Asianet News HindiAsianet News Hindi

बांग्लादेश में दुर्गा पूजा पांडालों में तोड़फोड़ का Video,उपद्रवियों ने तोड़ीं मां दुर्गा की मूर्ति, 3 की मौत

वीडियो डेस्क। बांग्लादेश के इतिहास में 13 अक्टूबर सबसे बदनाम दिवस के तौर पर दर्ज हो गया। इस्लामिक कट्टरपंथियों ने दुर्गा पूजा के दौरान चांदपुर जिले में कई हिंदू मंदिरों पर हमला कर दिया। इस हिंसक झड़प में तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में 43 लोगों को अरेस्ट किया है। 
 

Oct 14, 2021, 7:41 PM IST

वीडियो डेस्क। बांग्लादेश के इतिहास में 13 अक्टूबर सबसे बदनाम दिवस के तौर पर दर्ज हो गया। इस्लामिक कट्टरपंथियों ने दुर्गा पूजा के दौरान चांदपुर जिले में कई हिंदू मंदिरों पर हमला कर दिया। इस हिंसक झड़प में तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में 43 लोगों को अरेस्ट किया है। नवरात्र के मौके पर पड़ोसी देश बांग्लादेश से एक शर्मनाक घटना सामने आई है। 13 अक्टूबर को चांदपुर जिले में इस्लामिक कट्टरपंथियों (Islamic fundamentalists) ने दुर्गा पूजा के दौरान कई पंडालों पर हमला कर दिया। मूर्तियां नाले में बहा दीं। लाठियों से मूर्तियां तोड़ डालीं। कई हिंदू मंदिरों पर हमले की खबर है। इस हिंसक झड़प में तीन लोगों की गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस का कहना है कि हिंदू मंदिरों और दुर्गा पूजा स्थलों पर हमला करने वालों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। उप महानिरीक्षक (DIG) अनवर हुसैन ने गुरुवार को कोमिला में मीडिया से कहा कि हिंसा में शामिल 43 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हमलावरों की पहचान के लिए CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं। हिंदू मंदिरों पर हमले के बाद सरकार ने 22 जिलों में बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (BGB) के जवानों को तैनात किया है। हुसैन ने कहा कि यह घटना तनाव को भड़काने की एक साजिश थी। कोमिला मंदिर का दौरा करने के बाद उन्होंने कहा, कथित तौर पर पवित्र कुरान को बदनाम करने के लिए बुधवार को सोशल मीडिया पर कुछ पोस्ट वायरल की गई थीं। पुलिस ने फ़ैज़ उद्दीन को हिरासत में लिया है, जिसने शुरू में सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया था।
 

Video Top Stories