Asianet News HindiAsianet News Hindi

जानिए कैसे हुई थी सोनिया से राजीव गांधी की पहली मुलाकात, रोचक है प्रेम कहानी

यह बात कम लोग ही जानते हैं कि सोनिया गांधी से पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की मुलाकात उनके एक कॉमन फ्रेंड क्रिस्टियानो ने कराई थी। यह मुलाकात कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के रेस्त्रां में वर्ष 1965 में हुई थी। 

sadbhawna diwas 2022 love story of rajiv gandhi and sonia gandhi apa
Author
New Delhi, First Published Aug 20, 2022, 8:49 AM IST

ट्रेंडिंग डेस्क। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और सोनिया गांधी की शादी से पहले उनकी लव लाइफ के किस्से काफी मशहूर हैं। राजीव गांधी का जन्म 20 अगस्त 1944 को हुआ था। शुरुआती पढ़ाई के बाद 21 साल की उम्र में वर्ष 1965 में जब वे आगे की पढ़ाई के लिए कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के ट्रिनिटी कॉलेज में पढ़ने के लिए गए तो वहां उनकी मुलाकात सोनिया गांधी से हुई। 

दावा किया जाता है कि सोनिया गांधी, जिनका तब नाम ऐतोनिया अलबिना माइनो था, कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के लेनॉक्स कुक स्कूल में अंग्रेजी सीखने के लिए इटली से आई थी। सोनिया के पिता एक बिल्डर थे और सोनिया को लेकर उनकी तीन बेटियां थीं। वे चाहते थे कि बेटियों के लिए जो भी बेहतर हो, वे सब उन्हें करना चाहिए। इसके तहत ही उन्होंने सोनिया को पढ़ने के लिए कैंब्रिज यूनिवर्सिटी भेजा था। 

कॉमन फ्रेंड ने कराई थी सोनिया और राजीव की मुलाकात 
कहा यह भी जाता है कि राजीव गांधी और सोनिया गांधी की मुलाकात उनके एक कॉमन फ्रेंड ने कराई थी। तब चूंकि सोनिया और राजीव अलग-अलग कैंपस में थे, इसलिए वे एक दूसरे को जानते-पहचानते नहीं थे। सोनिया उबली पत्ता गोभी, आलू, आमलेट और ब्रेड आदि खाकर उब चुकी थीं। ऐसे में वह यूनिवर्सिटी के रेस्त्रां से खाना मंगाती थीं। एक दिन सोनिया अपनी दोस्त के साथ बैठी थीं, तभी वहां राजीव गांधी अपने दोस्त क्रिस्टियन के साथ वहां आए। क्रिस्टियन सोनिया के भी दोस्त थे। यहां सभी एकसाथ बैठे, तब क्रिस्टियन ने सोनिया से राजीव का परिचय कराया। 

रेस्त्रां में दूर जाने के बाद भी राजीव का ध्यान सोनिया की ओर था 
राजीव ने हैंडशेक के लिए हाथ आगे बढ़ाया, तो सोनिया ने भी हाथ मिलाया, मगर किसी ने कुछ बोला नहीं। इसके बाद दोनों वहां से अलग हो गए और क्रिस्टियन और राहुल दूसरी टेबल पर जाकर लंच करने लगे। मगर राजीव का ध्यान अब भी सोनिया की ओर था। बाद में राजीव ने क्रिस्टियन को सोनिया से अपना विस्तृत परिचय कराने के लिए कहा। सोनिया गांधी पर लिखी किताब द रेड सारी में जेवियर मोरो ने बताया, राजीव ने उसी दिन सोनिया से शादी करने का प्लान बनाना शुरू कर दिया था। इसके बाद वे एकदूसरे से मिलने-जुलने लगे। साथ-साथ घूमने-फिरने लगे और बाद आगे बढ़ती गई। एक दिन मौका देखकर राजीव ने सोनिया को प्रपोज कर दिया और वे इनकार नहीं कर पाईं। 

हटके में खबरें और भी हैं..

भगवान कृष्ण के जीवन से सीखने लायक हैं ये 10 बातें, अपनाए तो कभी नहीं होंगे निराश

पार्क में कपल ने अचानक सबके सामने निकाल दिए कपड़े, करने लगे शर्मनाक काम 

किंग कोबरा से खिलवाड़ कर रहा था युवक, वायरल वीडियो में देखिए क्या हुआ उसके साथ 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios