Asianet News HindiAsianet News Hindi

Asianet News Mood of Voters Survey: यूपी चुनाव में रामलला का मंदिर मुद्दा होगा या नहीं, जानिए..

Asianet News ने राज्य में चुनाव से सात महीने पहले मतदाताओं की नब्ज को समझने के लिए उत्तर प्रदेश के छह क्षेत्रों - कानपुर बुंदेलखंड, अवध, पश्चिम, बृज, काशी और गोरखपुर में पहला सर्वेक्षण किया है।
 

UP Election 2022 Asianet News Mood of Voters Survey: 32 percent public feels Ram Mandir is not an important topic in upcoming elections
Author
Lucknow, First Published Aug 18, 2021, 5:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 में अभी 7 महीने का समय है। अभी तक के चुनाव में अयोध्या का राम मंदिर मुद्दा सबसे विशेष रहा है। राम मंदिर निर्माण लाखों लोगों की आस्था से जुड़ा हुआ मसला रहा है। बीजेपी को लोग मंदिर निर्माण के लिए जनादेश देते रहे हैं। मंदिर का भव्य निर्माण शुरु हो चुका है। पीएम मोदी ने 5 अगस्त 2020 को मंदिर की आधारशिला रखी।  आने वाले चुनाव में राम मंदिर मुद्दा वोटरों का रुझान तय करेगा या नहीं? Asianet News ने 27 जुलाई से 02 अगस्त 2021 के बीच जन की बात द्वारा लोगों का मूड जानने के लिए यूपी को 6 जोन (कानपुर बुंदेलखंड, अवध, पश्चिम, बृज, काशी और गोरखपुर) में बांटकर सर्वे कराया। 2022 के विधानसभा चुनाव में क्या बीजेपी की नैया पार लगाएंगे श्रीराम, क्या राममंदिर का मुद्दा रहेगा? इस बड़े सवाल पर जानिए वोटर्स का मूड...

Full Story - Asianet News Mood of Voters Survey: भगवा रंग में 70% ब्राम्हण, जाट होंगे गेमचेंजर; योगी-अखिलेश में पॉपुलर कौन?


क्या भव्य राम मंदिर का निर्माण बनेगा तारणहार?

सर्वे में यूपी के 33% लोगों का मानना है कि राम मंदिर मुद्दा इस चुनाव में विशेष महत्व रखेगा। 22% को यह सामान्य मुद्दा लगता है। 32% इसे कोई जरूरी मुद्दा नहीं मानते हैं।

UP Election 2022 Asianet News Mood of Voters Survey: 32 percent public feels Ram Mandir is not an important topic in upcoming elections

किस क्षेत्र में राम मंदिर मुद्दा है कितना महत्वपूर्ण, जानिए?

गोरक्ष क्षेत्र: यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का क्षेत्र है। यहां 32% लोगों का मानना है कि इस चुनाव में राम मंदिर मुद्दा उतना महत्वपूर्ण नहीं होगा। 28% का मानना है कि राममंदिर मुद्दे का प्रभाव इस बार नहीं पड़ेगा। वहीं, 25% वोटर्स ऐसे हैं, जिन्हें लगता है इस चुनाव में यह सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा रहने वाला है। जबकि 10% इसे सामान्य बता रहे हैं।

ब्रज क्षेत्र: यहां के 41% लोग मानते हैं- विधानसभा चुनाव में इस बार राम मंदिर मुद्दा कम महत्वपूर्ण रहेगा। 38% सबसे महत्वपूर्ण जबकि 11% इस मुद्दे को सबसे महत्वपूर्ण मानते हैं। 6% के लिए यह कोई जरूरी मुद्दा नहीं है।

पश्चिम क्षेत्र: 64% का मानना है कि इस चुनाव में राम मंदिर का मुद्दा उतना जरूरी नहीं होगा। 17% का कहना है यह बिल्कुल असर नहीं डालेगा। 14% ने इसे महत्वपूर्ण बताया है।

अवध क्षेत्र: अयोध्या नगरी के 45% लोग मानते हैं- अब यह मुद्दा कम महत्वपूर्ण होगा। 15% बेहद कम जबकि 30% इसे सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा मानते हैं। 10% का मानना है कि सामान्य मुद्दों की तरह यह भी इस चुनाव में रहेगा।

काशी क्षेत्र: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के 33% लोगों का मानना है कि राममंदिर मुद्दा कम महत्वपूर्ण है। 15% इसे सबसे कम महत्वपूर्ण जबकि 30% राम मंदिर को सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा मानते हैं। 19% इसे सामान्य बताते हैं।

कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र: इस क्षेत्र की 50% जनता आज भी राम मंदिर मुद्दे को सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा मानती है। 25% को यह सामान्य मुद्दा लगता है। 22% कम महत्वपूर्ण जबकि 21% इसे बेहद कम महत्वपूर्ण मुद्दा मानते हैं।

यह भी पढ़ें...

Asianet News Mood of Voters Survey: यूपी चुनाव में रामलला का मंदिर मुद्दा होगा या नहीं, जानिए..

Asianet News Mood of Voters Survey: LAW&ORDER पर योगी, अखिलेश-माया...जानें जनता किसे मानती है नायक

Asianet News Mood of Voters Survey: गोरक्ष क्षेत्र में भ्रष्टाचार, अवध बोला- महंगाई में फेल हो गई योगी सरकार

Asianet News Mood of Voters Survey: बोले लोग-सबसे अधिक महंगाई डायन ने डाला प्रभाव, कोविड हैंडलिंग उसके बाद

Asianet News Mood of Voters Survey: 48% वोटर्स ने कहा- योगी वन्स मोर, जानिए अखिलेश कहां...

Asianet News Mood of Voters Survey: ब्राह्मण-गैर यादव ओबीसी ये लोग किस पार्टी की ओर करेंगे रुख, जानें...

Asianet News Mood of Voters Survey:: कृषि बिल अच्छा या खराब- यूपी वालों का SHOCKING जवाब

Asianet News Mood of Voters Survey: BJP-SP-BSP...यूपी 2022 चुनाव में किसको मेंडेट-VIDEO

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios