Asianet News HindiAsianet News Hindi

मोदी सरकार की ऐतिहासिक जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा से भी पास

Dec 11, 2019, 10:10 PM IST

वीडियो डेस्क। लोकसभा से नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद बुधवार को राज्यसभा में पेश किया गया। गृहमंत्री अमित शाह ने इस बिल को सदन में इसे पेश किया। जिसके बाद इस बिल पर गर्मा गरम बहस हुई है। जिसके बाद इस बिल को 125 वोटों से पारित कर लिया गया। बिल को पेश करते हुए शाह ने कहा कि इस बिल के पारित होने के बाद शरणार्थियों को जीवन स्तर बदल जाएगा। इसके बाद राज्यसभा में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने सरकार पर पलटवार कर सवाल किया। इसके बाद लगातार पक्ष और विपक्ष नेताओं के बयान सामने आएं है। जिसमें आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। चर्चा के समाप्त होने के बाद गृहमंत्री शाह ने जवाब दिया। बिल को मिले 125 वोट 9 घंटे से  चली चर्चा के बाद राज्यसभा में 125 वोटों के साथ यह बिल पारित कर लिया गया। वही, इस बिल के विरोध में कुल 105 वोट पड़ें।अब बिल पास होने के बाद पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से 31 दिसंबर 2014 तक आए हिंदू, सिख, बुद्ध, जैन, पारसी और क्रिश्चियन के साथ अवैध घुसपैठियों जैसा व्यवहार नहीं होगा, बल्कि उन्हें भारत की नागरिकता दी जाएगी। अब वो भारतीय कहलाएंगे।

Video Top Stories