Asianet News HindiAsianet News Hindi

तालिबान को धूल चटाने वाले पंजशीर के शेर ने फोन पर बताया ऐसा प्लान, कहा- इससे मौत भी रुक जाएगी और शांति आएगी

पंजशीर में Taliban के विरोध में लड़ाई का बिगुल फूंकने वाले नेता अहमद मसूद का कहना है कि उन्हें तालिबान के साथ शांतिपूर्ण बातचीत की उम्मीद है। 

Afghanistan  Ahmed Masood the leader who fought against the Taliban said he wanted peace
Author
kabul, First Published Aug 23, 2021, 9:41 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काबुल. अफगानिस्तान में तालिबान का आतंक जारी है। इस बीच पंजशीर एक ऐसा इलाका है जहां तालिबान जाने से भी डरता है। यही वह जगह है जहां से तालिबान के खिलाफ लड़ाई का ऐलान किया गया। इस लड़ाई के नेता अहमद मसूद हैं। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि जल्द ही तालिबान के साथ शांतिपूर्ण बातचीत होगी। लेकिन उनकी सेना लड़ने के लिए तैयार थी और तैयार है।

'हम नहीं चाहते कि युद्ध छिड़ जाए'
पंजशीर घाटी से टेलीफोन के जरिए रॉयटर्स के दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, हम तालिबान को यह एहसास दिलाना चाहते हैं कि बातचीत के जरिए ही आगे बढ़ा जा सकता है। हम नहीं चाहते कि युद्ध छिड़ जाए।

'हम बचाव में लड़ना चाहते हैं'
मसूद ने कहा कि अगर तालिबान ने घाटी पर आक्रमण करने की कोशिश की तो उनके समर्थक लड़ने के लिए तैयार हैं। वे बचाव करना चाहते हैं। वे लड़ना चाहते हैं। वे किसी भी शासन के खिलाफ विरोध करना चाहते हैं।।

तालिबान के एक अधिकारी ने कहा कि पंजशीर पर हमला शुरू कर दिया गया है। लेकिन मसूद के एक सहयोगी ने कहा कि  लड़ाई की कोई खबर नहीं है। मसूद ने कहा कि उनकी संख्या 6,000 से अधिक है। उनकी लड़ाई को अंतरराष्ट्रीय समर्थन मिलना चाहिए। 

7 दिन में 20 लोगों की मौत
स्काई न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एयरपोर्ट पर मौजूद यूके के पैराट्रूपर्स लोगों को बचाने में लगे हैं। वे भीड़ को कंट्रोल करने के लिए हवाई फायरिंग भी कर रहे हैं। उन्होंने कई शवों को सफेद चादरों से ढका। नाटो के एक अधिकारी ने कहा कि पिछले सात दिनों में काबुल एयरपोर्ट  या उसके आसपास 20 लोगों की मौत हुई है।

ये भी पढ़ें..

1- जब एयरपोर्ट पर गूंजने लगे किलकारियां, काबुल से रेस्क्यू के दौरान अफगान महिला ने दिया बच्चे को जन्म

2- काबुल में मौत का तांडव: जान बचाने के लिए एक के ऊपर एक चढ़ने लगे लोग, 7 लोगों की दबने से जान गई

3- मौत से बचाने के लिए लड़कियों के स्कूल रिकॉर्ड जलाए जा रहे, ऐसी है तालिबान के खौफ की डराने वाली कहानी

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios