थान). कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के भारत में मिलने के बाद कोरोना वायरस (corona virus) की तीसरी लहर के आने की  आशंका बढ़ा दी है। दुनियाभर में यह वैरिएंट जिस रफ्तार से फैल रहा है उसे देखते हुए कई विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिन खतरनाक साबित हो सकते हैं। इसी बीच राजस्थान के डूंगरपुर में दो महिला और एक युवक के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद एक कॉलोनी में दिन में ही  कर्फ्यू (जीरो मोबिलिटी ) लगा दिया गया है। जिसमें किसी के आने-जाने की इजाजत नहीं है। इतना ही नहीं दूध और मेडिकल स्टोर की दुकानें तक बंद करा दी गई हैं।

महिला ने सूरत से लौटकर कराई बेटे की शादी
दरअसल, 1 दिसंबर को कोरोना का पहला केस डूंगरपुर के गलियाकोट में मिला था। यहां की रहने वाली महिला 22 नवंबर को सूरत में सैयदना साहब के दर्शन के लिए गई थी। वो एक दिन बाद ही  23 नवंबर की रात को ही वापस लौटी गई थी। इसके चार दिन बाद उसके बेटे की शादी हुई जिसमें करीब 50 से ज्यादा लोग शामिल हुए थे। फिर महिला की तबीयत खराब हो गई तो उसने अपनी जांच कराई। जहां  1 दिसंबर को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 

26 जून के बाद 1 दिसंबर को सामने आया पहला केस
महिला की जानकारी लगते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम महिला के  घर पहुंची, लेकिन वह फिर से सूरत गई हुई थी। इसके बाद टीम ने उसके परिजनों की जांच कराई तो महिला का बेटा और एक पड़ोसी संक्रमित मिला। दोनों को होम आइसोलेट किया गया है। इसके बाद संक्रमित महिला के कॉलोनी के करीब  230 लोगों की सैंपलिंग लिए गए हैं। जिसमें से दो और लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं कुछ की रिपोर्ट आनी बाकी है। बता दें कि जिले में 26 जून के बाद 1 दिसंबर को कोरोना का यह पहला केस सामने आया है।

एसडीएम ने लगाया कर्फ्यू, दवा तक नहीं मिलेगी
महिला के संक्रमित मिलने की खबर से डूंगरपुर मोहम्मदिया कॉलोनी और जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने आनन-फानन में जांच की रफ्तार बढ़ाई और जिनकी रिपोर्ट नहीं आई है उनको दवाई देकर होम आइसोलेट कर दिया गया। वहीं एसडीएम विनीत सुखाडिया ने तीन केस आने के बाद शुक्रवार शाम को मोहम्मदिया कॉलोनी के आस-पास के इलाके में कर्फ्यू  लगाने का आदेश दिया।  प्रभावित क्षेत्र में पुलिस तैनात कर दी गई है। इस इलाके में किसी को भी आने-जाने की इजाजत नहीं होगी। मेडिकल स्टोर और दूध की दुकानें तक बंद रहेंगी। इलाके के 70 से अधिक लोगों को खांसी-जुकाम की समस्या है, जिन्हें दवा दी गई है।  जरूरी सामान प्रशासन घर-घर पहुंचा रहा है।

देश में Omicron का आया एक और केस: गुजरात में हुई खतरनाक वायरस की एंट्री, अफ्रीका से लौटा था शख्स..

 

Omicron खतरे के बीच दक्षिण अफ्रीका से आए 10 विदेशी नागरिक गायब, खोजने में फूले प्रशासन के हाथपांव

Omicron in india : देश के पहले ओमीक्रोन संक्रमित की रिपोर्ट संदिग्ध, कर्नाटक सरकार ने दिए लैब की जांच के आदेश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios