Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्रयागराज सामूहिक हत्याकांड: इकलौते बचे सदस्य ने पत्नी के प्रेमी पर जताई शंका, सीएम से करना चाहते हैं मुलाकात

खेवराजपुर गांव में शनिवार को हुए सामूहिक हत्याकांड में पुलिस अभी भी खाली हाथ है। मामले का खुलासा न होने से लोगों में नाराजगी भी देखी जा सकती है। पुलिस मामले कोई सुराग भी नहीं लगा पाई है। हत्याकांड के बाद इकलौते बचे सदस्य ने मामले में सीएम योगी से मुलाकात कर सीबीआई जांच की मांग की है। 

Prayagraj murder five members of family lone survived want to meet cm yogi
Author
Prayagraj, First Published Apr 25, 2022, 10:49 AM IST

प्रयागराज: संगमनगरी के गंगा पार इलाके के थरवाई थाना क्षेत्र अंतर्गत खेवराजपुर गांव में हुए सामूहिक हत्याकांड में पुलिस अभी भी खाली हाथ है। पुलिस मामले का खुलासा तो दूर अभी तक किसी अहम सुराग की ओर भी नहीं पहुंच पाई है। वहीं परिवार के बचे एकमात्र सदस्य पीड़ित सुनील यादव ने इस हत्याकांड के खुलासे के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ से सीबीआई जांच की मांग की है। 

सीएम से मुलाकात कर रखना चाहते हैं बात 
सुनील की ओर से कहा गया कि उसके परिवार के पांच नृशंस हत्या कर दी गई है। लिहाजा वह सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर अपनी बात रखना चाहते हैं। सुनील ने हत्याकांड के पीछे पत्नी के प्रेमी पर शक जताया है। उनका कहना है कि कुछ माह पहले ही उसने परिवार की हत्या की धमकी भी दी थी। 

पत्नी और बहन के शरीर पर नहीं थे कपड़े
मामले में पुलिस द्वारा रेप की धाराएं न लगाए जाने को लेकर भी सुनील यादव ने सवाल खड़ा किया है। सुनील के अनुसार जब वह मौके पर पहुंचा तो उसकी पत्नी और बहन के शरीर पर भी कपड़े नहीं थे। इसी के चलते उसे रेप की आशंका जताई थी। लेकिन पुलिस ने उस ओर ध्यान नहीं दिया। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर पर चोट की वजह से पांच लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। रेप की पुष्टि के लिए वैजाइनल स्लाइड और वैजाइनल स्वाब जांच के लिए एफएसएल लैब भेजा गया है। 

सात पुलिस टीमों का हुआ है गठन 
पीड़ित ने बताया कि कुछ वर्ष पूर्व तक उसकी पत्नी की मायके पक्ष के एक लड़के से बात होती थी। इसको लेकर सुनील ने शंका जाहिर की है। इसी के साथ जिस दूध वाले पर भी सुनील यादव ने शक जताया था उससे भी पूछताछ जारी है। मामले में कुल 12 संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इसी के साथ घटना के खुलासे के लिए एसएसपी प्रयागराज अजय कुमार ने सात पुलिस टीमों का गठन किया है। मामले में पुलिस अभी किसी भी नतीजे तक नहीं पहुंच सकी है। 

महिला के बदले दे दी गई पुरुष की डेडबॉडी, अंतिम संस्कार से ठीक पहले आए फोन के बाद मचा हड़कंप

गोरखपुर: जेल से जिला अस्पताल लाया गया मुर्तजा, घाव को देख डॉक्टर ने कही ये बात

BJP सांसद साक्षी महाराज ने फेसबुक में दिए सुरक्षा के उपाय, बोले- पुलिस बचाने नहीं आएगी, घर में रखें तीर कमान

लखीमपुर खीरी हिंसा: जेल में बेचैनी से कटी आशीष मिश्रा की पहली रात, पहले 7 दिन इस नियम का करना होगा पालन

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios