Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंधी थी तब उसने प्यार किया, जब आंखों की रोशनी आई तो बदल गई दुनिया

ब्लाइंड लड़की से मोहब्बत और उसे पूरी तरह निभाना बहुत ही कम लोग कर सकते हैं। फिल्मों में ही इस तरह की कहानियां देखने को मिलती है। लेकिन रियल लाइफ में जब यह होते हुए दिखता है तो लोग बोल उठते हैं प्यार हो तो ऐसा। 

love story woman who regained sight after surgery said He was more handsome than I could have imagined NTP
Author
Delhi, First Published Aug 24, 2022, 1:24 PM IST

रिलेशनशिप डेस्क. सोफिया (Sophia Corah) और क्रिश्चिन (Christian Corah) ने प्यार का असली मतलब दुनिया को बताया। सोफिया जो 18 साल की उम्र में अपनी आंखों की रोशनी खो दी थी उनसे टूट कर क्रिश्चिन ने मोहब्बत किया और उनकी आंखों की रोशनी वापस लाने में बड़ी भूमिका निभाई। ऐसी लव स्टोरी फिल्मों के अलावा बहुत ही कम देखने और सुनने को मिलती है। चलिए खूबसूरत लव स्टोरी सोफिया की जुबानी सुनाते हैं।

अमेरिका में रहने वाली 24 साल की सोफिया की आंखों की रोशनी चली गई थी। 18 साल की उम्र में उसे केराटोकोनस (Keratoconus) की बीमारी हो गई थी। धीरे-धीरे उसके आंखों की रोशनी चली गईं। अगस्त 2017 में सोफिया को कानूनी रूप से ब्लाइंड घोषित कर दिया था। आंखों की रोशनी चले जाने के बाद सोफिया छह महीने तक रोती रहीं। उन्हें डर था कि वह अपने भविष्य के बच्चों के चेहरे कभी नहीं देख पाएंगी।

मनोविज्ञान की पढ़ाई के दौरान उससे हुई मुलाकात

लेकिन धीरे-धीरे वो अपने अंधेपन को स्वीकार किया और कोलोराडों में एक यूनिवर्सिटी से मनोविज्ञान की पढ़ाई करने के लिए एडमिशन लीं। यहां पर पढ़ाई के दौरान उनकी मुलाकात क्रिश्चियन कोरा से हुई। दोनों की दोस्ती हो गई। सोफिया बताती हैं कि जब मैं अंधी थी तब वो मेरे साथ हमेशा रहा। मेरा ख्याल रखता था और मुझे स्पेशल महसूस कराता था।

क्रिश्चियन ने सोफिया के आंखों की सर्जरी कराई

क्रिश्चियन सोफिया को प्यार करने लगा था। वो उसके आंखों की रोशनी वापस लाने के लिए काफी रिसर्च की। उसने खोजा कि एक सर्जरी के जरिए उसकी आंखों की रोशनी वापस लाई जा सकती है। लेकिन इस सर्जरी में काफी पैसा लगता। 12 लाख के करीब ( £ 16,000) ट्रीटमेंट में लगते। क्रिश्चियन ने ट्रीटमेंट के लिए फंड जुटाए और उसकी आंखों की रोशनी वापस लेकर आया।

वो मेरे ख्यालों से ज्यादा सुंदर था

अक्टूबर 2018 में उनकी सर्जरी हुई। धीरे-धीरे सोफिया के आंखों की रोशनी वापस आ गई। अगस्त 2019 में उनके आंखों की रोशनी वापस आ गई। डॉक्टर ने जब उससे पूछा कि वो सबसे पहले किसे देखना चाहती है तो उसने क्रिश्चियन का नाम लिया। जब वो उसके सामने आया तो उसे देखकर सोफिया हैरान रह गईं। उसने बताया कि जितना मैंने अपनी कल्पनाओं में उसे खूबसूरत समझ रखा था वो उससे कई गुना ज्यादा सुंदर था।

प्यार के बाद शादी की 

मैं उसके प्यार में गिर गई थी। वहीं, क्रिश्चियन बताते हैं कि जब वो सोफिया से पहली बार मिले तभी उन्हें उनसे प्यार हो गया था। वो एक मजबूत लड़की थी। उसने अपने अंधेपन को कभी बहाने के तौर पर इस्तेमाल नहीं किया।  अक्टूबर 2020 में दोनों डेट करने लगे और जनवरी 2021 में शादी कर लीं। सोफिया कहती हैं कि आंखों की रोशनी जाने से लेकर क्रिश्चियन से मिलने और शादी करने का सफर अद्भुत है। 

और पढ़ें:

मेनोपॉज ने एहसास कराया कि मैं अपने पति से नफरत करती हूं, पढ़ें एक औरत की दिल को छूने वाली कहानी

ब्लैक डायरी: तलाकशुदा महिला ने कई बार किया फोन सेक्स लेकिन अब...

मैरेज लाइफ में ताउम्र भरना है रोमांच, तो कम सेक्स समेत इन 6 स्टेप को करें फॉलो

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios