Asianet News Hindi

भारत में सबसे कम उम्र के कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत, जानिए कैसे हुआ था बीमार

युवक की मौत हुई तो परिजन उतावले हो गए। वह जल्दी शव की मांग करने लगे। इससे मेडिकल कॉलेज प्रशासन का संदेह गहरा गया। जब सख्ती से पूछताछ हुई, तब परिजनों ने बताया कि युवक की तबीयत दस दिन से खराब थी। इसकी सूचना आईसीएआर के निदेशक को दी गई। इसके बाद जाकर मृत युवक का सैंपल लिया जा सका।

Youngest Corona positive patient dies in India, know how he got sick ASA
Author
Gorakhpur, First Published Apr 1, 2020, 1:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गोरखपुर (Uttar Pradesh) । बाबा राघव दास मेडिकल में यूपी के पहले कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। बस्ती के जिस युवक की मौत हुई है उसकी उम्र 25 साल बताई जा रही है। इतनी कम उम्र में मौत का देश में यह पहला मामला है। केजीएमयू लखनऊ के मीडिया प्रभारी डॉ सुधीर सिंह के मुताबिक गोरखपुर से जो सैम्पल आया था, वह जांच में पॉजिटिव मिला है। गोरखपुर में हुई जांच भी सही थी। केजीएमयू से क्रास चेक होना था। इसमें भी मामला सही पाया गया। बता दें युवक किसी विदेशी व्यक्ति के संपर्क में आया था। इसकी वजह से उसके अंदर कोरोना वायरस मिले हैं।

कम उम्र में दूसरी मौत पटना में हुई
खबर है कि इससे पहले बिहार पटना में सबसे कम उम्र के व्यक्ति की मौत का मामला सामने आया था। यहां पर 38 साल के एक मरीज की संक्रमण के कारण मौत हुई थी।

परिजनों ने नहीं दी थी सही जानकारी
बस्ती से आए युवक के परिजनों ने डॉक्टरों से झूठ बोलकर उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया था। चिकित्सकों ने पूछा था कि अचानक तबीयत खराब हुई या फिर पहले बीमार है। तब परिजनों ने बताया था कि पहले से दवा चल रही थी।

ऐसे खुला राज
युवक की मौत हुई तो परिजन उतावले हो गए। वह जल्दी शव की मांग करने लगे। इससे मेडिकल कॉलेज प्रशासन का संदेह गहरा गया। जब सख्ती से पूछताछ हुई, तब परिजनों ने बताया कि युवक की तबीयत दस दिन से खराब थी। इसकी सूचना आईसीएआर के निदेशक को दी गई। इसके बाद जाकर मृत युवक का सैंपल लिया जा सका।


डॉक्टरों को किया गया क्वारंटाइन
युवक को रविवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में एडमिट करवाया गया था। पहले उसे कोरोना वार्ड में नहीं रखा गया था। लक्षण दिखने पर उसे कोरोना वार्ड में शिफ्ट किया गया था। जिन 12 डॉक्टरों ने उसका इलाज किया था उन्हें भी क्वारंटाइन किया गया है। 

बस्ती के गांधीनगर इलाका सील 
बस्ती के गांधीनगर इलाके को सील कर दिया गया है। बता दें कि मृत युवक यहीं का करने वाला था। इस मोहल्ले को सैनिटाइज किया जा रहा है। वरिष्ठ अफसर मौके पर पहुंच गए हैं। मृतक के परिजनों को रैपिड रिस्पांस टीम अपने साथ जांच के लिए ले गई है। मोहल्ले के लोगों को घर से बाहर न निकलने की सख्त हिदायत दी गई है। नोडल अधिकारी डॉ. फखरेयार हुसैन ने बताया कि मृतक के जनाजे में शामिल लोगों की तलाश की जा रही है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios