Asianet News HindiAsianet News Hindi

कनाडा के भगवद गीता पार्क में तोड़फोड़, एक दिन पहले ही टोरोंटो टेंपल में हुई ऐसी घटना, मेयर ने दिए जांच के आदेश

कनाडा के भगवत गीता पार्क (Bhagavad Gita Park) में तोड़फोड़ की घटना हुई। अधिकारियों ने भी इसकी पुष्टि की है। वहीं मेयर पैट्रिक ब्राउन ने ट्विटर पर घटना की निंदा की है और जांच के भी आदेश दिए हैं।

canada bhagavad gita park sign vandalised just after similar incident at toronto temple mda
Author
First Published Oct 2, 2022, 12:48 PM IST

Canada Bhagavad Gita Park Vandalised. कनाडा में भगवद गीता पार्क में तोड़फोड़ की घटना हुई और स्थानीय अधिकारियों ने भी इसकी पुष्टि की है। वहीं मेयर ने भी घटना का जिक्र किया है और ट्विवटर पर इसकी पुष्टि की है। मेयर के अनुसार हाल ही में ओपन किए गए भगवद गीता पार्क में तोड़फोड़ की घटना हुई है। इससे एक दिन पहले ही भारत विरोधी कुछ तत्वों ने टोरोंटो के स्वामी नारायण मंदिर में भी तोड़फोड़ की थी। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि ये लोग मोदी सरकार की उस एडवाइजरी का विरोध कर रहे हैं, जो कनाडा में रहने वाले भारतीय स्टूडेंट्स के लिए जारी किया जा रहा है। 

मेयर ने की घटना की निंदा
मेयर पैट्रिक ब्राउन ने इन घटनाओं की निंदा की है और कहा कि हम ऐसी गतिविधियों के लिए जीरो टोलरेंस की पॉलिसी का पालन करते हैं। उन्होंने कहा कि यह मामला पील रीजनल पुलिस को आगे की जांच के लिए सौंप दिया गया है। साथ पार्क विभाग इसे ठीक करने की कोशिश कर रहा है। इस साइन को जल्द से जल्द सही कर दिया जाएगा। एक यूजर के कमेंट को रिप्लाई करते हुए ब्राउन ने एक और ट्विट किया और लिखा कि पील रीजनल पुलिस के प्रमुख ने आश्वस्त किया है कि इस तरह की घटना को गंभीरता से लिया जा रहा है। हमें इस तरह की हिंसा और घृणा अपराध के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पॉलिसी का पालन करते हैं। 

भगवद गीता पार्क में तोड़फोड़
दरअसल कुछ समय पहले ही ब्राम्पटन ट्रायर्स पार्क का नाम बदलकर भगवद गीता पार्क रखा गया था और उसका साइन बोर्ड भी लगाया गया। यह शहर में रहने वाली हिंदू कम्यूनिटी के अच्छे कार्यों और शहर के विकास में योगदान देने की वजह से संभव हो पाया था। इसके बाद इस साइन को तोड़ा गया है। कुछ समय पहले ही टोरोंटो के स्वामी नारायण मंदिर में भी भारत विरोधी तत्वों ने इसी तरह से तोड़फोड़ की थी। इस घटना पर हाई कमीशन ऑफ इंडिया ने विरोध जताया था और टोरोंटो प्रशासन से मामले की जांच करने और दोषियों को सजा दिलाने की मांग की थी। 

खालिस्तानी समर्थकों पर आरोप
घटना के बाद इंडियन ओरिजिन कनाडा के एमपी चंद्र आर्य ने आरोप लगाया कि कनाडा में रहने वाले खालिस्तान समर्थकों ने यह तोड़फोड़ की है। उन्होंने ट्विट किया कि यह पहली घटना नहीं है और भारत विरोधी खालिस्तानी समर्थक ऐसी वारदात करते रहते हैं। 

यह भी पढ़ें

कभी बंद गेट से मची भगदड़, कभी सिगरेट की आग से सैकड़ों मौत, जानें फुटबॉल मैच के दौरान दुनिया की 10 बड़ी घटनाएं
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios