Asianet News HindiAsianet News Hindi

अलीगढ़ में 70 मजदूरों से भरी बस में गिरी हाईटेंशन लाइन, आग लगने से कई झुलसे व 2 की हालत है गंभीर

यूपी के जिले अलीगढ़ में 70 मजदूरों से भरी बस में हाईटेंशन लाइन गिरने से पूरी बस में आग लग गई। बस में आग लगने की वजह से कई लोग झुलस गए तो वहीं दो की हालत गंभीर बनी हुई है। सभी घायलों का इलाज अस्पताल में कराया जा रहा है। 

Aligarh High tension line fell in bus full of 70 laborers many scorched due to fire and condition of 2 is critical
Author
First Published Nov 9, 2022, 4:04 PM IST

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के जिले अलीगढ़ के दादों में आलमपुर बाईपास पर बुधवार को बड़ा हादसा हो गया। मजदूरों से भरी बस में बिजली की एक हाईटेंशन लाइन कासगंज रोड पर टूटकर गिर गई। जिसकी वजह से तुरंत बस में करंट उतर आया और आग लग गई। 70 मजदूरों से भरी बस महोबा से अलीगढ़ की ओर से आ रहे थे और इस हादसे के बाद पूरी बस में चीख पुकार मच गई। सभी मजदूरों को थाना पाली के खुर्दियां गांव में एक भट्ठे पर काम करने के लिए ले जाया जा रहा था। इस हादसे में एक दर्जन से अधिक मजदूर घायल हुए हैं।

तार में बस के ऊपर रखी चारपाई गई फंस
ईंट भट्ठे पर काम करने के लिए मजदूरों को महोबा से लाया गया था। इस वजह से उनके पास काफी सामान भी था, जो बस की छत पर रखा हुआ था। स्थानीय लोगों का कहना है कि बाईपास से गुजरने के दौरान हाईटेंशन लाइन बस के ऊपर रखी चारपाई में फंस गई। जिसकी वजह से हाईटेंशन लाइन फंसकर टूट गई और बस में करंट उतर आया। देखते ही देखते बस ने आग पकड़ ली, जिसको देखकर ग्रामीण दौड़े और लोगों को बचाने का प्रयास शुरू किया। 

बिजली की सप्लाई बंद होने पर लोगों ने की मदद
कुछ सेंकड में पूरी बस में आग लग गई। बिजली की तार होने की वजह से पहले लोग पास जाने में भी डर रहे थे लेकिन बाद में बिजली सप्लाई को बंद किया गया तो घायलों की मदद शुरू की। उससे पहले तक लोग करंट के झटके में लोग छटपटाते रहे। इस घटना की जानकारी मिलने पर तुरंत फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंची और आग बुझाकर घायलों को बाहर निकाला। गांव के लोग तुरंत सभी घायलों को लेकर सीएचसी की ओर दौड़े और सभी का इलाज जारी है लेकिन दो मजदूरों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

परिवार के साथ मजदूर जा रहे थे ईंट के भट्ठे में
दो मजदूरों की हालत गंभीर होने के साथ ही 15 मजदूर और बच्चे सामान्य रूप से घायल हैं। उन सभी का इलाज चल रहा है। मजदूरों का कहना है कि ईंट भट्ठे पर काम करने के लिए जा रहे थे। उनका रहना और खाना भट्ठे पर ही होना था इसलिए वह अपने परिवार, बच्चों और खाने-पीने का सामान भी लेकर आए थे। वहीं घटनास्थल के आसपास रहने वाले लोगों का कहना है कि बाईपास के पास की ज्यादातर बिजली की हाईटेंशन लाइनें पुरानी और जर्जर हो चुकी हैं। इसके अलावा यह सड़क से काफी पास हैं। ऐसे में आने जाने वाले वाहनों में इनके छूने का डर हमेशा बना रहता है। सीओ छर्रा मोहसिन खान का कहना है कि सभी घायलों को इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया है। इस घटना में किसी की मौत नहीं हुई है। कुछ लोग झुलसे हैं, जिनका इलाज जारी है।

अलीगढ़ में चचेरे भाई ने नाबालिग बहन से किया दुष्कर्म का प्रयास, घटना से आहत किशोरी ने उठाया खौफनाक कदम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios