Weather Forecast  

(Search results - 24)
  • undefined

    NationalJul 6, 2021, 8:49 AM IST

    GOOD NEWS: 'भटका मानसून' रास्ते पर आया, 10 जुलाई से मध्य और उत्तर भारत में बारिश की उम्मीद

    कई दिनों से भटका हुआ मानसून अब रास्ते पर आ रहा है। मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि 10 जुलाई से मानसून पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में पहुंच जाएगा। 

  • undefined

    NationalJun 14, 2021, 10:52 AM IST

    चंद घंटे में देश के 20 से अधिक राज्यों में छा जाएगा मानसून, बंगाल के शिबपुर में अस्थायी पुल बहा

    मानसून धीरे-धीरे भारत को कवर कर रहा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में 20 से अधिक राज्यों में इसके प्रवेश की भविष्यवाणी की है। मुंबई में तेज बारिश से लोगों को राहत मिली है, लेकिन एक बार फिर मुंबई के अलावा, ठाणे, पालघर, रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। दिल्ली में मंगलवार तक मानसून पहुंचने की संभावना जताई गई है। 
     

  • undefined

    NationalJun 10, 2021, 9:44 AM IST

    मानसून की पहली ही बारिश में 'डूब' गई मुंबई, जल्द आधे भारत को कवर कर लेगा, ये है मौसम विभाग की भविष्यवाणी

    दक्षिण-पश्चिम मानसून हफ्तेभर के अंदर देश के आधे राज्यों को कवर कर लेगा। इधर, बुधवार को मुंबई में मानसून ने धांसू तरीके से प्रवेश किया। हालत यह है कि ज्यादातर निचले हिस्सों में पानी भरा हुआ है। यहां आज भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके साथ ही मानसून अपनी गति से देश के बाकी राज्यों की ओर बढ़ रहा है।

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshMay 30, 2021, 6:55 PM IST

    MP के कई हिस्सों में बारिश:तेज हवा के साथ राजधानी भोपाल में बरसे मेघा

    वीडियो डेस्क।  मध्यप्रदेश में नौतपा के बीच बारिश और आंधी का सिलसिला जारी है। रविवार शाम5 बजे के बाद भोपाल, सागर और होशंबाबाद में तेज हवा के साथ बरसात हुई।  कई हिस्सों में चली आंधी किसानों के लिए आफत बन कर आई। आंधी चलने से किसानों की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। आंधी चलने से बुरहानपुर और खरगोन में लाखों केले के पौधे गिर गए। इसके साथ ही मूंग और गन्ने की फसल भी बुरी तरह नष्ट हो गईं। मौसम विभाग ने अगले दो दिन प्रदेश के कई हिस्सों में तेज हवा के साथ बारिश की संभावना जताई है।  वहीं, अगर कल मानसून केरल पहुंच जाता है तो 17 जून तक मध्यप्रदेश में उसके पहुंचने की उम्मीद है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक ताऊ ते और यास तूफान मानसून के लिए लिए अनुकूल रहे। इसकी वजह से तय समय पर मानसून के आने की संभावना है।
     

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshMay 29, 2021, 5:28 PM IST

    नौतपा के दिनों में झीलों की नगरी का बदला मौसम, तेज हवा के साथ झमाझम बारिश


    वीडियो डेस्क। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज दिन प्रतिदिन बदलता जा रहा है, नौतपा के दिनों में भी प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश का सिलसिला जारी है।   राजधानी भोपाल समेत कई हिस्सों में तेज हवाओं और गरज चमक के साथ बारिश हुई।  मौसम विभाग के मुताबित कि उत्तर-पश्चिम राजस्थान से उत्तर-पूर्वी मध्यप्रदेश तक एक ट्रफ लाइन बनी हुई है, इसलिए नमी आने से बादल बन रहे है जिसकी वजह से राजधानी भोपाल, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, जबलपुर और शहडोल संभाग में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश का अनुमान जताया था। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटे में कई जगह बारिश और बूंदाबांदी दर्ज की गई। मौसम विभाग ने बताया कि मध्यप्रदेश के इंदौर में 23.2 एमएम, उज्जैन में 42.0 एमएम, सीधी में 2.4 एमएम और शाजापुर में बूंदाबांदी दर्ज की गई है।
     

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshMay 28, 2021, 8:30 PM IST

    MP में यास तूफान का असर: उज्जैन में तेज आंधी के साथ ओले गिरे, कई पेड़ गिरे

    वीडियो डेस्क। यास तूफान को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। उज्जैन में तेज बारिश हुई है। हवाएं भी चलीं। यहां तेज आंधी के कारण कई पेड़ धराशाई हो गए। मकानों की छत के चद्दर उड़ने के भी समाचार है। अभी भी तेज बारिश का दौर जारी है।यास तूफान का असर विंध्य और महाकौशल के करीब 13 लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में खरीदी केंद्रों में उपार्जन कार्य स्थगित करते हुए गोदामों में गेहूं को सुरक्षित रखाने के निर्देश खाद्य और नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण संचालनालय ने जारी किया है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalMay 26, 2021, 7:32 PM IST

    तूफान 'यास' से बेघर हुए कई लोग, बुजुर्ग महिला का रेस्क्यू कर बचाई जिदंगी

    वीडियो डेस्क। अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी में बना तूफान 'यास' ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराकर भयंकर रूप ले चुका है।   पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के दीघा में यास तूफान के टकराने के बाद दक्षिण 24 परगना जिले में इसकी तबाही देखी जा रही है। रूपनारायण नदी ने हावड़ा जिले के क्षेत्र में बाढ़ ला दी। हावड़ा जिले के रहवासी इलाके में  बाढ़ का पानी घुस गया है। इलाके में पानी घुसने के बाद 500 से ज्यादा मकान जलमग्न हो गए हैं।  तूफान से बचाने  लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। 
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalMay 26, 2021, 5:56 PM IST

    पश्चिम बंगाल में चक्रवात यास का रौद्र रूप, गंगासागर तट पर कपिलमुनि मंदिर में घुसा पानी

    वीडियो डेस्क।  अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी में बना तूफान 'यास' ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराकर भयंकर रूप ले चुका है।  पश्चिम बंगाल  में यास तूफान के टकराने के बाद तबाही देखी जा रही है। अब दक्षिण 24 परगना के गंगा सागर तट पर स्थित ऐतिहासिक कपिल मुनि मंदिर के अंदर समुद्र का पानी प्रवेश कर चुका है। यह काफी ऊंचाई पर स्थित है और इस मंदिर में पानी कभी नहीं घुसता। यहां आसपास रहने वाले लोग पशुओं को लेकर इधर-उधर भागते और जान बचाते नजर आ रहे हैं। बता दें कि गंगासागर तट पर स्थित कपिलमुनि मंदिर ऊंचे स्थान पर है, लेकिन वहां भी समुद्र का पानी पहुंच गया है। गंगासागर में कपिल मुनि मंदिर के नीचे तक समुद्र का पानी पहुंच चुका है। आज सुबह तक मंदिर में रहने वाले लोग थे। वे मंदिर छोड़ने को तैयार नहीं थे लेकिन धामरा में लैंडफॉल के बाद समुद्र का पानी बढ़ने लगा और गांव दर गांव जलमग्न होने लगे हैं तो प्रशासन ने उन्हें फौरन हटा दिया है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalMay 26, 2021, 5:14 PM IST

    पश्चिम बंगाल में तूफान यास का भयानक मंजर, बांध टूटने से फंसी कई लोगों की जान

    वीडियो डेस्क। अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी में बना तूफान 'यास' ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराकर भयंकर रूप ले चुका है।   पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के दीघा में यास तूफान के टकराने के बाद दक्षिण 24 परगना जिले में इसकी तबाही देखी जा रही है. जिले के गंगासागर स्थित कपिलमुनि मंदिर तक पहुंच गया है. जिसके बाद कपिलमुनि मंदिर पानी से भर गया है. यही नहीं, इलाके में पानी घुसने के बाद 500 से ज्यादा मकान जलमग्न हो गए हैं।  तूफान से बचाने  लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। तूफान के कारण समुद्र की लहरें उछाल भर रही हैं। तूफान यास ने समुद्र तटों के किनारे बसे गांवों में तबाही मचाना शुरू कर दी है। लोग जो सामान समेट सकते हैं, उसे लेकर भाग रहे हैं। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalMay 26, 2021, 3:43 PM IST

    VIDEO: तूफान 'यास ' में चली ऐसी हवा कि देखते ही देखते उड़ गई रिसोर्ट की छत

    वीडियो डेस्क। अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी में बना तूफान 'यास' ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराकर भयंकर रूप ले चुका है।   पश्चिम बंगाल  के मंदारमणि के एक रिसोर्ट की है। तूफानी हवाओं की चपेट में आकर इसकी छत तक उड़ गई।
    वहीं  मिदनापुर में सड़कें नदियां बन गईं और कारें बहने लगी हैं। चक्रवात तूफानी हवाओं के साथ उत्तर और उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ता जा रहा है। हवाओं की गति 150 किमी/घंटे से भी ऊपर है। तूफान से बचाने करीब 12 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। तूफान के कारण समुद्र की लहरें उछाल भर रही हैं। तूफान यास ने समुद्र तटों के किनारे बसे गांवों में तबाही मचाना शुरू कर दी है। लोग जो सामान समेट सकते हैं, उसे लेकर भाग रहे हैं। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalMay 26, 2021, 3:20 PM IST

    चक्रवात तूफान 'यास' का तांडव, सड़कें नदियां बनी और बहने लगी कारें


    वीडियो डेस्क। अंडमान के उत्तरी भाग और पूर्वी-मध्य बंगाल की खाड़ी में बना तूफान 'यास' ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराकर भयंकर रूप ले चुका है।  पश्चिम बंगाल के  मिदनापुर में सड़कें नदियां बन गईं और कारें बहने लगी हैं। चक्रवात तूफानी हवाओं के साथ उत्तर और उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ता जा रहा है। हवाओं की गति 150 किमी/घंटे से भी ऊपर है। तूफान से बचाने करीब 12 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। तूफान के कारण समुद्र की लहरें उछाल भर रही हैं। तूफान यास ने समुद्र तटों के किनारे बसे गांवों में तबाही मचाना शुरू कर दी है। लोग जो सामान समेट सकते हैं, उसे लेकर भाग रहे हैं। 

  • undefined

    HaryanaJan 20, 2021, 5:34 PM IST

    एक गलती कर बैठे और नींद में ही मर गया पूरा परिवार, सावधान अगर आप ने किया ऐसा तो बच नहीं पाएंगे

    पंजाब और हरियाणा में ऐसे कई मामले हर साल में आते हैं, लेकिन इसके बावजूद भी लोग इनसे कोई सबक नहीं लेते हैं। डॉक्टरों का भी कहना है कि कोई भी ऐसी गलती नहीं करे, क्योंकि अंगीठी जलाकर सोना यानि मौत को बुलाना है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJan 13, 2021, 11:38 AM IST

    उत्तर भारत आया शीतलहर की चपेट में, पड़ेगी जबरदस्त ठंड

    तापमान गिरने से उत्तर भारत का मैदानी इलाका अगले चार दिन जबर्दस्त शीत लहर की चपेट में रहेगा। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को मौसम का मिजाज बिगड़ने को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया। इस दौरान मैदानी भागों में न्यूनतम तापमान के सामान्य से 2-5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे जाने की संभावना है। उधर, तमिलनाडु और पुडुचेरी में जबर्दस्त बारिश को लेकर भी ऐसा ही अलर्ट जारी किया गया है।

  • <p>देश के अलग-अलग हिस्सों में ठंड का कहर जारी है। पिछले 2 दिनों से बढ़ी भीषण ठंड ने लोगों का घर से निकलना मुश्किल कर दिया है। कई राज्यों में कोहरे और शीतलहर का प्रकोप देखने को मिला।</p>

    NationalDec 19, 2020, 1:31 PM IST

    कड़ाके की ठंड से देश के कई हिस्सों में अलर्ट जारी, कई इलाकों में बारिश व तूफान का भी खतरा

    श के अलग-अलग हिस्सों में ठंड का कहर जारी है। पिछले 2 दिनों से बढ़ी भीषण ठंड ने लोगों का घर से निकलना मुश्किल कर दिया है। कई राज्यों में कोहरे और शीतलहर का प्रकोप देखने को मिला।

  • undefined

    Madhya PradeshDec 12, 2020, 12:20 PM IST

    मध्य प्रदेश में बदला मौसम का मिसाज: कई शहरों में हुई बारिश, विभाग ने दी यह चेतावनी...

    भोपाल. मध्य प्रदेश में अचानक मौसम का मिजाज बदल गया है। पिछले 24 घंटे में बारिश से प्रदेश के कई शहरों में बारिश हुई, जिसकी वजह से ठंड बढ़ गई है। कहीं रिमझिम बारिश हुई तो कहीं झमाझम। सबसे ज्यादा बारिश खंडवा में 12 मिमी रिकॉर्ड की गई। वहीं इंदौर में 10.1 मिमी बारिश हुई। भोपाल में 6.7 और ग्वालियर में भी 5 मिमी बारिश हुई।