'आत्मा का सत्य वचन' नाम से शवों के पास मिली चिट्ठी, 3 लाश के बाद पत्र मिलने से ग्रामीण समेत पुलिस भी है हैरान

| Dec 01 2022, 11:48 AM IST

'आत्मा का सत्य वचन' नाम से शवों के पास मिली चिट्ठी, 3 लाश के बाद पत्र मिलने से ग्रामीण समेत पुलिस भी है हैरान

सार

यूपी के जिले पीलीभीत में आत्मा का सत्य वचन नाम से पत्र शवों के पास मिला है। जिसके बाद से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। ग्रामीण समेत पुलिस भी पत्र को देखकर हैरान है। फिलहाल तीनों शवों को लेकर मौत की वजह भी सामने आ गई है।

पीलीभीत: अक्सर दादा-दादी या नाना-नानी से भूतों की कहानियां बचपन में जरूर सुनी होंगी। बहुत से लोगों को भूतियां फिल्में भी बहुत पसंद है, कुछ ने तो रियल लाइफ में भी भूत को देखा होगा। ऐसा ही कुछ उत्तर प्रदेश के जिले पीलीभीत से मामला सामने आया है। जिसको सुनने के बाद हर कोई हैरान हो जाएगा। दरअसल यहां पर एक पत्र मिला है, जिसे भूत के द्वारा लिखने का दावा किया जा रहा है। इस वजह से यह आसपास के इलाकों में चर्चा का विषय बना हुआ है। 

तीन शव मिलने से पुलिस महकमें में मच हड़कंप
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के दियोरिया कलां थाना क्षेत्र के गांव रम्भोजा का है। यहां की निवासी शालिनी (15) और निहाल (11) की लाशें मिली है। इसके अलावा दोनों के पिता बालक राम (45) का शव घर में फांसी के फंदे से लटकता हुआ मिला है। एक साथ तीन के शव मिलने से पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और इसकी जांच करने के लिए खुद एसपी दिनेश कुमार भारी पुलिस फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर जांच की। ग्रामीणों के अनुसार यह मामला भूत प्रेत का लग रहा है। दूसरी ओर पुलिस ने तीनों शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Subscribe to get breaking news alerts

मृतक बालक राम का पत्र को लेकर नहीं है कोई ध्यान
पुलिस ने जब जांच शुरू की तो पता चला है कि मृतक बालक राम के भाई के पास चार पन्ने का एक लेटर मिला है। इसी को बताया जा रहा है कि यह खुद भूत ने लिखा है। जिसमें शुरुआत में आत्मा का सत्य वचन लिखा है। उसके बाद पहली लाइन लिखी है कि मैं जो आज बालक राम से लिखवा रही हूं, वह सच है और जो लिख रहे हैं, इनको इसका कोई ध्यान नहीं है। मृतक बालक राम का दिमाग मैं खुद चला रही हूं। चिट्ठी को देखकर ऐसा लग रहा है कि किसी महिला के द्वारा लिखी जा रही है। इसमें महिला ने अपने बेटे अवधेश और पति लालाराम का भी जिक्र किया है। 

पति के द्वारा गालियां देने पर उसके घर में 2 को मारा
पत्र में आगे लिखा है कि उसका पति लालाराम उसे गालियां देता था तो उसने लालाराम के घर में 2 लोगों को मार दिया। मृतक बालकर राम की बेटी शालिनी से दुश्मनी सिर्फ इसलिए थी कि मैं उसकी मां से बात कर रही थी और यह जबरदस्ती अपनी मां को बुलाकर घर ले गई। यह बात मुझे बहुत बुरी लगी, इसलिए मैंने शालिनी को मारने की कोशिश की। इस लेटर में संत रामपाल का भी जिक्र किया है। उसके बाद अंत में लिखा है कि हमने बदला ले लिया और अब कोई कुछ नहीं कर सकता है। 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में फांसी और दम घुटने से हुई है पुष्टि
चिट्ठी में अंत में यह भी लिखा है कि मैं इस घर में अभी भी बनी रहूंगी। हमारे खिलाफ कोई भी सुबूत ढूंढने की कोशिश न करें क्योंकि कहीं पर भी कोई सुबूत नहीं मिलेगा। मैं एक मृतक आत्मा हूं। अब देखने वाली बात होगी की पुलिस अपनी जांच कैसे आगे बढ़ाती है। मृतक निहाल औप शालिनी की मौत दम घुटने से हुई जबकि पिता बालक राम की मौत हैंगिंग से हुई है। यह पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद बात सामने आई है। इस वजह से गांव में खौफ है कि एक भूत कैसे पत्र लिख सकता है। हर कोई इससे काफी डरा हुआ है तो उसको भगाने के लिए हर तरह के प्रयास कर रहा है।

BJP सांसद ने बाबा रामदेव पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- मिलावटखोरों का है सम्राट, देशभर में आंदोलन करने की दी धमकी

बांके से प्रेमिका का गला काटने वाला प्रेमी गिरफ्तार, बताया क्यों महिला को दी ऐसी दर्दनाक मौत

बैंक के लॉकर से गायब हुए 15 लाख से अधिक के हीरे और सोने के गहने, मैनेजर ने चोरी को बताया असंभव