Asianet News HindiAsianet News Hindi

Janmashtami 2022: बांग्लादेश की PM शेख हसीना और ब्रिटेन से ऋषि सुनक ने दिया दुनियाभर को एक स्पेशल मैसेज

इस बार जन्माष्टमी (Janmashtami 2022) पर कई शुभ योग बने हैं। कुछ योग भारत और अन्य देशों के बीच रिश्तों को लेकर भी हैं। बांग्लादेश की PM ने जन्माष्टमी पर खास संदेश दिया। वहीं, ब्रिटेन में PM पद के प्रबल दावेदार ऋषि सुनक भी मंदिर पहुंचे।

Janmashtami 2022: Bangladesh PM Sheikh Hasina and Rishi Sunak gave a special message to Hindus kpa
Author
New Delhi, First Published Aug 19, 2022, 8:22 AM IST

वर्ल्ड न्यूज. कृष्ण जन्मोत्सव यानी जन्माष्टमी (19 अगस्त) को देश-दुनिया में मनाई जा रही है। इस बार जन्माष्टमी (Janmashtami 2022) पर कई शुभ योग बने हैं। कुछ योग भारत और अन्य देशों के बीच रिश्तों को लेकर भी हैं। बांग्लादेश की PM ने जन्माष्टमी पर खास संदेश दिया। वहीं, ब्रिटेन में PM पद के प्रबल दावेदार ऋषि सुनक भी मंदिर पहुंचे। बांग्लादेश के राष्ट्रपति एम अब्दुल हमीद ने भी हिंदू समुदाय को बधाई दी। यहां, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा-सभी देशवासियों को जन्माष्टमी के पावन-पुनीत अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं। भक्ति और उल्लास का यह उत्सव हर किसी के जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य लेकर आए।

जन्माष्टमी पर शेख हसीना ने दिया ये संदेश
पवित्र जन्माष्टमी के अवसर पर हिंदू समुदाय के नेताओं के साथ बधाई का आदान-प्रदान करते हुए प्रधान मंत्री शेख हसीना ने गुरुवार को (18 अगस्त) देश के हिंदू समुदाय से खुद को अल्पसंख्यक नहीं मानने का आग्रह करते हुए कहा कि बांग्लादेश में सभी लोगों को उनके धर्म के बावजूद समान अधिकार प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा, "हम चाहते हैं कि सभी धर्मों के लोग समान अधिकारों के साथ रहें। आप इस देश के लोग हैं, यहां आपको समान अधिकार हैं, आपके पास भी वही अधिकार हैं जो मेरे पास हैं।" उन्होंने कहा,"हम भी आपको उसी तरह देखना चाहते हैं। कृपया खुद को कमजोर न करें। आप इस देश में जन्म लेते हैं, आप इस देश के नागरिक हैं।" प्रधानमंत्री ढाका के ढाकेश्वरी मंदिर और चट्टोग्राम के जेएम सेन हॉल में अपने गोनो भवन स्थित आवास से कार्यक्रम में शामिल हुईं।

हालांकि प्रधान मंत्री ने हिंदू समुदाय के लोगों के एक वर्ग पर हमले को जिक्र करते हुए कहा कि ये यह बताने की कोशिश करते हैं कि बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति बहुत खराब है। उन्होंने कहा, 'मैं एक बात बड़े अफसोस के साथ कहना चाहूंगी कि जब भी देश में कोई घटना होती है, तो उसका देश-विदेश में इस तरह प्रचार-प्रसार किया जाता है कि इस देश में हिंदुओं का कोई हक नहीं है। हसीना ने कहा कि जब भी कोई घटना होती है, तो सरकार उसके खिलाफ तत्काल कार्रवाई करती है। लेकिन, उस घटना को इस तरह से रंग दिया जाता है कि यहां हिंदुओं का कोई अधिकार नहीं है। लेकिन घटनाओं के बाद सरकार की कार्रवाई पर उचित ध्यान नहीं दिया जाता है। प्रीमियर ने कहा कि ढाका में पूजा मंडपों की संख्या पश्चिम बंगाल या कोलकाता की संख्या से अधिक है और पूरे बांग्लादेश में दुर्गा पूजा बड़े पैमाने पर मनाई जाती है। शेख हसीना ने कहा कि बांग्लादेश दुनिया में एक अलग जगह है जहां सभी धर्मों के लोग कोई न कोई धार्मिक त्योहार मनाते हैं।

ऋषि सुनक ने मनाई जन्माष्टमी
ब्रिटिश प्रधान मंत्री पद के प्रबल दावेदार ऋषि सुनक गुरुवार को लोकप्रिय हिंदू त्योहार जन्माष्टमी मनाने के लिए एक मंदिर पहुंचे। भक्तिवेदांत मनोर मंदिर की यात्रा के दौरान उनकी पत्नी अक्षता मूर्ति साथ थीं। उन्होंने मंदिर में अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए ट्विटर पर लिखा, "आज मैं अपनी पत्नी अक्षता के साथ जन्माष्टमी मनाने के लिए भक्तिवेदांत मनोर मंदिर गया, जो लोकप्रिय हिंदू त्योहार भगवान कृष्ण का जन्मदिन है।"

pic.twitter.com/WL3FQVk0oU

यह भी पढ़ें
Janmashtami 2022: कहां बन रहा है दुनिया का सबसे बड़ा कृष्ण मंदिर, कितने हजार करोड़ रहेगी लागत?
Janmashtami 2022: जन्माष्टमी पर बोलें भगवान श्रीकृष्ण के ये 51 नाम, हर इच्छा हो सकती है पूरी
Janmashtami 2022 Upay: ये हैं जन्माष्टमी के 7 आसान उपाय, एक भी कर लेंगे तो दूर हो जाएगा आपका बेड लक

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios