ना वो बोल सकता है और ना ही सुन सकता है, फिर भी 25 साल की लड़की का 52 साल के शख्स पर आया दिल

| Nov 29 2022, 09:31 AM IST

ना वो बोल सकता है और ना ही सुन सकता है, फिर भी 25 साल की लड़की का 52 साल के शख्स पर आया दिल

सार

कहते हैं मोहब्बत सिर्फ दिल से होती है फिर चाहे पार्टनर की उम्र, उसका रूप रंग, जात पात कुछ भी हो यह नहीं देखती। कुछ ऐसी ही मोहब्बत की कहानी आज हम आपको बताते हैं।

रिलेशनशिप डेस्क : अगर आपका पार्टनर आपसे एक दिन, 2 दिन बाद ना करें और आपकी बात सुने भी नहीं तो आपको कैसा लगेगा? आप शायद उससे मुंह फुला कर बैठ जाएंगे और कहेंगे कि आप मुझसे प्यार नहीं करते। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी लव स्टोरी के बारे में बताते हैं जहां पर एक शख्स ना ही बोल पाता था, ना ही सुन पाता था, लेकिन उसकी पार्टनर को कभी उससे शिकायत नहीं हुई, बल्कि दोनों का प्यार आज मिसाल बन गया है। तो चलिए हम आपको बताते हैं 25 साल की जूबिया और 52 साल के कादिर की इस लव स्टोरी के बारे में....

भाई के दोस्त पर आया दिल 
ये लव स्टोरी है पाकिस्तान की, जहां 25 साल की जूबिया को अपने बड़े भाई के दोस्त कादिर से प्यार हो गया। कादिर अक्सर जूबिया के घर आते लेकिन ना तो वो बोल सकते और ना ही सुन सकते सिर्फ आंखों-आंखों में ही दोनों की मोहब्बत शुरू हो गई। कादिर जूबिया से उम्र में दोगुना से ज्यादा बड़े हैं, लेकिन कहते हैं ना जब प्यार होता है तो ना उम्र की सीमा होती है ना जन्म का बंधन होता है।

Subscribe to get breaking news alerts

ऐसे हुई प्यार की शुरुआत
जूबिया के माता पिता की मौत पहले ही हो चुकी थी। उनके बड़े भाई ही उनकी देखभाल करते थे और वो उन्हें अपने पिता की तरह ही मनाती थी। लेकिन कुछ समय पहले उसके बड़े भाई की भी मौत हो गई हो। जिससे वह बिल्कुल अकेली हो गई ऐसे में कादिर ने उसका हाथ थामा और हर मुश्किल वक्त में उसका साथ दिया। जूबिया को कादिर की यही बात भा गई और उन्होंने ही शादी के लिए कादिर को प्रपोज किया। क्योंकि कादिर कुछ बोल और सुन नहीं पाते थे, इसलिए जूबिया ने इशारों में ही कादिर से निकाह करने की बात कही, जिसपर कादिर ने भी हां कर दिया।

दिव्यांग होने के बाद भी काम से समझौता नहीं 
कादिर के बारे में जूबिया बताती हैं कि कादिर बहुत मेहनती हैं। वह एक बिजनेसमैन है। भले ही वह दिव्यांग है लेकिन अपने बिजनेस के साथ कोई समझौता नहीं करते हैं। वहीं, जूबिया भी एक टीचर है। वह कहती हैं कि कादिर इतने साफ दिल के हैं कि जब भी उनके बड़े भाई का जिक्र होता है तो उनकी आंखें भर आती है। आज कादिर और जूबिया शादी करके एक खुशहाल जिंदगी जी रहे हैं और उन्हें कभी इस बात का कोई दुख नहीं होता कि उनके पार्टनर बोल या सुन नहीं सकते।

और पढ़ें: प्रिंसिपल ही बना दरिंदा आठवीं की छात्रा के साथ पहले बच्चों ने फिर हेड मास्टर ने किया रेप

जरूरी नहीं की हर कोई 'आफताब' हो...रिश्ते में ये 6 चीज अच्छे पुरुष अपने साथी से कभी नहीं करते