Asianet News Hindi

इमरान का खेल, मोस्ट वॉन्टेड को भेजा जेल, आखिर क्या है वजह

इस कार्रवाई का राजनीतिक महत्व भी निकाला जा रहा है। कुछ दिन बाद इमरान खान अमेरिका दौरे पर जाने वाले हैं।

most wanted terrorist and master mind hafij saeed arrest
Author
New Delhi, First Published Jul 17, 2019, 3:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. मोस्ट वॉन्टेड आतंकी हाफिज सईद को गिरफ्तार कर लिया है। पाकिस्तान काउंटर टेरेरिज्म  ने ये कार्रवाई की है। उसे अब न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा। हालांकि इस कार्रवाई का राजनीतिक महत्व भी निकाला जा रहा है। कुछ दिन बाद इमरान खान अमेरिका दौरे पर जाने वाले हैं। उससे पहले यह गिरफ्तारी हुई है। वहीं इस मामले पर भारत भी नजर बनाए हुआ है। बता दें, भारत हाफिज सईद को 2008 के मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड मानता है। हालांकि हाफिज सईद और अन्य आतंकियों ने अपने खिलाफ दर्ज टेरर फंडिंग मामले में सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। सभी ने इस मामले में एफआईआर रद्द करने की मांग की है। याचिका में कहा- हाफिज सईद का लश्कर-ए-तैयबा, अल कायदा या अन्य किसी भी संगठनों से कोई लेना-देना नहीं है। सईद को मुंबई के आतंकी हमलों के लिए भारतीय लॉबी ने मास्टरमाइंड बताया है जो कि सच्चाई से बिल्कुल उलट है। 


कब- कब हुआ नजरबंद

हाफिज सईद से इससे पहले 2001 में संसद हमले के बाद भारत के दबाव के चलते पाकिस्तान सरकार ने हाऊस अरेस्ट किया था।   2006 में मुंबई में ट्रेन में धमाके का लिंक हाफिज सईद के संगठन से जुड़ा था। जिसके वैश्विक दबाव के चलते उसे नजरबंद किया था। 2008 हमले के दौरान भी हाउस अरेस्ट किया गया। वहीं कुछ महीने पहले आम चुनाव के चलते हाफिज को नजरबंद किया था। हालांकि हरबार वह किसी न किसी वजह से छूटता रहा। 

क्या है मामला

महीने की शुरआत मे पाकिस्तान की काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट (सीटीडी) ने हाफिज सईद सहित 12 लोगों के खिलाफ 23 केस दर्ज किए थे। सीटीडी ने ये केस आतंकी फंडिंग के तहत किये थे।  अधिकारियों का कहना था कि ये लोग ट्रस्ट के नाम पर फंडिंग करवाते थे और उसका इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों में करते थे। जिसका प्रमुख हाफिज सईद है। इसके अलावा लश्कर ए तैयबा और फलाह ए इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) से जुड़े आतंकी भी शामिल हैं। इस मामले में 23 केस पाकिस्तान के लाहौर सहित कई शहरों में दर्ज किए गए थे।  सीटीडी को जांच में पता चला है, यह लोग जमात, लश्कर और एफआईएफ ट्रस्ट के जरिए फंडिंग जुटाते थे और इस रकम का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए करते थे। ट्रस्ट में अल-अनफाल, दावत उल इरशाद, अल हमद, अल मदीना और मौज बिन जबल जैसे प्रमुख नाम शामिल हैं। इस मामले में सुनवाई अब एंटी टेरेरिज्म कोर्ट करेगी।

कौन है हाफिज सईद
हाफिज सईद 26/11 मुंबई आतंकी हमले का मास्टर माइंड है। वह जमात के जरिए आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के लिए फंड इकट्ठे करता है। भारत में आतंकी हमले के लिए आतंकियों को ट्रेनिंग भी देता है। 2012 में उसे अमेरिका ने वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया था। हाफिज सईद के ऊपर 10 मिलियन डॉलर का इनाम घोषित किया गया है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios