Asianet News HindiAsianet News Hindi

ISI चीफ की रूस, चीन सहित कई देशों के इंटेलीजेंस चीफ के साथ गोपनीय मीटिंग, कौन सी खिचड़ी पका रहा पाकिस्तान?

अफगानिस्तान को लेकर ही यह मीटिंग रखा गया था लेकिन मीटिंग में क्या क्या चर्चा हुई और क्या रणनीति बनी यह स्पष्ट न हीं हो सका है। 

ISI chief Faiz Hamid secret meeting with China, Russia, Uzbekistan, Tajikistan Intelligence Chiefs, Know all about
Author
Islamabad, First Published Sep 12, 2021, 12:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद। अफगानिस्तान में तालिबान शासन आने के बाद पाकिस्तान कुछ अधिक ही खुश और सक्रिय हो गया है। एक ओर जहां विश्व के अन्य देश अफगानिस्तान में तालिबानी शासन के बाद आतंकवाद के पनपने के खतरे से आशंकित हैं तो पाकिस्तान लगातार तालिबान के समर्थन में चीन के साथ खड़ा दिख रहा। पाकिस्तानी मीडिया की मानें तो पाकिस्तान के आईएसआई चीफ ने चीन, रूस समेत कई देशों के इंटेलीजेंस चीफ से गोपनीय मीटिंग की है। कहा जा रहा है कि यह मीटिंग अफगानिस्तान में तालिबान को लेकर ही थी।

किन किन देशों ने शिरकत की मीटिंग में 

एक पाकिस्तानी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, आईएसआई के चीफ, लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद ने मीटिंग की अगुवाई की है। इस मीटिंग में चीन, रूस, ईरान, उज्बेकिस्तान, ताजिकिस्तान और तुर्कमेनिस्तान के इंटेलीजेंस चीफ ने हिस्सा लिया। बताया जा रहा है कि अफगानिस्तान को लेकर ही यह मीटिंग रखा गया था लेकिन मीटिंग में क्या क्या चर्चा हुई और क्या रणनीति बनी यह स्पष्ट न हीं हो सका है। 

तालिबान ने अमेरिका को बताया हारा हुआ देश
इस बीच Taliban से जुड़ी खबरों और जानकारियों को twitter के जरिये लोगों तक पहुंचाने वाले पेज तालिब टाइम्स(Talib Times) ने एक वीडियो शेयर करके अमेरिका को हारा हुआ देश बताया है। इसमें लिखा गया-20 साल पहले अमेरिका ने हमला किया था। 20 साल बाद अमेरिका चला गया गया; क्योंकि अमेरिका हार गया। बता दें कि 9/11 हमले के बाद अमेरिका ने अफगानिस्तान पर हमला कर दिया था। अब 30 अगस्त को उसकी सेना की अफगानिस्तान से वापसी हुई है।

पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह के बड़े भाई की हत्या
तालिबान अपने विरोधियों को छोड़ना नहीं चाहता। उसने अफगानिस्तान के पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह के बड़े भाई रोहुल्लाह सालेह की हत्या कर दी। उन्हें पंजशीर घाटी में मौत के घाट उतार दिया। तालिबान लड़ाकों ने उन्हें कोड़ों और बिजली के तारों से पीटा। फिर गला काट दिया। जब वे तड़प रहे थे, तब गोलियां भी चलाईं। वे पंजशीर से काबुल आने की फिराक में थे।

यह भी पढ़ें:

गुजरात में कौन होगा मुख्यमंत्री? बीजेपी विधायकों को गांधीनगर बुलाया गया, आज चुना जाएगा नया नेता

Tokyo Paralympic के मेडलिस्ट से PM Modi ने मुलाकात कर हौसला बढ़ाया, एथलीट्स ने गिफ्ट किया सिग्नेचर वाला स्टोल

बीजेपी प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल ने मां काली का दर्शन कर बोली: मां के आशीर्वाद से बंगाल के लोगों को न्याय दिलाउंगी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios