Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखीमपुर में नाबालिग बहनों की हत्या: मां ने बताई घटना की आंखों देखी, कहा-पेट पर लात मार बेटियों को ले गए आरोपी

लखीमपुर में नाबालिग बहनों की हत्या के बाद पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी हुई है। इस बीच बच्चियों की मां ने पूरी घटना की आंखों देखी बताई। बताया कि किस तरह से आरोपी उनकी बेटियों को घर से ले गए। 

lakhimpur kheri mother said accused hanged daughters after rape
Author
First Published Sep 15, 2022, 10:38 AM IST

लखीमपुर: नाबालिग दलित बहनों की हत्या के मामले में पुलिस ने नया खुलासा कर दिया है। मां का आरोप है था कि बाइक पर आए युवकों ने जबरदस्ती बहनों को अगवा कर लिया। इसके बाद रेप की वारदात को अंजाम दिया और फिर दोनों को मौत के घाट उतार दिया। इस मामले को लेकर एसपी संजीव सुमन ने कहा कि निघासन में हुई घटना में अभी तक 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें एक हिंदू है बाकी युवक मुस्लिम है। एसपी ने कहा कि जबरदस्ती ही बहनों को अगवा करने जैसा कोई मामला फिलहाल नहीं है। लड़कियों को बहला-फुसलाकर ले जाया गया था। वहां उनके साथ जबरदस्ती संबंध बनाए गए। इसके बाद हत्या कर शव को फंदे से लटका दिया गया। 

6 आरोपी गिरफ्तार, जुनैद को लगी गोली 
पुलिस ने बताया  कि आरोपी छोटू गौतम, जुनैद, सुहैल, करीमुद्दीन, आरिफ, हफीर्जुहमान को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं एनकाउंटर में जुनैद को गोली लगी है। छोटू ने बाकी युवकों से लड़कियों की दोस्ती करवाई थी और वह घटना के वक्त मौजूद नहीं था। लड़कियां जुनैद और सुहैल से शादी करना चाहती थी। इसी के चलते वह उनके बहकावे में आकर चली गई। आरोपियों ने दोनों को सुनसान जगह पर ले जाकर उनका रेप किया और उसके बाद उनका शव फंदे से लटका दिया। ऐसा इसलिए किया गया जिससे यह मर्डर नहीं सुसाइड लगे। फिलहाल इस मामले में पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। शवों का पोस्टमार्टम किया जाएगा। इसकी वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी। यहां परिजन भी मौजूद रहेंगे।

मां ने बताई घटना की आंखों देखी 
घटना के बाद लड़कियों की मां ने बताया कि बुधवार की शाम को 4 बजे दोनों बेटियां घर के बाहर बैठी हुई थी। वह बाहर ही नल पर बर्तन धो रही थी। अचानक से बाइक पर दो युवक आए और उन्होंने दोनों ही बेटियों को गाड़ी पर बैठा लिया। इसके बाद जब मां ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो युवकों ने उसके पेट पर लात मार दी। आरोपी बड़े आराम से वहां से लड़कियों को लेकर फरार हो गए। गांव के लोगों ने बाइक सवार का पीछा किया लेकिन वह पकड़ में नहीं आए। बाद में दोनों बेटियों का शव गांव  से तकरीबन डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर गन्ने के खेत में पेड़ से लटका मिला। इस घटना के दौरान पिता घर पर मौजूद नहीं थे और दोनों बेटियों के शव मिलने के बाद उनका रो-रोकर बुरा हाल है। 

लखीमपुर कांड: मां के सामने ही दलित बेटियों को उठा ले गए हैवान, कुछ घंटे बाद खेत में मिली दोनों की लाश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios