Asianet News HindiAsianet News Hindi

माफिया अतीक के खिलाफ फिर दिखा योगी सरकार का एक्शन, प्रयागराज में कुर्क की गई 128 करोड़ रुपए की संपत्ति

माफिया अतीक अमहद के खिलाफ सरकार की कार्रवाई लगातार जारी है। बता दें कि पुलिस ने अब तक अतीक के 128 करोड़ की बेनामी संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई की है। पुलिस ने कुर्की का नोटिस लगाकर डुगडुगी भी पिटवाई है।

CM Yogi bulldozer again on Mafia Atiq Ahmed property worth Rs 128 crore attached in Prayagraj
Author
First Published Nov 23, 2022, 6:30 PM IST

प्रयागराज: माफिया अतीक अहमद के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है। बता दें कि पुलिस ने अतीक की 128 करोड़ की बेनामी संपत्तियों को कुर्क किया है। यह प्रॉपर्टी झूंसी इलाके में 36 बीघा जमीन प्राइम लोकेशन पर है। अपने अपराधी प्रवत्ति के चलते अतीक ने इस जमीन पर कब्जा किया था। वाराणसी हाईवे से कनेक्टिंग रोड पर होने के कारण इसकी कीमत करीब 128 करोड़ रुपए है। वहीं बुधवार को पुलिस ने कुर्की का नोटिस लगाकर डुगडुगी पिटवाई है। अतीक अहमद की अब तक की करीब 1630 करोड़ की संपत्तियां कुर्क की जा चुकी हैं। इसके अलावा पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत झूंसी के हवेलिया और कसारी-मसारी में 36 बीघे जमीन की पहचान की है। जानकारी के अनुसार, अतीक ने इस जमीन को अपने करीबियों और रिश्तेदारों के नाम पर ली थी। जिससे कि वह प्रशासन की कार्रवाई से बच सके।

माफियाओं और अपराधियों पर चल रहा सीएम का बुलडोजर
बता दें कि धूमनगंज इंस्पेक्टर राजेश कुमार मौर्य और पूरा मुफ्ती थाना प्रभारी उपेंद्र प्रताप सिंह ने मफिया अतीक और उसके गुर्गों की करोड़ों की संपत्ति को कुर्क करने का काम किया है। वहीं डीएम संजय खत्री ने इस कार्रवाई की अनुमति दी है। बताया जा रहा है कि य़ह संपत्ति अतीक के पिचा हाजी फिरोज अहमद के नाम पर है। इस जमीन को वर्ष 2006-07 में खरीदा गया था। वहीं शासन ने आदेश दिया था कि माफिया और हिस्ट्रीशीटरों की अवैध तरीके से बनाई गई संपत्ति को ढहाने का काम किया जाए। इसी आदेश के चलते PDA ने 5 सितंबर 2021 को प्रयागराज में पहली कार्रवाई की थी। इस दौरान अतीक के रिश्तेदार व हिस्ट्रीशीटर इमरान जई के पानी की टंकी तिराहे पर स्थित अवैध होटल और कार्यालय को जमींदोज कर दिया गया था।

अतीक के खिलाफ दर्ज हैं 163 मुकदमें
वहीं 7 सितंबर को नवाब यूसुफ रोड, हनुमान मंदिर चौराहा पास, महात्मा गांधी मार्ग पर अतीक के निर्माणाधीन अवैध व्यवसायिक कंप्लैक्स को जमींदोज कर दिया गया था। कटका झूंसी में अतीक के कोल्ड स्टोरेज को 17 सितंबर को गिरा दिया गया था। इसके बाद प्रयागराज, कौशांबी में अतीक के करीबी रिश्तेदारों और उनके गुर्गों के खिलाफ अवैध निर्माणों की पहचान कर उन्हें भी ढहाने की कार्रवाई की गई। पीडीए के विशेष कार्याधिकारी ने बताया कि अब तक की कार्रवाई में 45 से ज्यादा अवैध मकान, गेस्ट हाउस, लॉज आदि जमींदोज किए जा चुके हैं। इनकी कीमत करीब 1500 करोड़ रुपए से भी अधिक है। वहीं माफिया अतीक जेल में सजा काट रहा है। बता दें कि अतीक के खिलाफ 163 मुकदमें दर्ज हैं। 

अतीक की पत्नी सीएम योगी की करती रहती हैं तारीफ
इन मुकदमों मे अधिकतर हत्या का प्रयास, हत्या की साजिश, प्रॉपर्टी हड़पना, रंगदारी मांगना जैसे संगीन अपराध है। बता दें कि इनमें से अधिकतर मामलों में अतीक बरी हो चुका है। वहीं 38 मुकदमे ट्रायल पर हैं। वर्ष 1979 में अतीक के खिलाफ पहला मुकदमा दर्ज किया गया था। वहीं अतीक के आईएस 227 गैंग का सेकंड मैन कहा जाने वाला भाई अशरफ बरेली जेल में बंद है। साथ ही उसका छोटा बेटा अली और बड़ा बेटा उमर जेल में सजा काट रहे हैं। वहीं अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन सीएम योगी की ताराफों के कसीदे पढ़ने से नहीं थकती हैं। जिससे कि उन पर कार्रवाई ना हो सके। यूपी में बाहुबली नेता और माफियाओं के खिलाफ लगातार योगी सरकार एक्शन ले रही है। पिछले 5 सालों में कोई भी सप्ताह ऐसा नहीं बीता जिसमें माफियाओं के खिलाफ कोई ना कोई कार्रवाई ना की गई हो। यूपी में सरकार ने पिछले 5 सालों के अंदर 3,954 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की है।

3 दिनों तक पिता की लाश के साथ रहा बेटा, पुलिस ने किया सवाल तो कोल्डड्रिंक पीते हुए बोला- मर गए होंगे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios