UP के 71 शहरों में GST टीम की बड़ी छापेमारी, लखनऊ-वाराणसी समेत कई जगहों से 50 करोड़ का माल किया जब्त

| Dec 06 2022, 11:51 AM IST

UP के 71 शहरों में GST टीम की बड़ी छापेमारी, लखनऊ-वाराणसी समेत कई जगहों से 50 करोड़ का माल किया जब्त

सार

यूपी के 71 शहरों में जीएसटी टीम की छापेमारी जारी है। राज्य में लखनऊ, वाराणसी, अयोध्या, चंदौली समेत कई जगहों से टीम ने 50 करोड़ का माल जब्त कर लिया है। दूसरी ओर छापेमारी की सूचना मिलते ही कई कारोबारियों ने दुकानों पर ताले डाल दिए। 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के 75 में से 71 शहरों में जीएसटी की 248 टीमों ने बड़ी छापेमारी की है। ऐसा बताया जा रहा है कि करीब 100 करोड़ रुपए से अधिक की टैक्स चोरी पकड़ी गई है। इसके अलावा 50 करोड़ कीमत का मैटेरियल अलग-अलग शहरों से जब्त हुआ है। टीम ने माल इसलिए जब्त किया है क्योंकि कारोबारी मौके पर दस्तावेज ही नहीं दिखा सके जबकि करीब ढाई करोड़ रुपए कारोबारियों से ऑन स्पॉट जमा कराया गया है। यह सिलसिला 15 दिसंबर तक चलेगा और शुरुआत में ही इतनी बड़ी कामयाबी मिली है। छापेमारी में राजस्व, वित्त विभाग, खुफिया महानिदेशालय के अधिकारी भी शामिल रहे।

प्रदेश के चार जिलों को छोड़कर जारी है छापेमारी
लखनऊ में नादरगंज और अमीनाबाद में छापामारी हुई है। राज्य कर विभाग को काफी समय से इनपुट मिल रहे थे कि कई व्यापारी बगैर बिल के माल की बिक्री कर रहे हैं। इस वजह से बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी हो रही है। इसको लेकर विभाग की 248 टीमों ने अलग-अलग जिलों में एक साथ छापेमारी की है। राज्य कर आयुक्त मिनिस्ती एस का कहना है कि मैनपुरी, इटावा, मुजफ्फरनगर और रामपुर को छोड़कर राज्य के 71 जिलों में अभियान चला है। इन चार जिलों में चुनाव की आचार संहिता लगी थी तो इस वजह से टीम नहीं पहुंच सकी। उन्होंने आगे बताया कि तेल, हार्डवेयर, बिल्डिंग मैटेरियल, आयरन, स्टील, मेंथा, होटल, लकड़ी, फर्नीचर, स्क्रैप, परचून, घी इत्यादि का व्यवसाय करने वाले व्यापारियों द्वारा बड़े पैमाने पर जीएसटी कर की चोरी की जा रही है। फर्जी इन्वाइस जारी करके कर की चोरी की जा रही है।

Subscribe to get breaking news alerts

जीएसटी टीम ने एक साथ 14 फर्मों पर की छापेमारी
दूसरी ओर विश्वनाथ नगरी काशी में जीएसटी की तीन टीम जगहों पर अलग-अलग छापेमारी कर रही है, जिसकी वजह से कारोबारियों में हड़कंप रहा। सीतापुर में भी एक होटल समेत छह स्थानों में छापेमारी की है और एक साथ कार्रवाई से व्यापारी दुकान बंद कर भाग गए। ताज इंटरनेशनल पर भी टैक्स रेड हुई है, वहां पर जूते के चमड़े और फोम का कारोबार होता है। गुड्स एंड सर्विस टैक्स विभाग में हेरफेर की टीम को सूचना मिली थी। शकील अहमद ताज इंटरनेशनल के मालिक हैं। इसके अलावा मथुरा में जीएसटी टीम ने एक साथ 14 फर्मों पर छापेमारी की। इसके लिए तीन टीमें गठित कर उन्हें अलग-अलग इलाकों की जिम्मेदारी दी थी।

छापेमारी की खबर मिलते ही कारोबारियों ने डाले ताले
इसके अलावा चंदौली में हार्डवेयर शोरूम पर छापेमारी हुई। यहां पर स्टॉक, कागजातों की जांच करीब चार घंटे तक चली। रायबरेली में जीएसटी विभाग की छापेमारी के बाद कई कारोबारियों ने प्रतिष्ठान पर ताले डाल दिए। अयोध्या में सोना ट्रेडर्स पर जीएसटी टीम का छापा हुआ, जहां फतेहगंज दालमंडी में सोना ट्रेडर्स हैं। सिस्टर कंसर्न आईजी ट्रेडर्स पर भी छापा मारा गया। जीएसटी टीम ने सभी अभिलेखों को जब्त किया है। जीएसटी विभाग के बड़े अधिकारियों का कहना है कि ऐसे व्यापारियों के रिटर्न से संबंधित डेटा चेक किया गया तो बड़े पैमाने पर कर की चोरी का मामला सामने आया है। टीम सुबह से लेकर शाम तक छापेमारी की और छापे की सूचना मिलते ही व्यापारी दुकानों को बंद कर भाग गए। हालांकि ऐसे कारोबारियों की भी लिस्ट तैयार हो रही है।

बाबरी विध्वंस: जानिए 30 साल पहले 6 दिसंबर 1992 को क्या कुछ हुआ? आज भी नहीं भूले लोग

मथुरा: हिंदूवादी नेता के ऐलान के बाद जारी हुआ हाई-अलर्ट, श्रीकृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह की ड्रोन से हो रही निगरानी

हिंदूवादी नेता ने मथुरा की ईदगाह में लड्डू गोपाल स्थापना का किया ऐलान, कहा-प्रशासन ने रोका तो कर लेंगे आत्मदाह

 
Read more Articles on