Asianet News HindiAsianet News Hindi

पढ़ने में अव्वल..लेकिन जिंदगी की जंग हार गई: 'पापा-मम्मी माफ करना यह लिखते ही..MBBS स्टूडेंट ने किया सुसाइड

MBBS सेकंड ईयर की स्टूडेंट ने गर्ल्स हॉस्टल में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी  (suicide) कर ली। फंदा लगाने से पहले लड़की ने अपने माता पिता को एक इमोशनल सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें लिखा-मुझे माफ करना मम्मी पापा मैं आपके भरोसे पर खरी नहीं उतर सकी।

Rajasthan news mbbs student sunita meena committed suicide in barmer medical college
Author
Barmer, First Published Dec 7, 2021, 11:19 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बाड़मेर (राजस्थान). जिंदगी जितनी सुगम और सरल हो गई, लेकिन लोग फिर भी डिप्रेशन के शिकार हो रहे हैं। जरा-जरा सी बातों में इस तरह टेंशन में आ जाते हैं कि वो आत्महत्या करने जैसा कदम उठा लेते हैं। राजस्थान के बाड़मेर से ऐसा ही एक दुखद मामला सामने आया है। जहां एक  MBBS सेकंड ईयर की स्टूडेंट ने गर्ल्स हॉस्टल (Girls Hostel) में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी  (suicide) कर ली। फंदा लगाने से पहले लड़की ने अपने माता पिता को एक इमोशनल सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें लिखा-मुझे माफ करना मम्मी पापा मैं आपके भरोसे पर खरी नहीं उतर सकी।

हॉस्टल की बाकी लड़िकयां सदमें...
दरअसल, दुखद घटना सोमवार देर रात बाड़मेर मेडिकल कॉलेज (barmer medical college) की गर्ल्स हॉस्टल में घटी। जहां झुंझुनूं की रहने वाली छात्रा सुनीता मीणा ने गर्ल्स हॉस्टल के कमरा नंबर 2 में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। हालांकि अभी इस बारे में पता नहीं चल पाया है कि सुनीता आखिर किस वजह से इतना बड़ा कदम उठाया। पुलिस ने हॉस्टल के प्रभारी और अन्य लड़कियों से पूछताछ शुरू कर दी है। वहीं इस घटना से हॉस्टल की अन्य छात्राएं खासकर मृतका की रुम पार्टनर सदमे में हैं।

पापा-मम्मी मुझे माफ करना...में जा रही हूं...
घटना की जानकारी मिलने पर, मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल, बाड़मेर पुलिस मौके पर पहुंची। शव को किसी तरह फंदे से नीचे उतार। वहीं सुनीता ने अपने कमरे की टेबिल पर एक सुसाइड नोट छोड़ा है। जिसमें मरने की वजह तो नहीं लिखी, लेकिन मम्मी पापा के बारे में लिखा है। सुनीता ने लिखा- पापा-मम्मी मुझे माफ करना। मैं आपके विश्वास पर खरा नहीं उतर पाई। आप अपना ध्यान रखना। Sorry मम्मी-पापा, मैं यह कदम उठा रही हूं।

हमेशा हंसती-मुस्कुराती रहती थी वो
बता दें कि कॉलेज प्रिंसिपल के मुताबिक, सनीता पढ़ने में काफी होशियार थी। वह सभी से हंसते हुए बात करती थी, यानि वो मिलनसार थी। वह किसी वजह से परेशान थी, कभी उसने अपनी टेंशन ना तो अपनी सेहलियों के साथ शेयर की और ना ही अपने माता-पिता को बताया।  वह दो-तीन दिन पहले ही अपने गांव से वापस लौटी थी, क्योंकि उसके परिवार में कोई शादी समारोह था। वहीं थानाधिकारी परबतसिंह के ने बताया कि सुनीता ने हॉस्टल के रूम में चुनरी का फंदा बनाकर सुसाइड किया है।  रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है।

यह भी पढ़ें- भोपाल में लेडी डॉक्टर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मरने से पहले सुसाइड नोट में किसी के लिए लिखा-आई लव यू

 

यह भी पढ़ें-मां ने बेटे के साथ मिल काटी बेटी की गर्दन फिर कटे सिर के साथ ली सेल्फी, दहला देगा महाराष्ट्र का शॉकिंग क्राइम

यह भी पढ़ें-शादी करने से प्रेमी ने किया इनकार तो बोली प्रेमिका- 'तीन दिन में नहीं की शादी तो जेल जाने को रहे तैयार'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios