Asianet News HindiAsianet News Hindi

Ashadh Amavasya 2022: 2 दिन रहेगी आषाढ़ मास की अमावस्या, जानिए किस दिन क्या करने से मिलेंगे शुभ फल?

हर महीने में एक बार अमावस्या तिथि आती है। हिंदू धर्म में इस तिथि का विशेष महत्व बताया गया है। इस तिथि पर स्नान, दान और पितरों की पूजा का विशेष महत्व है। इस बार आषाढ़ मास में 2 अमावस्या (Ashadh Amavasya 2022) का योग बन रहा है।

Ashadh Amavasya 2022 Halharini Amavasya 2022 When is Ashadh Amavasya importance of Amavasya MMA
Author
Ujjain, First Published Jun 26, 2022, 1:27 PM IST

उज्जैन. 28 जून, मंगलवार को हलहारिणी अमावस्या का पर्व मनाया जाएगा, जो कृषि से संबंधित है। अगले दिन 29 जून, बुधवार को स्नान-दान अमावस्या रहेगी। इस दिन पवित्र नदी में स्नान और जरूरतमंदों को दान करने का विशेष महत्व धर्म ग्रंथों में बताया गया है। अमावस्या पर नौ ग्रहों में से एक चंद्र देव की विशेष पूजा करने की परंपरा है। पंचांग के अनुसार, आषाढ़ मास की अमावस्या तिथि 28 जून, मंगलवार की सुबह 05:53 से शुरू होकर 29 जून, बुधवार की सुबह 08:23 तक रहेगी। आगे जानिए इस बार 2 अमावस्या होने से किस दिन क्या करें…

28 जून को रहेगी हलहारिणी अमावस्या (Halahari Amavasya 2022)
28 जून को हलहारिणी अमावस्या रहेगी। ये कृषि से संबंधित है। इस दिन खेती में उपयोग आने वाले उपकरणों जैसे हल आदि की पूजा करने की परंपरा है। इसलिए इसे हलहारिणी अमावस्या कहते हैं। इस दिन पौधे लगाने का भी विशेष महत्व है। ऐसी मान्यता है कि हलहारिणी अमावस्या पर पौधे लगाने से पितृ प्रसन्न होते हैं और घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। इस दिन पितृ तर्पण का विशेष महत्व धर्म ग्रंथों में बताया गया है। जिन लोगों की कुंडली में पितृ दोष वे यदि इस दिन कुछ विशेष उपाय या श्राद्ध आदि करें तो उनकी परेशानियां दूर हो सकती हैं। 

29 जून को स्नान-दान अमावस्या (Ashadh Amavasya 2022)
29 जून को स्नान-दान अमावस्या रहेगी। वैसे तो इस दिन नदी में स्नान करने की परंपरा है, लेकिन ऐसा न कर पाएं तो घर में ही किसी पवित्र नदी का जल मिलाकर स्नान कर लेना चाहिए। इससे भी शुभ फल प्राप्त होते हैं। इसके बाद सूर्य को ऊँ सूर्याय नम: मंत्र बोलते हुए सूर्य को तांबे के लोटे से अर्घ्य अर्पित करें। इसके बाद जरूरतमंदों को अपनी इच्छा के अनुसार, अनाज, कपड़े, बर्तन आदि चीजें दान करनी चाहिए। इस दिन गाय को हरा चारा खिलाना चाहिए और मछलियों के लिए तालाब या नदी में आटे की गोलियां बनाकर डालना चाहिए।


ये भी पढ़ें-

Palmistry: किस्मत वाले होते हैं वे लोग जिनकी हथेली में होता M का निशान, ऐसी होती है इनकी लाइफ


Palmistry: हथेली में सबसे नीचे की ओर होती हैं ये रेखाएं, इनसे तय होती है हमारी उम्र, धन और मान-सम्मान

Mars transit june 2022: 27 जून को मंगल बदलेगा राशि, इन 4 राशि वालों को मिलेगा किस्मत का साथ
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios