Asianet News Hindi

वैशाख मास में रोज करें राशि अनुसार इन विष्णु मंत्रों का जाप, दूर हो सकती हैं सभी समस्याएं

हिंदू पंचांग का दूसरा महीना वैशाख 28 अप्रैल से शुरू हो चुका है, जो 26 मई तक रहेगा। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व है।

Do daily chanting of Vishnu mantras according to the zodiac sign in Vaishakh mas, all problems can be overcome KPI
Author
Ujjain, First Published May 2, 2021, 11:39 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. वैशाख मास में भगवान विष्णु के कुछ खास मंत्रों के जाप से आपकी सभी परेशानियां दूर हो सकती हैं। ये मंत्र राशि अनुसार हैं, यानी हर राशि का एक खास मंत्र है। वैशाख मास में रोज इनका जाप करना चाहिए। ये मंत्र इस प्रकार हैं…

मेष- ॐ ह्रीं श्रीं श्रीलक्ष्मीनारायणाय नम:।
वृष- ॐ गोपालाय उत्तरध्वजाय नम:।
मिथुन- ॐ क्लीं कृष्णान नम:।
कर्क- ॐ ह्रीं हिरण्यगर्भाय अव्यक्तरूपिणे नम:।
सिंह- ॐ क्लीं ब्राह्मणे जगदाधाराय नम:।
कन्या- ॐ पीं पिताम्बराय नम:।
तुला- ॐ तत्वनिरंजनाय तारक रामाय नम:।
वृश्चिक- ॐ नारायणाय सूरसिंहाय नम:।
धनु- ॐ श्रीं देवकृष्णाय उर्ध्वजाय नम:।
मकर- ॐ श्रीं वत्सलाय नम:।
कुंभ- ॐ श्रीं उपेन्द्राय अच्युताय नम:।
मीन- ॐ क्लीं उद्धृताय उद्धारिणे नम:।

जाप विधि
- रोज सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान विष्णु की पूजा करें और तुलसी की माला से राशि अनुसार मंत्रों का जाप करें।
- कम से कम 5 माला जाप अवश्य करें। मंत्र जाप का स्थान, समय और आसन निश्चित हो तो और भी जल्दी शुभ फल मिलने लगते हैं।

वैशाख मास के बारे में ये भी पढ़ें

वैशाख मास में क्या करना चाहिए और कौन-से काम करने से बचना चाहिए?

वैशाख: कोरोना के कारण नहीं कर पाएं तीर्थ स्नान तो ये उपाय करें, इस महीने में एक समय करें भोजन

भगवान विष्णु को प्रिय है वैशाख मास, जानिए इस महीने के प्रमुख व्रत-त्योहार व शुभ योगों के बारे में

वैशाख मास आज से, जानिए इस महीने का धार्मिक महत्व और किन बातों का रखें ध्यान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios