Asianet News HindiAsianet News Hindi

rajasthan weather report:राजस्थान के 7 जिलों में भारी बारिश तो वहीं 17 डिस्ट्रिक्ट में मीडियम बरसात का अलर्ट

राजस्थान में मानसून ने दस्तक तो दे दी है लेकिन फिर भी कहीं छिटपुट तो कहीं न के बराबर बारिश है जिसके कारण गर्मी और उमस बनी हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर ने गुरुवार और शुक्रवार 1 जुलाई के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है..

weather update medium to heavy rainfall alert in rajasthan state sca
Author
Jaipur, First Published Jun 30, 2022, 11:16 AM IST

जयपुर (jaipur). राजस्थान में मानसूनी गतिविधियां गुरुवार, 30 जून को तेज हो जाएगी। इस दौरान प्रदेश के सात जिलों में भारी से अति भारी तथा 17 जिलों में हल्की से मध्यम बरसात होगी। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर ने प्रदेश में बरसात को लेकर पूर्वी जिलों में  ऑरेंज व पश्चिमी जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को पूर्वी राजस्थान के अजमेर, भरतपुर, जयपुर, उदयपुर व कोटा तथा पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर व जोधपुर जिलों में बरसात होने की संभावना है।

आज यहां होगी बरसात
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार गुरुवार को पूर्वी राजस्थान के अलवर, भरतपुर, धोलपुर, दौसा, जयपुर, करौली व सवाईमाधोपुर जिलों में कहीं कहीं भारी बरसात तथा एक दो स्थानों पर भीषण बारिश की संभावना है। बादल गरजने व बिजली गिरने की संभावना के साथ इस दौरान 30 से 40 किमी प्रति घंटे की गति से हवाएं चलेगी। इसी तरह सीकर, झुंझुनूं, अजमेर, कोटा, बूंदी, बारां, झालावाड़, उदयपुर, डुंगरपुर, चित्तोडगढ़़ व भीलवाड़ा जिलों में भी तेज हवाओं के साथ कुछ स्थानों पर भी हल्की से मध्यम बरसात का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया  है। जबकि येलो अलर्ट के मुताबिक पश्चिमी राजस्थान के चूरू, नागौर, पाली, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ व जालौर जिलों में 30 से 40 किमी गति की हवाओं के साथ कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बरसात की संभावना है।

कल यहां हल्की से भीषण बरसात
मौसम विभाग के अनुसार मानसून प्रदेश में शुक्रवार, 1जुलाई को भी सक्रिय रहेगा। इस दौरान पूर्वी राजस्थान के अजमेर, अलवर, भरतपुर, दौसा व टोंक में भारी व कुछ इलाकों में अति भारी बरसात की संभावना है। जबकि करौली, सवाईमाधोपुर, धोलपुर, राजसमन्द, कोटा, बूंदी, बारां, झालावाड़, सीकर, झुंझुनूं व भीलवाड़ा जिलों में 30 से 40 किमी प्रति घंटे की गति से हवाओं के साथ बारिश होने की संभावना है। वहीं, पश्चिमी राजस्थान में चूरू, नागौर व पाली जिलों में  30 से 40 किमी गति की हवाओं के साथ कुछ स्थानों पर भारी बरसात तथा गंगानगर, हनुमानगढ़ व बीकानेर जिलों में इसी गति की हवा के साथ कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है।

गर्मी भी बरकरार
इधर, मानसून के आगमन के बाद भी प्रदेश में गर्मी का असर बरकरार है। जिन जिलों में बरसात नहीं या छिटपुट हुई है वहां उमस ने आमजन को बेहाल कर दिया है। इस बीच बुधवार को सबसे गर्म जिला पश्चिमी राजस्थान में 44.5 डिग्री अधिकतम तापमान के साथ चूरू जिला रहा। जबकि पूर्वी राजस्थान में पिलानी 44 डिग्री अधिकतम तापमान के साथ सबसे गर्म जिला रहा।

यह भी पढ़े-  राजस्थान में यूं फटे बादल: रेतीले धोरों में चलानी पड़ गई नाव, घर में घुसा पानी तो छत पर गुजारी रात

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios