Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान की कलयुगी पत्नी, बेटे के साथ मिलकर उजाड़ दिया सुहाग, पति को जहर खिलाकर ले ली जान

राजस्थान के सीकर में एक मां ने बेटे के साथ मिलकर उजाड़ दिया खुद का ही सुहाग, मृतक के भाई ने कहां कि वारदात में पीहर वालों ने भी मदद की है।

Sikar crime news wife along with son killed her husband sca
Author
Sikar, First Published Jun 30, 2022, 4:08 PM IST

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में एक कलयुगी मां ने बेटे के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। साथ ही मृतक के भाई ने आरोप लगाया है कि पीहर पक्ष ने भी उसकी मदद की। जिन्होंने मिलकर पहले तो पति को जहर खिला दिया। बाद में घर का सारा सामान भी गाड़ी में डालकर फरार हो गए। मामले में मृतक के भाई ने सदर थाने में पत्नी व बेटे सहित पीहर पक्ष के लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करवाया है। जिसके आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पत्नी से चल रहा था झगड़ा
परडोली छोटी निवासी पृथ्वीसिंह पुत्र गणपतराम ने सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। जिसमें उसने बताया कि वह चार भाई है, जो अलग- अलग रह रहे हैं। इनमें दूसरे नम्बर का भाई मोतीलाल पेट्रोल पंप पर काम करता था। जो पिछले 20-25 दिन से घर पर ही था। इस दौरान उसका पत्नी संतोष के साथ झगड़ा होता था। इसी  बीच प्रथ्वीसिंह  27 जून को हरियाणा गया था। तब उसकी भतीजी  सरिता ने फोन कर उसे बताया की उसके पिता मोतीलाल घर के बरामदे में गिरे पड़े हैं। इस पर मृतक के भाई ने अपनी पत्नी सावित्री, पुत्री सुनिता, बड़े भाई सुखदेवा राम व भाभी बिमला को घटना की जानकारी दी। घरवालों ने मौके पर पहुंचकर देखा कि मोतीलाल घायल अवस्था में पड़ा हुआ था। जिसने पत्नी संतोष उर्फ ग्यारसी, बलबीर पुत्र कजोङाराम तथा श्रीचन्द पुत्र रामेश्वरलाल पर उसे जबरन जहर पिलाने की बात कही। हालत गंभीर होने पर उसे सीकर के एसके अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां गंभीर हालत में रेफर करने पर उसने मंगलवार रात को जयपुर में दम तोड़ दिया। रिपोर्ट में बताया कि घटना स्थल से जहरीले पदार्थ की बोतल भी मिली है। जिसे चिकित्सक को दिखाने पर उसमें जहर होने की पुष्टि भी हुई है।  

भाई की पत्नी, बच्चों व सालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग
 मृतक के भाई ने रिपोर्ट में बताया कि उसे भाभी विमला ने बताया कि घटना की रात मोतीलाल की पत्नी संतोष, बेटा कुलदीप, भाई श्रीचन्द व महेन्द्र, बहन सरला व बलबीर सहित ससुराल के अन्य 10-15 लोग गाड़ी लेकर घर आए थे। जिन्होंने भाई मोतीलाल को मारा व घर से मवेशी व सारा सामान भी गाड़ियों में भरकर ले गए। मृतक के भाई ने अपनी भाभी संतोषी, उसके भतीजे और भाई के सालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है, साथ ही आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

यह भी पढ़े- राजस्थान में रूह कंपाने वाली घटना: मां ने 9 माह के बेटे की गर्दन कटर से काटी, फिर खुद का गला काटा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios