Asianet News HindiAsianet News Hindi

नकल करने वाले छात्रों से भी ज्यादा 'स्मार्ट' निकली टीचर की ये ट्रिक, जाल में फंसे इंजीनियरिंग के 14 स्टूडेंट

इंजीनियरिंग की परीक्षा में छात्रों को रंगेहाथ नकल करते पकड़ने के लिए एक टीचर ने खास ट्रिक आजमाई। उनकी यह ट्रिक सफल भी हो गई है और मजेदार ये है कि उनके शिकंजे में 14 छात्र फंस भी गए। 
 

teacher catch 14 student cheating in engineering exam apa
Author
New Delhi, First Published Aug 23, 2022, 11:22 AM IST

ट्रेंडिंग डेस्क। परीक्षा के दौरान कई छात्र ऐसे होते हैं कि जब उन्हें प्रश्न का उत्तर नहीं आता, तो वे नकल करने की कोशिश करते हैं। कुछ छात्र ऐसे भी होते हैं, जो सालभर पढ़ते नहीं और इस उम्मीद में रहते हैं कि चीट लेकर परीक्षा हॉल में जाएंगे और नकल करके लिख लेंगे, जिससे पास हो जाएंगे। हालांकि, ये सब बातें अब पुरानी हो गई हैं। परीक्षा हॉल में इतनी सख्ती बरती जाती है कि अब शायद ही कोई नकल कर पाता होगा। 

फिर भी कुछ 'स्मार्ट स्टूडेंट' नई तकनीकों का इस्तेमाल नकल करने की कोशिश करते हैं। दूसरी ओर, अब टीचर भी छात्रों की हरकतों से वाकिफ हो चुके हैं और तकनीक को लेकर एक्सपर्ट भी। ऐसा ही एक मामला इंजीनियरिंग की परीक्षा के दौरान सामने आया, जब छात्रों ने बेहद स्मार्ट तरीके से नकल करने की कोशिश की और उसमें वे सफल भी हो गए, मगर वे यह नहीं जानते थे कि यह सब उनके टीचर की एक चाल है, जिसमें वे छात्र फंस गए हैं। 

नकल करने वाले छात्रों को रेड मार्क किया गया 
दरअसल, यह वाकया सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म रेडिट पर इंजीनियरिंग के एक छात्र ने पोस्ट किया है। यह उसकी खुद की आपबीती है, यानी नकल करने वाले छात्रों में वह भी शामिल था। मामला वैसे तो 2019 का है, मगर वायरल अब हो रहा है। इस पोस्ट में छात्र ने बताया कि टीचर ने खास ट्रिक का इस्तेमाल कर नकल करने वाले छात्रों को अपने जाल में में फंसाया और उन छात्रों को रेड मार्क किया गया। परीक्षा हाल में जब प्रश्न पत्र बांट दिया गया, तब बहुत से छात्र कुछ प्रश्नों को देखकर परेशान हो गए। 

टीचर छात्रों की हरकतों से वाकिफ थे, मगर तब उन्होंने कुछ नहीं कहा 
अचानक कई छात्र बाथरूम  जाने की परमिशन मांगने लगे। हालांकि, टीचर सब समझ रहे थे, इसलिए उन्होंने छात्रों को जाने दिया। कुछ देर बाद छात्र आए और सभी प्रश्नों के जवाब लिखकर जल्दी ही परीक्षा हॉल से चले गए। सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखने वाले छात्र ने बताया कि एक खास सवाल था, जो पाठ्यक्रम से बाहर का था। प्रश्न पत्र का पार्ट-ए आसान था, मगर पार्ट-बी कठिन। बहुत से छात्रों ने पार्ट-बी को छोड़ दिया था। जब सभी की आंसर शीट चेक हो गई, तब टीचर ने छात्रों को ई-मेल भेजा। इसमें उन्होंने बताया कि कैसे उनकी ट्रिक में नकल करने वाले छात्र फंस गए और अब उन्हें सजा भुगतनी होगी। 

नकल करने वाले छात्र टीचर को नहीं दे सके चकमा 
वास्तव में छात्रों ने सवालों का जवाब ढूंढ़ने के लिए एक खास वेबसाइट का इस्तेमाल किया। इसमें छात्र एग्जाम और होमवर्क के सवालों के जवाब खोजते हैं। छात्रों को शायद इस बात की जानकारी नहीं थी कि उनके टीचर भी इस वेबसाइट के बारे में जानते हैं। टीचर ने परीक्षा से करीब एक महीने पहले एक फेक अकाउंट बनाकर इसमें उन सवालों के बारे में बताया गया, मगर उनके जवाब गलत बताए गए। छात्रों ने इस वेबसाइट पर जाकर उन सवालों को खोजा और उनके उत्तर कॉपी में लिख दिए, मगर उन्हें नहीं पता था कि बिना फॉर्मूला लगाए, जो उत्तर वे लिख रहे हैं, बिल्कुल गलत है। टीचर की इस ट्रिक में 99 में से 14 छात्र फंस चुके थे। उन्होंने आंख बंदकर वही उत्तर लिखा, जो टीचर ने वेबसाइट पर लिखा था। इस तरह टीचर ने नकल करने वाले 14 छात्रों को अपने शिकंजे में दबोच ही लिया। 

हटके में खबरें और भी हैं..

भगवान कृष्ण के जीवन से सीखने लायक हैं ये 10 बातें, अपनाए तो कभी नहीं होंगे निराश

पार्क में कपल ने अचानक सबके सामने निकाल दिए कपड़े, करने लगे शर्मनाक काम 

किंग कोबरा से खिलवाड़ कर रहा था युवक, वायरल वीडियो में देखिए क्या हुआ उसके साथ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios