Asianet News Hindi

लॉकडाउन में इन 5 बातों का रखें ख्याल, रिलेशनशिप में नहीं आएगी कड़वाहट

लंबे समय तक पार्टनर हमेशा एक साथ घर में रहें तो कई बार छोटी-छोटी बातों पर तकरार शुरू हो जाती है। वैसे भी लॉकडाउन में लोग टेंशन में रहने लगे हैं, इसलिए मामूली बातों पर उनमें चिढ़ पैदा हो सकती है। 
 

Take care of these 5 things in lockdown, bitterness will not come in relationship MJA
Author
New Delhi, First Published Apr 15, 2020, 6:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
रिलेशनशिप डेस्क। लंबे समय तक पार्टनर हमेशा एक साथ घर में रहें तो कई बार छोटी-छोटी बातों पर तकरार शुरू हो जाती है। वैसे भी लॉकडाउन में लोग टेंशन में रहने लगे हैं, इसलिए मामूली बातों पर उनमें चिढ़ पैदा हो सकती है। छोटी और मामूली बातों से हुई शुरू हुई तकरार लड़ाई का रूप ले सकती है। इससे रिश्ते में कड़वाहट का पैदा हो जाना स्वाभाविक है। इससे हर हाल में बचने की कोशिश करनी चाहिए। लॉकडाउन के इन बोरियत भरे दिनों में कैसे हंसी-खुशी के साथ समय बिता सकते हैं, इसके लिए जानें कुछ टिप्स।

1. पार्टनर का रखें हमेशा ख्याल
घर में रहने के दौरान पार्टनर का हमेशा ख्याल रखें। उसे किसी तरह की कोई परेशानी तो नहीं हो रही है, इसके बारे में जरूर पूछें। यह आप जानते हैं कि पार्टनर ठीक से है, फिर भी जब आप यह पूछेंगे तो उसे महसूस होगा कि आप केयरिंग हैं। इससे पार्टनर का भरोसा आप पर बढ़ेगा।

2. बहस करने से बचें
कुछ लोगों को किसी भी बात पर बहस करने की आदत होती है। रिलेशनशिप ठीक रखने के लिए इस आदत से बचना चाहिए। जरूरी नहीं कि हर बात पर आपमें और पार्टनर में सहमति ही हो। इसलिए किसी भी बात को बहस का मुद्दा नहीं बनाएं। हर समय इस बात का ध्यान रखें कि ऐसी बात नहीं बोलें जो पार्टनर को बुरी लग सकती हो।

3. घरेलू काम में करें मदद
अक्सर पुरुष घर के कामों में पार्टनर की मदद नहीं करते। यह गलत है। जब आपके पास काफी समय है तो सारे घरेलू काम पार्टनर के जिम्मे नहीं छोड़ें। घर की साफ-सफाई से लेकर दूसरे ऐसे कई काम है, जिसमें आप पार्टनर की मदद कर सकते हैं। इससे आपके संबंध अच्छे होंगे।

4. अलग नजरिए को महत्व दें
बहुत से लोगों की आदत होती है कि वे अपनी राय पार्टनर पर थोपने की कोशिश करते हैं। वे सोचते हैं कि उनकी हर बात पार्टनर को माननी चाहिए। यह गलत है। सबका अपना एक स्वतंत्र व्यक्तित्व होता है। सबका नजरिया भी अलग होता है। इसलिए आप पार्टनर के नजरिए को महत्व दें। जरूरी नहीं कि हर मुद्दे पर आपकी राय एक हो। 

5. कड़वी बातों की याद नहीं दिलाएं
कई बार इंसान पुरानी बातों की चर्चा करने लगता है। इनमें कुछ अच्छी बातें होती हैं तो कुछ बेहद कड़वी, जिनकी याद से ही मन खराब होने लगता है। ऐसी बातों की चर्चा करने से बचें। अगर बातचीत के दौरान ऐसे प्रसंग आते हैं, तो उनसे किनाराकशी कर लें और दूसरी बातें करें। ऐसा नहीं करने पर बेकार में मूड खराब हो सकता है।  

 
Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios