Asianet News HindiAsianet News Hindi

पहली बार देश में गिराई गई इतनी ऊंची बिल्डिंग.. 2004 में नोएडा के लोगों से किया गया वादा अब धूल फांक रहा

निजी डेवलपर सुपरटेक ने करीब 18 साल पहले नोएडा के लोगों से वादा किया था और साथ में दावा भी कि वह नोएडा में देश की सबसे ऊंची बिल्डिंग बनाएगा। उसकी छत से खड़े होकर साफ-सुथरे और चमकते-दमकते नोएडा का नजारा देखा जा सकेगा, मगर यह दावा और वादा रविवार को बिल्डिंग के साथ ही जमींदोज हो गया। 

india highest building twin tower demolished date in noida apa
Author
First Published Aug 28, 2022, 5:18 PM IST

नोएडा। आखिरकार नोएडा के सेक्टर 93-ए स्थित ट्विन टॉवर मलबे के ढेर में तब्दील हो ही गया। यह पहली बार भारत में हुआ, जब इतनी ऊंची बिल्डिंग को गिराया गया। इससे पहले देश में ऐसा नहीं हुआ था। यह बिल्डिंग निजी डेवलपर सुपरटेक बना रही थी और उसके खिलाफ स्थानीय लोगों ने वादा खिलाफी का आरोप लगाया था। 2010 से शुरू हुई लड़ाई 2022 में अब जाकर पूरी हो गई। 

दरअसल, 2004 में जब इस टॉवर को बनाने की परमिशन सुपरटेक को मिली, तब उसने लोगों से कई सारे वादे किए। बहुत से ख्वाब दिखाए, मगर करीब 18 साल बाद रविवार, 28 अगस्त 2022 को सुपरटेक के ये सारे वादे जमींदोज हो गए और शहर का प्रतीक, सबसे ऊंची बिल्डिंग पर खड़े होकर नोएडा का नजारा देखने जैसे बहुत से वादे और दावे आज सेक्टर 93-ए की सड़क पर धूल फांक रहे हैं। 

 

 

500 करोड़ रुपए मिट्टी में मिल गए, जैसा आदेश था वैसा ही तो बनाया था 
इससे पहले, वर्ष 2020 में केरल में झील किनारे बने अपार्टमेंट को ध्वस्त कर दिया गया था। इन्हें पर्यावरण नियमों के विपरित माना गया, जिसके बाद ध्वस्तीकरण के आदेश जारी किए गए थे। वहीं, ट्विन टॉवर के मिट्टी में मिलने के बाद सुपरटेक ने एक बयान जारी किया है। कंपनी की ओर से कहा गया कि इसका निर्माण नोएडा डेवलपमेंट अथॉरिटी की मंजूरी मिलने के बाद ही किया गया था। जैसा आदेश मिला था, वैसा ही बनाया गया था, इसमें कोई छेड़छाड़ नहीं हुई थी। 

नोएडा प्राधिकरण ने कहा- शाम छह बजे तक स्थिति स्पष्ट होगी, लोग घरों में कब तक जाएंगे 
वहीं, देश की सबसे ऊंची मगर इस विवादास्पद इमारत के गिरने के बाद नोएडा प्राधिकरण ने भी अपनी बात रखी है। ट्विन टॉवर गिराए जाने पर नोएड़ा अथॉरिटी की सीईओ यानी मुख्य कार्यकारी अधिकारी रितु माहेश्वरी ने कहा, दोनों बिल्डिंग के गिरने से आसपास की हाउसिंग सोसाइटियों को नुकसान नहीं पहुंचा है। आसपास के घर पहले ही खाली करा दिए गए थे, अब यहां शाम छह बजे स्थिति देखने के बाद लोगों को उनके घरों में जाने की इजाजत दे दी जाएगी और तब ही ट्रैफिक भी शुरू होगा। 

हटके में खबरें और भी हैं..

पार्क में कपल ने अचानक सबके सामने निकाल दिए कपड़े, करने लगे शर्मनाक काम 

किंग कोबरा से खिलवाड़ कर रहा था युवक, वायरल वीडियो में देखिए क्या हुआ उसके साथ  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios