Asianet News HindiAsianet News Hindi

मुजफ्फरनगर: पुलिस के हत्थे चढ़ा पशुचोर गैंग का एक आरोपी, कई राज्यों से भैंसे चुराकर मचाई थी सनसनी

पशुचोर गैंग ने एक के बाद एक कई राज्यों में लगभग 200 भैंसों की चोरी कर सनसनी फैला दी थी। हांलाकि पुलिस ने मुखबिर की सूचना के बाद चेकिंग अभियान शुरू किया। जिसके बाद पुलिस और इस गैंग के दो आरोपियों के बीच मुठभेड़ हो गई। जिसमें एक आरोपी घायल तो वहीं दूसरा भागने में कामयाब रहा।

Muzaffarnagar accused animal thieves gang caught by police created sensation by stealing buffaloes from many states
Author
Lucknow, First Published Jun 29, 2022, 6:02 PM IST

मुजफ्फरनगर: उत्तर प्रदेश में बीते दिनों कई पशु तस्करों को पुलिस ने पकड़कर हो रही वारदातों को रोका है। लेकिन यह सिलसिला अभी थमा नहीं है। राज्य में अभी भी पशु तस्करी तो हो ही रही है साथ ही पशुओं की चोरी भी की जा रही है। ऐसे ही पशुचोरी वाले गैंग का राज्य के मुजफ्फरनगर में पुलिस के हत्थे चढ़ा है। इतना ही नहीं यह गैंग यूपी समेत कई अन्य राज्यों में भी पशु चोरी की घटनाओं को अंजाम देता रहा है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाकर पशु चोर को पकड़ा है। दोनों के बीच मुठभेड़ के दौरान पशुचोर घायल हो गया और दूसरा फरार हो गया।

दूसरा पशुचोर फायरिंग के दौरान हुआ फरार
जानकारी के अनुसार पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सिसौना रोड पर चैकिंग अभियान चलाया हुआ था। चेकिंग के दौरान पुलिस ने जब बोलैरो सवार को गाड़ी रोकने का इशारा किया तो उस दौरान नई मंडी कोतवाली पुलिस और पशु चोरों के बीच उस समय मुठभेड़ हो गई। गाड़ी रोकने पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागने का प्रयास किया तो पुलिस ने भी जवाबी कार्यवाही की। जिसमें एक पशु चोर आशु उर्फ़ आस मोहम्मद गोली लगने से घायल हो गया, वहीं दूसरा आरोपी भागने में सफल रहा। हांलाकि पुलिस ने पशु तस्करों को गिरफ्तार करने के लिए कई घंटों तक कॉम्बिंग अभियान भी चलाया लेकिन पुलिस को इसमें सफलता नहीं मिली। 

यूपी समेत इन राज्यों में पशुचोरी को दे रहा था अंजाम
पशुचोर का गैंग यूपी समेत कई राज्यों में पशुचोरी की घटना को अंजाम दे रहा था। जैसे- हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और उत्तराखंड में भी जानवरों की चोरी की घटना को अंजाम दे चुका है। इस गैंग ने 200 से अधिक भैंसे चुराकर सनसनी फैला दी थी। पुलिस ने घायल आरोपी के पास से इलाज के दौरान हॉस्पिटल में भर्ती करवा कर मौके से देशी तमंचा कारतूस, एक पिकअप गाड़ी और तीन भैंसे भी बरामद किए हैं। इस गैंग के सदस्य दिन में देहात क्षेत्रों में सुनसान जगहों पर पशुओं की रेकी किया करते थे और रात में चोरी की घटनाओं को अंजाम देकर फ़रार हो जाया करते थे। पुलिस की गिरफ़्त में आए शातिर पशु चोरों पर विभिन्न राज्यों के थानों में लगभग 30 से अधिक पशु चोरी के मुकदमे दर्ज हुए हैं। 

शहर में आरोपियों के खिलाफ दर्ज है सात मुकदमे
इस मामले की जानकारी देते हुए सीओ सिटी कुलदीप कुमार सिंह ने बताया कि नई मंडी कोतवाली पुलिस को मुखबिर के जरिए जानकारी मिली थी कि एक गैंग है, जो पशु चोरी जैसी घटनाओं को अंजाम देता है। पुलिस ने एक बदमाश आशु उर्फ़ आस मोहम्मद को चेकिंग के दौरान हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। इसके खिलाफ लगभग 30 से 35 मुक़दमे दर्ज हैं। इतना ही नहीं कई मामलों में ये वांछित भी है। साथ ही मुज़फ्फरनगर में भी इस पर 7 मुकदमे दर्ज हैं।

अमरोहा: कोर्ट ने महज 14 दिन के अंदर सुनाई सजा, नाबालिग बेटी के साथ पिता ने सात महीने तक किया था दुष्कर्म

कानपुर: 'मिस्त्री अंकल ने बगीचे में ले जाकर किया गलत काम', मासूम से दरिंदगी की घटना सुन ग्रामीणों के उड़े होश

प्रेमजाल में फंसाकर युवती से मंदिर में रचाई शादी, कुछ दिनों बाद पत्नी का अश्लील वीडियो बनाकर किया वायरल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios