Asianet News HindiAsianet News Hindi

साउथ अफ्रीका: एग्जाम खत्म होने का जश्न मनाने पहुंचे नाइट क्लब, झटके में खत्म हो गईं 21 स्टूडेंट्स की जिंदगियां

दक्षिण अफ्रीका के एक नाइट क्लब में जश्न मनाने पहुंचे 21 स्टूडेंट्स की मौत का मामला सामने आया है। हालांकि इसमें यह पता नहीं चल पाया कि मौत का कारण क्या है। 

At least 21 teenagers in South Africa die under mysterious circumstances mda
Author
South Africa, First Published Jun 27, 2022, 2:55 PM IST

टावरन. साउथ अफ्रीका के एक नाइट क्लब में 21 स्टूडेंट्स की डेड बाडी मिली है। जिससे पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। इन स्टूडेंट्स की उम्र 13 वर्ष से 17 वर्ष के बीच है लेकिन यह सब कैसे हुआ, अभी तक रहस्य बना हुआ है। स्थानीय पुलिस अधिकारी की मानें तो किसी भी शव पर चोट के निशान नहीं मिले हैं। सभी स्टूडेंट्स एग्जाम खत्म करने के बाद एक साथ जश्न मनाने के लिए नाइटक्लब पहुंचे थे। 

मौतों पर सस्पेंस बना हुआ

एक आफिसर ने कहा कि हमें यह जानकारी मिली की पूर्वी लंदन के स्थित सीनरी पार्क के पास नाइट क्लब में 21 स्टूडेंट्स की मौत हो गई है। इनमें कुल 13 लड़के और 8 लड़कियां हैं। 17 शव मौके से ही बरामद किए गए जबकि 4 स्टूडेंट्स ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। स्थानीय अधिकारी के अनुसार शुरूआती जांच में यह लगता है कि सभी की मौतें जहर की वजह से हुई हैं। अब यह जहर उनकी बाडी में कैसे पहुंचा, कौन सा जहर था, एक साथ सभी ने कैसे सेवन किया, यह आगे की जांच में पता चलेगा। सभी शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है, उसकी भी रिपोर्ट आने से बहुत कुछ क्लीयर हो जाएगा। 

अफ्रीकी राष्ट्रपति ने जताया शोक
साउथ अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने इस स्तब्धकारी घटना पर शोक जताया है। फिलहाल वे जर्मनी में जी7 शिखर सम्मेलन में भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि 18 साल से कम उम्र के 21 बच्चों की मौत से वे स्तब्ध हैं। वहीं प्रांतीय प्रधानमंत्री ने कहा कि यकीन ही नहीं हो रहा कि एक ही झटके में 21 बच्चों की जान चली गई। शराब का सेवन खतरनाक है, खुलेआम शराब की बिक्री गलत है। हम ये नहीं मान सकते हैं कि बच्चे इसका सेवन नहीं करेंगे। 

शहर में क्या हैं शराब पीने के नियम
साउथ अफ्रीका के इस टाउनशिप में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए शराब पीने की अनुमति है। जिसे आमतौर पर शीबीन के रूप में जाना जाता है, जो अक्सर घरों के साथ या कुछ मामलों में घरों के अंदर ही स्थित होते हैं। लेकिन सुरक्षा नियम और शराब पीने की उम्र के कानून हमेशा लागू नहीं हो पाते। एक 17 वर्षीय लड़के के माता-पिता ने कहा कि हमारा एक ही बच्चा था, जिसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दुखी मां ने कहा कि यह बच्चा, हम नहीं सोच रहे थे कि इस तरह से मरने जा रहा है। वहीं कुछ लोगों ने यह भी कहा कि यह नाइट क्लब किशोरों के बीच लोकप्रिय थी।

यह भी पढे़ें

अमेरिका में सिख टार्गेट पर, कार में बैठे भारतीय मूल के 31 वर्षीय शख्स की गोली मारकर हत्या

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios