इमरान खान के ऐलान के बाद पाकिस्तान में होगा बड़ा राजनैतिक उलटफेर, कई प्रदेशों के सीएम व विधायक देंगे इस्तीफा

| Nov 27 2022, 12:11 AM IST

इमरान खान के ऐलान के बाद पाकिस्तान में होगा बड़ा राजनैतिक उलटफेर, कई प्रदेशों के सीएम व विधायक देंगे इस्तीफा

सार

इमरान खान ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की एक बड़ी रैली में अपने दाहिने पैर में प्लास्टर के साथ मंच पर दिखे। 70 वर्षीय नेता ने बार-बार आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह और आईएसआई काउंटर इंटेलिजेंस विंग के प्रमुख मेजर-जनरल फैसल नसीर उन पर हमले के पीछे थे।

Imran Khan's party MLAs resignation: पाकिस्तान में बड़ा राजनैतिक खेल होने जा रहा है। पूर्व पीएम इमरान खान की पार्टी के सभी सदस्यों को प्रांतीय विधानसभाओं से इस्तीफा देने को कह दिया गया है। देश में चुनाव कराने के लिए शहबाज शरीफ सरकार पर पर दबाव बनाने के लिए पूर्व क्रिकेटर की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने यह फैसला किया है। अब पार्टी इस्लामाबाद की ओर मार्च करने की बजाय इस रणनीति पर आगे बढ़ेगी। इमरान खान की पार्टी के सभी सांसद नेशनल असेंबली से पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं लेकिन उसे स्वीकार नहीं किया गया है।
 
पैरों में प्लास्टर के साथ दिखे इमरान

इमरान खान ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की एक बड़ी रैली में अपने दाहिने पैर में प्लास्टर के साथ मंच पर दिखे। 70 वर्षीय नेता ने बार-बार आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह और आईएसआई काउंटर इंटेलिजेंस विंग के प्रमुख मेजर-जनरल फैसल नसीर उन पर हमले के पीछे थे। हकीकी आजादी मार्च के दौरान इमरान खान पर तीन नवम्बर को वजीराबाद में गोली मारी गई थी। इस हमले में इमरान खान समेत कई लोग घायल हुए थे जबकि एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। इस हमले में तीन हमलावर मारे गए थे। उन्होंने कहा कि दूसरे हमलावर ने उस पर गोली चलाई लेकिन जब वह नीचे गिर गया तो निशाना चूक गया और गोली उसके सिर के ऊपर से उड़ गई। तीसरे हमलावर को पहले बंदूकधारी को खत्म करने का काम सौंपा गया और उसने गोली चलाई लेकिन इसके बजाय एक निर्दोष प्रतिभागी को मारा जो मारा गया।

Subscribe to get breaking news alerts

इमरान के सभी मुख्यमंत्री व विधायक देंगे इस्तीफा

इमरान खान ने अपने विधायकों के इस्तीफा का ऐलान करते हुए कहा कि हम इस प्रणाली का हिस्सा नहीं होंगे। हमने सभी विधानसभाओं को छोड़ने और इस भ्रष्ट व्यवस्था से बाहर निकलने का फैसला किया है। पूर्व पीएम इमरान खान ने कहा कि मैं सभी मुख्यमंत्रियों और पार्टी नेताओं से विधानसभा छोड़ने के लिए सलाह लूंगा। बता दें कि इमरान खान की पार्टी की पंजाब और खैबर-पख्तूनख्वा के साथ-साथ पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर और गिलगित-बाल्टिस्तान में भी सरकारें हैं। सिंध और बलूचिस्तान विधानसभाओं में भी इसका प्रतिनिधित्व है। 

नेशनल असेंबली से सांसदों ने दे दिया है इस्तीफा

पार्टी के सांसदों ने पहले ही नेशनल असेंबली से इस्तीफा दे दिया था लेकिन सभी सांसदों के इस्तीफे स्वीकार नहीं किए गए हैं। इमरान खान, पाकिस्तान सरकार पर चुनाव कराने के लिए लगातार दबाव बना रहे हैं। इन दिनों वह इसी मुद्दे को लेकर हकीकी आजादी मार्च निकाले हैं। उधर, पाकिस्तान सरकार ने साफ किया है कि अगस्त 2023 में वर्तमान नेशनल असेंबली का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। तय समय के पहले चुनाव नहीं कराया जाएगा।

यह भी पढ़ें:

पाकिस्तान भेज रहा आतंकवाद के लिए धन! अलगाववादी नेता अब्दुल गनी भट से NIA की 8 घंटे पूछताछ में कई खुलासे

डॉ.सत्येंद्र जैन को तिहाड़ जेल में नहीं मिलेगा स्पेशल खाना, धार्मिक आस्था के अनुरूप भोजन मांग रहे थे मंत्री

दिल्ली एक्साइज केस चार्जशीट: मनीष सिसोदिया का नाम होगा शामिल? डिप्टी सीएम के कटाक्ष के बाद ED ने दी जानकारी

MCD elections: आम आदमी पार्टी करेगी 1000 नुक्कड़ सभाएं, म्यूजिकल व मैजिकल शो से लोगों को समझाएगी 10 गारंटी