Asianet News HindiAsianet News Hindi

आजमगढ़ उपचुनाव जीतने के बाद मां का आशीर्वाद लेने घर पहुंचे निरहुआ,भावुक होकर 20 सेकंड तक पैरों में रखे रहे सिर

आजमगढ़ उपचुनाव जीतने के बाद अपनी मां का आशीर्वाद लेने के लिए निरहुआ घर पहुंचे। वह इस दौरान इतने भावुक हो गए कि 20 सेकंड तक मां के पैरों में सिर रखे रहे। उनकी मां ने अपने बेटे को नसीहत दी कि जनता की सेवा करना। चुनाव जीतने के बाद बैठ मत जाना।

After winning Azamgarh byelection Nirhua reached home to seek blessings mother got emotional and kept head feet for 20 seconds
Author
Lucknow, First Published Jun 28, 2022, 8:59 AM IST

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ और रामपुर में हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने दोनों ही सीटों पर शानदार जीत हासिल कर ली है। आजमगढ़ उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी दिनेश लाल यादव यानी निरहुआ ने जीत दर्ज की। लेकिन जीत का सर्टिफिकेट लेने से पहले दिनेश लाल यादव निरहुआ गाजीपुर में घर पहुंचकर अपनी मां का आशीर्वाद लिया। इस दौरान उन्होंने करीब 20 सेकंड के लिए अपनी मां के पैरों पर सिर रख दिया और उनसे आशीर्वाद लिया। मां-बेटे के बीच भोजपुरी में हुई बातचीत का वीडियो सोशल मीडिया पर उन्होंने खुद शेयर किया है।

निरहुआ और उनकी मां के बीच हुई बातचीत
निरहुआ: अब हम जात हईं आजमगढ़, उंहा बुलाथौवें लोग।
मां: काहें खातिर, खइला है?
निरहुआ: कुछू खालेइला, जात हईं, निकलल जा, उंहा बुलाथौवें लोग।
मां: इ न रहया कि जीत के बैठ जइया, जनता के गाली मत खइहा, जनता के खूब जय जय करिहा।
निरहुआ: ठीक बा माई, आशीर्वाद द, जनता के सेवा करब।

खुद शेयर किया मां से बातचीत का वीडियो
यह बातचीत आजमगढ़ में लोकसभा उपचुनाव जीतकर बीजेपी सांसद बने भोजपुरी स्टार निरहुआ और उनकी मां के बीच की है। जब वह जीत का सर्टिफिकेट लेने से पहले गाजीपुर पहुंचकर अपनी मां का आशीर्वाद लिया।  दिनेश लाल यादव निरहुआ इतने भावुक हो गए थे कि करीब 20 सेकंड तक उनके पैरों पर अपना सिर रख दिया। अपनी मां के साथ हुई भोजपुरी में बातचीत का वीडियो उन्होंने खुद सोशल मीडिया पर शेयर किया है।

आशीर्वाद लेने के बाद जीत का सर्टिफिकेट लेने पहुंचे निरहुआ
26 जून को जब आजमगढ़ में लोकसभा उपचुनाव की काउंटिंग चल रही थी। इस दौरान निरहुआ अपने घर पर ही थे। जब वह जीत की तरफ बढ़ने लगे तो प्रशासन ने उन्हें बुलवाया गया। यह बात दिनेश लाल यादव ने अपनी मां से कही और विदाई लेने लगे। तभी मां ने अपने बेटे से कहा कि कुछ खा पीकर ही जाना। इतना ही नहीं जीत की तरफ बढ़े ही थे कि मां ने बेटे को नसीहत देते हुए कहा कि चुनाव जीत कर सबकी कद्र करना। जीतने के बाद बैठ मत जाना। जनता की गाली नहीं सुनना बल्कि जनता की सेवा करना। उसके बाद बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ ने अपनी मां से वादा किया कि जनता की सेवा करूंगा। मां का आशीर्वाद लेने के बाद निरहुआ अपने घर से लोकसभा उपचुनाव की जीत का सर्टिफिकेट लेने आए।

साल 2014 व 2019 में बीजेपी लोकसभा चुनाव में नहीं जीत पाई
बता दें कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों आजमगढ़ और रामपुर के लिए हुए उपचुनाव में शानदार जीत हासिल कर ली है। आजमगढ़ उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' ने जीत दर्ज की है. उन्होंने सपा प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव और बीएसपी के गुड्डू जमाली को मात दी है। आमतौर पर आजमगढ़ को सपा का गढ़ माना जाता है। बीजेपी पीएम नरेंद्र मोदी के 2014 के लहर और 2019 के लोकसभा चुनाव में भी यहां से जीत नहीं दर्ज कर पाई थी। लेकिन इस बार सुबह से ही बीजेपी प्रत्याशी दिनेश लाल यादव बढ़त बनाए हुए थे।

अलीगढ़: दो पड़ोसियों के बीच मामूली बात पर जमकर चले लाठी-डंडे, मौके पर दंपत्ति की मौत व अन्य हुए घायल

ढाई घंटे तक वृंदावन में रहेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, करीब 6 घंटे तक बंद रहेगा शहर का यातायात

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सुरक्षा में लगाए गए चार लंगूर बंदर, जानिए क्या है वजह?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios