USA में फिर मास फायरिंग, डेस मोइनेस में एक NGO स्कूल में अंधाधुंध गोलीबारी में 2 छात्रों की मौत

| Jan 24 2023, 06:53 AM IST

Mass shooting again in America

सार

अमेरिका में फिर से सामूहिक गोलीबारी हुई है। आयोवा की कैपिटल सिटी डेस मोइनेस के एक स्कूल में हुई फायरिंग में 2 छात्रों की मौत हो गई, जबकि एक कर्मचारी घायल है। तीन संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया है। 

आयोवा(Iowa). अमेरिका में फिर से सामूहिक गोलीबारी(mass shooting) हुई है। आयोवा की कैपिटल सिटी डेस मोइनेस(Des Moines is the capital city of Iowa) के एक स्कूल में हुई फायरिंग में 2 छात्रों की मौत हो गई, जबकि एक कर्मचारी घायल है। तीन संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया है। इससे पहले कैलिफोर्निया में 72 वर्षीय हमलावर ने शनिवार की रात मोंटेरी पार्क में एक डांस हॉल में फायरिंग कर दी थी। हादसे में 10 लोगों की मौत हो गई थी। पढ़िए पूरी डिटेल्स...

एक NGO की भागीदारी से चलता है स्कूल

Subscribe to get breaking news alerts

डेस मोइनेस पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को हुई शूटिंग में दो छात्रों की मौत हो गई और एक टीचर घायल हो गया। शूटिंग लगभग 12:53 बजे(सोमवार स्थानीय समयानुसार) बताई गई है। फायरिंग यहां जरूरतमंद युवाओं की मदद के लिए चलने वाले NGO के एक स्कूल स्टार्ट्स राइट हियर कम्यूनिटी पब्लिक स्कूल में हुई। स्टार्ट्स राइट हियर को एक्टिविस्ट और रैपर विल कीप्स ने बनाया था। आउटरीच केंद्र 455 दक्षिण पश्चिम 5वें सेंट पर स्थित है।

स्टार्ट्स राइट हियर 2021 से डेस मोइनेस पब्लिक स्कूल(DMPS) का भागीदार है। वे एक समय में 40-50 डीएमपीएस छात्रों के बीच एजुकेशनल प्रोग्राम संचालित करते हैं। शूटिंग के समय कोई डीएमपीएस कर्मचारी ऑनसाइट नहीं था। यह साझेदारी 2021 में शुरू हुई थी।

यह भी जानिए

पुलिस के मुताबिक फायरिंग में तीन लोगों को गोली लगी। गंभीर रूप से घायल दो छात्रों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उनकी मौत हो चुकी थी। तीसरे व्यक्ति की पहचान डेस मोइनेस के मेयर फ्रैंक कोनी ने विल कीप्स के रूप में की है, को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया। सोमवार दोपहर को कीप्स की सर्जरी की गई। पुलिस का कहना है कि गोलीबारी की घटना के लगभग 20 मिनट बाद ट्रैफिक रुकने के बाद तीन संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया। दो संदिग्ध वाहन में फंस गए थे। तीसरा संदिग्ध भाग गया था, हालांकि उसे भी पकड़ लिया गया।

सार्जेंट पॉल पारिज़ेक ने कहा कि शूटिंग एक टार्गेटेड घटना थी। पुलिस का कहना है कि उन्होंने सभी संदिग्धों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने संदिग्धों की पहचान जारी नहीं की है। हमले की वजह भी सामने नहीं आई है।

इससे पहले कैलिफोर्निया में हुई थी फायरिंग

इससे पहले शनिवार रात साउथ गारफील्ड एवेन्यू के 100 ब्लॉक में लाई लाई बॉलरूम एंड स्टूडियो(Lai Lai Ballroom & Studio) में शूटिंग का प्रयास किया गया था। इसके कुछ मिनटों बाद ही कैलिफोर्निया में फायरिंग हुई थी। इस हमले में 10 लोगों की मौत हुई थी। लॉस एंजिल्स काउंटी के शेरिफ रॉबर्ट लूना के मुताबिक, संदिग्ध हू केन ट्रान(Huu Can Tran) ने बाद में खुद को गोली मारकर खत्म कर लिया था। उसने खुद को तब मार डाला, जब टोरेंस में पुलिस ने उसे पकड़कर अपनी वैन में खींच लिया था।

यह भी पढ़ें

कैलिफोर्निया में मास शूटिंग-72 साल के इस शख्स ने की थी अंधाधुंध फायरिंग, 10 लोगों की हत्या के बाद कर लिया सुसाइड

खालिस्तानी कट्टरपंथियों की नापाक हरकत, ऑस्ट्रेलिया में 15 दिन में तीसरी बार हिंदू मंदिर पर अटैक, हिंदुस्तान विरोधी नारे लिखे