Asianet News HindiAsianet News Hindi

कभी बंद गेट से मची भगदड़, कभी सिगरेट की आग से सैकड़ों मौत, जानें फुटबॉल मैच के दौरान दुनिया की 10 बड़ी घटनाएं

इंडोनेशिया में फुटबॉल मैच के दौरान दंगा भड़कने और भगदड़ से 127 लोगों की मौत (Riots During Football Match) हो गई है। यह पहला मौका नहीं है जो दो टीमों की दुश्मनी इतनी खतरनाक हो गई हो। इससे पहले भी फुटबॉल के दौरान बड़े बवाल हुए हैं जिनमें सैकड़ों की जान जा चुकी है। 
 

riots during football match in indonesia know 10 most tragic disasters in football mda
Author
First Published Oct 2, 2022, 9:37 AM IST

10 Most Tragic Disasters In Football. इंडोनेशिया में फुटबॉल मैच के दौरान हुई घटना दिल दहलाने वाली है, जिसमें सवा सौ से अधिक लोगों की जानें चली गईं और सैकड़ों लोग घायल हो गए। फुटबॉल में इस तरह की दुखद घटना पहली बार नहीं हुई है बल्कि इससे पहले भी बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं। फुटबॉल टीमों की प्रतिद्वंदिता इतना खतरनाक रूप ले लेती है कि दर्शकों और खिलाड़ियों का खुद पर कंट्रोल नहीं रहता, नतीजा सैकड़ों बेगुनाह लोगों की मौत हो जाती है। आइए जानते हैं दुनिया की ऐसी ही 10 भीषण घटनाएं, जिसमें सैकड़ों जानें चली गईं...

  1. 1. नेशनल स्टेडियम लीमा, मौतें 318: 24 मई 1964 को पेरू की राजधानी लीमा के राष्ट्रीय स्टेडियम में हुई घटना निस्संदेह इतिहास की सबसे घातक फुटबॉल त्रासदी है। तब पेरू और अर्जेंटीना के बीच लीमा के नेशनल स्टेडियम में ओलंपिक क्वालीफाइंग मैच चल रहा था, जब यह भयानक घटना घटी। दोनों देशों ने प्रतिद्वंद्विता इतनी बढ़ गई कि पेरू के दो गोल अस्वीकार होने के बाद दर्शक बेकाबू हो गए। इसके बाद पेरू के प्रशंसकों ने दंगा शुरू कर दिया जिसमें 318 लोग मारे गए और 500 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।
  2. 2. स्पोर्ट्स स्टेडियम घाना, मौतें 126: 9 मई 2001 को हुई इस घटना में 126 लोगों की जानें गई थी। यह घटना अकरा स्पोर्ट्स स्टेडियम में हार्ट्स ऑफ ओक और असांटे कोटोको के बीच मैच के दौरान घटी। पुलिस ने कुछ अनियंत्रित प्रशंसकों पर आंसू गैस के गोले दागे जिससे पूरे स्टेडियम में अशांति फैल गई। 70,000 लोगों ने तुरंत स्टेडियम से बाहर निकलने की कोशिश की, जिसकी वजह से भगदड़ मच गई और 126 लोग मारे गए। घटना में सैकड़ो लोग घायल भी हुए थे। 
  3. 3. नेशनल स्टेडियम ग्वाटेमाला, मौतें 80: 16 अक्टूबर 1996 को फुटबॉल मैच के दौरान हुए इस हादसे में 80 से ज्यादा लोगों की मौतें हुई थीं। यह घटना ग्वाटेमाला और कोस्टा रिका के बीच विश्व कप क्वालीफाइंग मैच से पहले हुई थी। बहुत सारे प्रशंसक स्टेडियम में प्रवेश करना चाहते थे जिससे भगदड़ मच गई जिसके परिणामस्वरूप 80 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 180 अन्य घायल हो गए।
  4. 4. शेफील्ड स्टेडियम इंग्लैंड, मौतें 96: 15 अप्रैल 1989 को इंग्लैंड के शेफील्ड स्टेडियम में हुई घटना में 96 लोगों की मौत हो गई थी। हिल्सबोरो की यह घटना इंग्लैंड की सबसे बड़ी त्रासदियों में से एक है और इसे अंग्रेजी फुटबॉल पर धब्बा माना जाता है। तब लिवरपूल और नॉटिंघम फॉरेस्ट के बीच एफए कप मैच के दौरान यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। मैच के दौरान ही पुलिस ने एक गेट खोला जिससे बाहर इंतजार कर रहे बहुत सारे प्रशंसकों को स्टेडियम में प्रवेश करने की अनुमति मिली। तब लिवरपूल के कई प्रशंसकों को कुचल दिया गया। इस भगदड़ में 776 लोग घायल हो गए और उनमें से 96 की मौत हो गई। इनमें स्टीवन जेरार्ड का 10 वर्षीय चचेरा भाई भी शामिल था, जो त्रासदी का शिकार होने वाला सबसे कम उम्र का प्रशंसक था। 
  5. 5. नेशनल स्टेडियम काठमांडू, मौतें 93: 12 मार्च 1988 को नेपाल की राजधानी काठमांडू में हुई इस घटना में 93 लोगों की जान चली गई। काठमांडू की यह घटना दुनिया की सबसे खराब फुटबॉल घटनाओं में से एक है। हालांकि यह प्राकृतिक कारणों से हुई घटना थी। करीब 30,000 प्रशंसक नेपाल और बांग्लादेश के बीच मैच देख रहे थे तभी अचानक तेज ओलावृष्टि हुई। प्रशंसकों के बीच बाहर निकलने के लिए हाथापाई शुरू हो गई और भगदड़ मच गई। इसमें 93 लोग मारे गए थे।
  6. 6. इजिप्ट स्टेडियम, मौतें 79: 1 फरवरी 2012 को इजिप्ट के पोर्ट स्टेडियम में हुई इस घटना में 79 लोगों की जानें चली गई थी। पोर्ट सईद की घटना दुनिया की सबसे हालिया आपदाओं में से एक है। यह घटना दो प्रतिद्वंद्वी टीमों अल मास्री और अल-अहली के बीच मैच के दौरान हुई। मैच के बाद हजारों मैसरी प्रशंसकों ने प्रतिद्वंद्वी दर्शकों पर हमला कर दिया। चाकू, बोतलें और तलवारों के हमले में 1000 से ज्यादा लोग बुरी तरह घायल हुए जबकि 79 मौतें हुईं। इसे दुनिया की सबसे मूर्खतापूर्ण घटना भी माना जाता है।
  7. 7. ब्यूनसआयर्स अर्जेंटीना, मौतें 71: इसे पुएर्ता 12 घटना कहा जाता है और यह 23 जून 1968 को हुई थी। तब अर्जेंटीना की रिवर प्लेट और बोका जूनियर्स के बीच एक मैच के दौरान यह घटना हुई। प्रशंसकों का एक समूह गलती से एग्जिट गेट की ओर चला गया, जिसे मैच के बाद बंद कर दिया गया था। तभी अचानक भीड़ बेकाबू हो गई और भगदड़ मच गई। इस घटना में 71 से ज्यादा लोग मारे गए जबकि गलती सिर्फ गेट बंद होने की थी।
  8. 8. ग्लास्गो स्कॉटलैंड, मौतें 66: 2 जनवरी 1971 को यह भयानक घटना प्रतिद्वंद्वी स्कॉटिश क्लब रेंजर्स और सेल्टिक के बीच हुए मैच के दौरान हुई। सेल्टिक की अगुवाई में कई रेंजर्स प्रशंसकों ने स्टेडियम छोड़ने का फैसला किया लेकिन भारी भीड़ ने सीढ़ी 13 पर बाधाओं को ध्वस्त कर दिया जिससे समर्थकों का ढेर लग गया। इस आपदा में 200 से अधिक प्रशंसक घायल हो गए और 66 लोग मारे गए।
  9. 9. ब्रेडफोर्ड स्टेडियम इंग्लैंड, मौतें 56: 11 मई 1985 को इंग्लैंड में हुई इस घटना में 56 लोगों की जानें चली गईं। ब्रैडफोर्ड सिटी एफसी ने आग के कारण ब्रिटिश इतिहास में सबसे खराब फुटबॉल घटना को जन्म दिया। माना जाता है कि आग तब लगी जब एक पंखे ने में जलती हुई सिगरेट फेंक दी गई। जिसने लगभग 20 वर्षों तक लकड़ी के स्टैंड के नीचे पड़े कचरे के ढेर को जला दिया। कुछ ही देर में यह आग फैल गई और स्टैंड की लकड़ी की छत में आग लग गई जिससे नीचे लगे पंखे पर टार, लकड़ी और धातु के जलते टुकड़े गिर गए। इससे 56 लोगों की मौत हो गई और 450 से अधिक घायल हो गए। घटना के बाद ब्रिटेन में लकड़ी के स्टैंड पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।
  10. 10. म्यूनिख एयरपोर्ट जर्मनी, मौतें 23: 6 फरवरी 1958 को म्यूनिख की इस घटना में 23 लोगों की मौत हो गई थी। यह घटना फुटबॉल के इतिहास में सबसे दुखद घटनाओं में से एक है क्योंकि इसमें 8 युवा और प्रतिभाशाली मैनचेस्टर यूनाइटेड खिलाड़ियों की मौत हो गई। मैनचेस्टर यूनाइटेड टीम को ले जा रहा विमान जिसने यूरोपीय कप में रेड स्टार बेलग्रेड को हराया था, कीचड़ के कारण म्यूनिख रनवे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया और 23 यात्रियों की मौत हो गई।  

यह भी पढ़ें

इंडोनेशिया: फुटबॉल मैच में हार बर्दास्त नहीं कर पाए फैन्स, मैदान में आकर शुरू कर दिया दंगा, 127 की मौत
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios