Yes Bank  

(Search results - 73)
  • undefined

    BusinessMar 17, 2021, 12:35 PM IST

    Yes Bank के को-फाउंडर रहे राणा कपूर का बंगला हुआ नीलाम, 114 करोड़ रुपए लगी बोली

    यस बैंक (Yes Bank) के को-फाउंडर रहे राणा कपूर (Rana Kapoor) के दिल्ली स्थित बंगले को इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस (Indiabulls Housing Finance) ने 114 करोड़ रुपए में नीलाम कर दिया है।

  • बिजनेस डेस्क। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने एटीएम ट्रांजैक्शन (ATM Transaction) से संबंधित नियम में बदलाव किया है। अब अगर बैंक कस्टमर के अकाउंट में पर्याप्त राशि नहीं है और वह एटीएम से पैसे निकाल रहा है, तो ट्रांजैक्शन फेल होने की स्थिति में उसे पेनल्टी देनी होगी। बता दें कि आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank), एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank), कोटक महिन्द्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank), एक्सिस बैंक (Axix Bank) और यस बैंक (Yes Bank) में यह नियम पहले से लागू है। अब स्टेट बैंक ने भी यह नियम लागू कर दिया है। जानें एटीएम ट्रांजैक्शन फेल होने पर कितनी देनी होगी पेनल्टी और इससे क्या जुड़े हैं रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के नियम। (फाइल फोटो)

    BusinessFeb 9, 2021, 11:24 AM IST

    SBI ने नियम में किया बदलाव, अब ATM से ट्रांजैक्शन फेल होने पर देनी होगी पेनल्टी

    बिजनेस डेस्क। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने एटीएम ट्रांजैक्शन (ATM Transaction) से संबंधित नियम में बदलाव किया है। अब अगर बैंक कस्टमर के अकाउंट में पर्याप्त राशि नहीं है और वह एटीएम से पैसे निकाल रहा है, तो ट्रांजैक्शन फेल होने की स्थिति में उसे पेनल्टी देनी होगी। बता दें कि आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank), एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank), कोटक महिन्द्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank), एक्सिस बैंक (Axix Bank) और यस बैंक (Yes Bank) में यह नियम पहले से लागू है। अब स्टेट बैंक ने भी यह नियम लागू कर दिया है। जानें एटीएम ट्रांजैक्शन फेल होने पर कितनी देनी होगी पेनल्टी और इससे क्या जुड़े हैं रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के नियम। (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pamdemic) के बाद से लोगों में हेल्थ को लेकर जागरूकता बढ़ी है। हेल्थकेयर स्कीम्स में अब लोग पहले की तुलना में ज्यादा इन्वेस्ट भी करने लगे हैं। अभी हाल ही में प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक (Yes Bank) ने अपने कस्टमर्स के लिए वेलनेस क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है। इसके लिए बैंक ने आदित्य बिड़ला वेलनेस प्राइवेट लिमिटेड (Aditya Birla Wellness Private Limited) के साथ एक समझौता किया है। बैंक ने यस बैंक वेलनेस (Yes Bank Wellness) और यस बैंक वेलनेस प्लस  (Yes Bank Wellness Plus) नाम के दो क्रेडिट कार्ड को लॉन्च किया है। यस बैंक ने एक बयान में कहा है कि इसका मकसद कस्टमर्स की बेहतर सेहत और उसकी देखभाल में मदद करना है। जानें इस बैंक के क्रेडिट कार्ड के जरिए दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 16, 2021, 1:21 PM IST

    जानें किस बैंक ने लॉन्च किया वेलनेस क्रेडिट कार्ड, हेल्थ चेकअप से डॉक्टर कन्सल्टेशन सहित मिलेंगी कई सुविधाएं

    बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pamdemic) के बाद से लोगों में हेल्थ को लेकर जागरूकता बढ़ी है। हेल्थकेयर स्कीम्स में अब लोग पहले की तुलना में ज्यादा इन्वेस्ट भी करने लगे हैं। अभी हाल ही में प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक (Yes Bank) ने अपने कस्टमर्स के लिए वेलनेस क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है। इसके लिए बैंक ने आदित्य बिड़ला वेलनेस प्राइवेट लिमिटेड (Aditya Birla Wellness Private Limited) के साथ एक समझौता किया है। बैंक ने यस बैंक वेलनेस (Yes Bank Wellness) और यस बैंक वेलनेस प्लस  (Yes Bank Wellness Plus) नाम के दो क्रेडिट कार्ड को लॉन्च किया है। यस बैंक ने एक बयान में कहा है कि इसका मकसद कस्टमर्स की बेहतर सेहत और उसकी देखभाल में मदद करना है। जानें इस बैंक के क्रेडिट कार्ड के जरिए दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक (YES BANK) ने अपने कस्टमर्स के लिए एक नया प्रीमियम प्रोग्राम शुरू किया है। इसे यस बैंक री-एनर्जाइज प्रीमिया प्रोग्राम (Premia Program) नाम दिया गया है। इसके तहत बैंक अपने ग्राहकों को कई तरह की सुविधाएं और फायदे देने जा रहा है। यस बैंक के मुताबिक, इस प्रोग्राम के जरिए कस्टमर्स को उनकी जरूरत के हिसाब से सुविधाएं दी जाएंगी। इस प्रोग्राम को खास तौर पर कस्टमाइज्ड बैंकिंग सॉल्यूशन्स के लिए तैयार किया गया है। जानें इसके बारे में। (फाइल फोटो)

    BusinessDec 2, 2020, 8:34 AM IST

    YES BANK ने शुरू किया Premia Program, जानें इसमें कस्टमर्स को क्या मिलेंगी सुविधाएं

    बिजनेस डेस्क। प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक (YES BANK) ने अपने कस्टमर्स के लिए एक नया प्रीमियम प्रोग्राम शुरू किया है। इसे यस बैंक री-एनर्जाइज प्रीमिया प्रोग्राम (Premia Program) नाम दिया गया है। इसके तहत बैंक अपने ग्राहकों को कई तरह की सुविधाएं और फायदे देने जा रहा है। यस बैंक के मुताबिक, इस प्रोग्राम के जरिए कस्टमर्स को उनकी जरूरत के हिसाब से सुविधाएं दी जाएंगी। इस प्रोग्राम को खास तौर पर कस्टमाइज्ड बैंकिंग सॉल्यूशन्स के लिए तैयार किया गया है। जानें इसके बारे में।
    (फाइल फोटो)
     

  • undefined

    BusinessNov 8, 2020, 8:59 AM IST

    नीरा राडिया पर FIR दर्ज, यस बैंक से लिए 300 करोड़ रुपए कर्ज के गबन का है आरोप

    दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की आर्थिक अपराध शाखा ने नयति हेल्थकेयर (Nayati Healthcare) की नीरा राडिया (Niira Radia) और चार अन्य के खिलाफ कर्ज धोखाधड़ी (Loan Fraud) मामले में एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली है।

  • undefined

    NationalOct 9, 2020, 7:03 PM IST

    मुंबई: यस बैंक में लोन फ्रॉड के मामले में HDIL के प्रमोटर्स के 10 ठिकानों पर सीबीआई के छापे

    यस बैंक में लोन फ्रॉड के मामले में सीबीआई ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की। सीबीआई ने मुंबई में 10 ठिकानों पर छापे मारे। बताया जा रहा है कि जिन जगहों पर सीबीआई ने छापे मारे में उनमें HDIL का ऑफिस, अशोक जयेश, उनके सहयोगी, राकेश और  सारंग वाधवान,  वरयाम सिंह के आवास शामिल हैं। 

  • <p><strong>बिजनेस डेस्क।</strong> एक समय था जब धीरूभाई अंबानी (Dhirubhai Ambani) के छोटे बेटे अनिल अंबानी (Anil Ambani) दुनिया के छठे सबसे अमीर कारोबारी थे, लेकिन आज वे पूरी तरह कर्ज में डूब चुके हैं। हालत यह है कि जहां उनकी कंपनी रिलायंस ग्रुप (Reliance Group) के मुख्यालय पर कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से यस बैंक (Yes Bank) ने कब्जा जमा लिया है, वहीं चीन के 3 बैंकों ने कर्ज नहीं चुकाने की वजह से दुनिया भर में फैली उनकी संपत्ति के प्रवर्तन की कार्रवाई का फैसला किया है। अनिल अंबानी पर चीन के तीन बैंकों इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना, एक्सपोर्ट एंड इम्पोर्ट बैंक ऑफ चाइना और डेवलपमेंट बैंक ऑफ चाइना का 716 मिलियन डॉलर (करीब 5,277 करोड़ रुपए बकाया है। यह मामला ब्रिटेन की कोर्ट में चल रहा है। पिछले शुक्रवार को अनिल अंबानी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट के सामने पेश हुए। उन्होंने कहा कि वकील की फीस चुकाने के लिए वे अपनी सारी जूलरी बेच चुके है। उन्होंने कोर्ट को बताया कि इल साल जनवरी से जून के बीच उन्होंने 9.9 करोड़ की जूलरी बेची है। उन्होंने कहा&nbsp;कि वे बेहद साधारण जिंदगी जी रहे हैं। जब कोर्ट ने अनिल अंबानी से उनकी लग्जरी कारों के काफिले के बारे में पूछा तो अनिल अंबानी ने कहा कि ये मीडिया की अटकलों पर आधारित खबरें हैं। अनिल अंबानी ने कहा कि उनके पास कभी रॉल्स रॉयस कार नहीं रही और अभी वे सिर्फ एक कार का इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि, सच तो यह है कि अनिल अंबानी लग्जरी कारों के बेहद शौकीन रहे हैं और उनके काफिले में दुनिया की महंगी और बेहतरीन कारें शामिल रही हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं अनिल अंबानी की कारों के बारे में।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

    BusinessSep 30, 2020, 12:35 PM IST

    लग्जरी कारों के मामले में अनिल अंबानी कम नहीं है मुकेश अंबानी से, करोड़ों की विदेशी कारें हैं बेड़े में शामिल

    बिजनेस डेस्क। एक समय था जब धीरूभाई अंबानी (Dhirubhai Ambani) के छोटे बेटे अनिल अंबानी (Anil Ambani) दुनिया के छठे सबसे अमीर कारोबारी थे, लेकिन आज वे पूरी तरह कर्ज में डूब चुके हैं। हालत यह है कि जहां उनकी कंपनी रिलायंस ग्रुप (Reliance Group) के मुख्यालय पर कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से यस बैंक (Yes Bank) ने कब्जा जमा लिया है, वहीं चीन के 3 बैंकों ने कर्ज नहीं चुकाने की वजह से दुनिया भर में फैली उनकी संपत्ति के प्रवर्तन की कार्रवाई का फैसला किया है। अनिल अंबानी पर चीन के तीन बैंकों इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना, एक्सपोर्ट एंड इम्पोर्ट बैंक ऑफ चाइना और डेवलपमेंट बैंक ऑफ चाइना का 716 मिलियन डॉलर (करीब 5,277 करोड़ रुपए बकाया है। यह मामला ब्रिटेन की कोर्ट में चल रहा है। पिछले शुक्रवार को अनिल अंबानी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट के सामने पेश हुए। उन्होंने कहा कि वकील की फीस चुकाने के लिए वे अपनी सारी जूलरी बेच चुके है। उन्होंने कोर्ट को बताया कि इल साल जनवरी से जून के बीच उन्होंने 9.9 करोड़ की जूलरी बेची है। उन्होंने कहा कि वे बेहद साधारण जिंदगी जी रहे हैं। जब कोर्ट ने अनिल अंबानी से उनकी लग्जरी कारों के काफिले के बारे में पूछा तो अनिल अंबानी ने कहा कि ये मीडिया की अटकलों पर आधारित खबरें हैं। अनिल अंबानी ने कहा कि उनके पास कभी रॉल्स रॉयस कार नहीं रही और अभी वे सिर्फ एक कार का इस्तेमाल कर रहे हैं। हालांकि, सच तो यह है कि अनिल अंबानी लग्जरी कारों के बेहद शौकीन रहे हैं और उनके काफिले में दुनिया की महंगी और बेहतरीन कारें शामिल रही हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं अनिल अंबानी की कारों के बारे में। 
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalAug 11, 2020, 4:19 PM IST

    एटीएम फ्रॉड से बचने में मदद करेंगे ये 10 टिप्स

    धोखाधड़ी करने वाले कभी भी बाज नहीं आते। उन्हें फर्क नहीं पड़ता कि किसी को नुकसान हो रहा है, या जिसके साथ धोखा किया जा रहा है उसकी माली हालत कैसी है। ऐसे में खुद को बचाए रखना और सतर्क रहना बहुत जरूरी है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को पैसे सुरक्षित रखने के कुछ तरीके बताए हैं। SBI ने अपने ग्राहकों से कहा है कि ग्राहकों को किसी भी एटीएम-कम-डेबिट कार्ड धोखाधड़ी से बचने के लिए पूरी गोपनीयता में एटीएम लेनदेन करना चाहिए। एसबीआई ने ट्वीट किया, 'आपका एटीएम कार्ड और पिन महत्वपूर्ण हैं। यहां आपके पैसे सुरक्षित रखने के लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं।'

  • <p><strong>बिजनेस डेस्क।</strong> कभी दुनिया के टॉप 10 अमीरों में छठे स्थान पर रहे अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस ग्रुप के मुख्यालय पर प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक ने अपना अधिकार जमा लिया है। यस बैंक ने यह कार्रवाई 2,892 करोड़ रुपए का कर्ज वापस नहीं करने पर की है। उल्लेखनीय है कि प्रवर्तन निदेशालय से पूछताछ के दौरान अनिल अंबानी ने कहा था कि यस बैंक से उन्होंने जो कर्ज लिया है, वह पूरी तरह सुरक्षित है और वे अपनी परिसंपत्तियां बेच कर भी यह कर्ज चुकाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं कर पाने पर यस बैंक ने रिलायंस के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है। इसके अलावा, बैंक ने अनिल अंबानी के दक्षिण मुंबई में स्थित नागिन महल के दो फ्लोर भी अपने नियंत्रण में ले लिए हैं। यस बैंक ने कहा है कि ऐसा रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर को दिए गए 2,892 करोड़ रुपए के लोन की रिकवरी के लिए किया गया है।<br />
&nbsp;</p>

    BusinessJul 30, 2020, 11:42 AM IST

    अनिल अंबानी को लेकर सामने आई एक बुरी खबर, रिलायंस मुख्यालय पर इस बैंक ने किया कब्जा

    बिजनेस डेस्क। कभी दुनिया के टॉप 10 अमीरों में छठे स्थान पर रहे अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस ग्रुप के मुख्यालय पर प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक ने अपना अधिकार जमा लिया है। यस बैंक ने यह कार्रवाई 2,892 करोड़ रुपए का कर्ज वापस नहीं करने पर की है। उल्लेखनीय है कि प्रवर्तन निदेशालय से पूछताछ के दौरान अनिल अंबानी ने कहा था कि यस बैंक से उन्होंने जो कर्ज लिया है, वह पूरी तरह सुरक्षित है और वे अपनी परिसंपत्तियां बेच कर भी यह कर्ज चुकाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं कर पाने पर यस बैंक ने रिलायंस के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है। इसके अलावा, बैंक ने अनिल अंबानी के दक्षिण मुंबई में स्थित नागिन महल के दो फ्लोर भी अपने नियंत्रण में ले लिए हैं। यस बैंक ने कहा है कि ऐसा रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर को दिए गए 2,892 करोड़ रुपए के लोन की रिकवरी के लिए किया गया है।
     

  • undefined

    BusinessJul 14, 2020, 12:01 PM IST

    15 जुलाई से खुलेगा यस बैंक का FPO, आधी कीमत पर शेयर खरीदने का बेहतरीन मौका

    वित्तीय संकट से जूझ रहे प्राइवेट सेक्टर के यस बैंक  ने एफपीओ (फॉलो ऑन पब्लिक ऑफर) के जरिए  15 हजार करोड़ रुपए की पूंजी जुटाने की घोषणा की है। 
     

  • undefined

    BusinessJul 9, 2020, 4:40 PM IST

    15000 करोड़ जुटाने के लिए ये काम करने जा रहा है Yes Bank, 15 जुलाई को खुलेगा ऑफर

    प्राइवेट सेक्टर का यस बैंक गंभीर वित्तीय संकट का सामना कर रहा है। अब यह एफपीओ (FPO) के जरिए पूंजी जुटाएगा। सरकार ने इस साल 13 मार्च  को यस बैंक के लिए बेलआउट प्लान की मंजूरी दी थी। 

  • Naresh goyal will sell his equity to raise money for the jet, but he will out from management

    BusinessMar 21, 2020, 6:48 PM IST

    Yes बैंक मामला: ED के सामने पेश हुए जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल और एसेल ग्रुप के सुभाष चंद्रा

    जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल और एसेल ग्रुप के सुभाष चंद्रा शनिवार को यस बैंक के प्रवर्तक राणा कपूर और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ धन शोधन मामले की जांच के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुए

  • undefined

    BusinessMar 19, 2020, 7:32 PM IST

    कोरोना वायरस से का खौफ! यस बैंक की शाखाओं में नहीं दिखे ग्राहक

    यस बैंक पर रोक हटने के एक दिन बाद बृहस्पिवार को उसकी शाखाओं में सन्नाटा पसरा दिखा इसका एक मुख्य कारण कोरोना वायरस संक्रमण का भय है

  • undefined

    BusinessMar 19, 2020, 7:14 PM IST

    YES बैंक की नकदी समस्या से निपटने लेकर RBI ने दी 60,000 करोड़ रुपए की कर्ज सुविधा

    रिजर्व बैंक ने यस बैंक को नकदी की समस्या से निपटने को लेकर 60,000 करोड़ रुपये की ऋण सुविधा उपलब्ध करायी है इससे बैंक को जमाकर्ताओं के प्रति दायित्वों को पूरा करने में आसानी होगी

  • undefined

    BusinessMar 19, 2020, 2:17 PM IST

    25 लाख शेयर गिरवी रखने से YES बैंक की तेजी थमी, 29 प्रतिशत तक गिरे शेयर की दाम

    यस बैंक के शेयरों में चार सत्रों से जारी तेजी गुरुवार को थम गई और इसके शेयरों में 29 प्रतिशत की भारी गिरावट देखने को मिली