दर्दनाक हादसाः अचानक धमाके के बाद आग का गोला बन गई कार, चालक कुछ समझ पाता तब तक बॉडी हो गई राख

| Mar 27 2023, 08:37 PM IST

accident

सार

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ शहर से दर्दनाक हादसा सामने आया है। सोमवार के दिन एक कार में अचानक हुए धमाके में आग लगने के बाद ड्राइवर उसमें फंसा रह गया जिससे कि उसकी दर्दनाक तरीके से मौत हो गई। जब तक मदद पहुंची वाहन में केवल बची राख।

चित्तौड़गढ़ (chittorgarh news). दर्दनाक हादसे की खबर राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले सामने आई है। शहर के आछोडा चौराहा के समीप बस्सी हाईवे पर एक कार में अज्ञात कारणों से आग लग गई। जिसमें उसे चला रहा ड्राइवर शिकार हो गया और दर्दनाक तरीके से मौत हो गई। वाहन में अचानक लगी आग में उसमें सवार एक व्यक्ति जिंदा जल गया। घटना शहर के कोतवाली थाना इलाके में हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

तेज धमाके के साथ कार में लगी आग

घटना की जांच कर रही कोतवाली थाना पुलिस ने बताया कि सेमलपुरा ग्राम पंचायत के सूरजना निवासी मदनलाल धाकड़ आज सवेरे बस्सी हाईवे पर नगरी जाने वाले रास्ते से होकर गुजर रहा था। सुबह 5 बजे के करीब सेमलपुरा मोड की तरफ आने के दौरान अचानक कार मे तेज धमाका हुआ और कार के अगले हिस्से में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने पूरी कार को चपेट में ले लिया।

आग का गोला बनी कार, फंसा रह गया चालक

हादसे के समय कार चला रहा मदन लालन अपने वाहन से बाहर नहीं निकल सका और आग की लपटों में घिर गया। इस हादसे की वजह से वह अंदर ही जिंदा जल गया। घटना के आसपास के लोगों ने देखा और पुलिस को इसके बारे में जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि मृतक एक होटल कारोबारी था और किसी काम की वजह से सुबह के समय अपनी कार लेकर निकला था।

भजन कर रहे लोगों ने देखा, जब तक आग बुझी तो सब हुआ खत्म

जिस समय आगजनी की घटना हुई उस वक्त गांव के कुछ लोग सेमलपुरा मोड के बालाजी मंदिर में भजन संध्या में मौजूद थे। धमाके की आवाज सुन घटनास्थल पर पहुंचे और वाहन में आग लगी देख बुझाने का कोई साधन ना मिलने पर पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही पुलिस के साथ फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी मौके पर मंगवाई गई और आग बुझाई। आग इतनी भीषण थी कि पुलिस व ग्रामीण आग बुझने से पहले वाहन के पास तक नहीं जा पाए। आग बुझने पर ग्रामीणों और पुलिस ने जब कार में देखा तो चालक की सीट पर चालक मृत बरामद हुआ।

एक्सीडेंट के बाद लगी होगी आग

कार चालक की सीट पर केवल हड्डियां पड़ी हुई थी। पुलिस को मृतक की पहचान कार नबंर के आधार पर हुई। पुलिस को हाईवे पर दूसरी कार के टायरों के निशान भी मिले। पुलिस को आशंका है कि टक्कर के बाद चालक बेहोश हो गया होगा जिसके चलते वह वाहन से बाहर नहीं निकल पाया और हादसे का शिकार हो गया। वास्तविक कारण पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगी। पीएम के लिए पुलिस ने हड्डियों के अवशेष मॉर्चरी में रखवाए है।

चित्तौड़गढ़ पुलिस ने जब घटना की जानकारी परिवार को दी तो वहां चीख पुकार मच गई। पूर घर में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने आईपीसी की धाराओं के तहत केस दर्ज जांच शुरू कर दी है।

इसे भी पढ़े- हरियाणा में जुनैद-नासिर को जिंदा जलाने का मामला: जयपुर में बड़े आंदोलन की चेतावनी, चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस