Asianet News HindiAsianet News Hindi

वैश्विक आर्थिक विकास में सेंध लगा सकता है Omicron, IMF प्रमुख ने दी चेतावनी

IMF ने चेतावनी दी है कि कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) वैश्विक आर्थिक विकास में सेंध लगा सकता है। आईएमएफ का कहना है कि वह विकास अनुमानों को घटा सकता है।

IMF chief says Omicron could dent global economic growth VVA
Author
Washington D.C., First Published Dec 4, 2021, 8:23 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन। IMF (International Monetary Fund) ने चेतावनी दी है कि कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) वैश्विक आर्थिक विकास में सेंध लगा सकता है। ओमिक्रॉन दुनिया के 40 देशों में फैल चुका है। इसके चलते आईएमएफ का कहना है कि वह विकास अनुमानों को घटा सकता है।

कोरोनावायरस के नए संस्करण ओमिक्रॉन के कारण अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष अपने वैश्विक आर्थिक विकास अनुमानों को कम कर सकता है। आईएमएफ की प्रबंध निदेशक क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने कहा है कि कोरोना का नया संस्करण बहुत तेजी से फैल सकता है। इसके चलते हमें वैश्विक विकास के लिए अपने अक्टूबर के अनुमानों में कुछ गिरावट देखने को मिल सकती है। 

बता दें कि ओमिक्रॉन के बारे में बहुत कुछ अज्ञात है। शोधकर्ताओं ने कहा कि यह किसी अन्य वायरस से आनुवांशिक सामग्री (Genetic Material) उठा सकता है। यह सामान्य सर्दी के लिए जिम्मेदार वायरस से जेनेटिक मैटेरियल ले सकता है, जिससे यह मानव प्रतिरक्षा प्रणाली की सुरक्षा को अधिक आसानी से चकमा दे सकेगा। यूरोप और अमेरिका के हिस्से अधिक परिचित डेल्टा वेरिएंट के संक्रमण की लहर से जूझ रहे हैं। नया वेरिएंट उन अर्थव्यवस्थाओं को और अस्थिर कर सकता है जो अभी भी COVID-19 संबंधित लॉकडाउन और व्यवधानों से उभर रही हैं।

घबराने नहीं तैयार रहने की जरूरत
वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन (Soumya Swaminathan) ने कहा है कि वर्तमान में दुनिया में कोरोना संक्रमण के करीब 99 फीसदी मामले डेल्टा वेरिएंट के हैं। नए वेरिएंट को इससे आगे निकलने के लिए अधिक संक्रामक होना होगा। हमें घबराने नहीं, बल्कि तैयार और सतर्क रहने की जरूरत है। हम एक साल पहले से अलग स्थिति में हैं।

WHO के आपात निदेशक माइक रयान ने कहा है कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि मौजूदा टीकों को ओमिक्रॉन से लड़ने के लिए संशोधित करने की आवश्यकता है। अधिकारियों को वर्तमान में अधिक लोगों को टीके लगाने के लिए काम करना चाहिए। सबसे अधिक जोखिम वाले लोगों को टीका लगाने पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें

Omicron: कोरोना का नया वेरिएंट भारत में ला सकता है तीसरी लहर, देता है इम्यूनिटी सिस्टम को धोखा

Omicron: दक्षिण अफ्रीका में तेजी से फैल रही कोरोना महामारी, एक दिन में मिले 11500 संक्रमित

Omicron खतरे के बीच दक्षिण अफ्रीका से आए 10 विदेशी नागरिक गायब, खोजने में फूले प्रशासन के हाथपांव
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios