पद संभालते के बाद पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने अलापा कश्मीर राग, कहा- लड़ाई के लिए हैं तैयार

| Dec 04 2022, 01:02 PM IST

पद संभालते के बाद पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने अलापा कश्मीर राग, कहा- लड़ाई के लिए हैं तैयार

सार

पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल सैयद असीम मुनीर ने कहा है कि पाकिस्तान की सेना लड़ाई के लिए तैयार है। सेना देश के हर एक इंच जमीन की रक्षा करेगी। उन्होंने कश्मीर राग भी अलापा।
 

नई दिल्ली। पद संभालते ही पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल सैयद असीम मुनीर ने कश्मीर का राग अलापा है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान की सेना लड़ाई के लिए तैयार है। वह देश के हर इंज जमीन की रक्षा करेगी। अगर कोई दुस्साहस किया जाता है तो पूरी ताकत से उसका मुकाबला किया जाएगा।

असीम मुनीर ने 3 दिसंबर को नियंत्रण रेखा (एलओसी) के रखचिकरी सेक्टर की यात्रा की। उन्होंने अग्रिम मोर्चों पर तैनात सैनिकों सैनिकों से मुलाकात की। सेना प्रमुख ने अधिकारियों और सैनिकों से बातचीत की और उनका मनोबल बढ़ाया। जनरल मुनीर कहा कि हमने हाल ही में गिलगित बाल्टिस्तान और जम्मू-कश्मीर पर भारतीय नेतृत्व के बयान देखे हैं। मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि पाकिस्तान की सेनाएं हमारी मातृभूमि के एक-एक इंच की रक्षा के लिए तैयार है। यदि युद्ध थोपा जाता है तो पाकिस्तान की सेना दुश्मन से लड़ाई करने के लिए भी तैयार है।

Subscribe to get breaking news alerts

कश्मीरी लोगों से किया गया वादा पूरा हो
जनरल मुनीर ने कश्मीर मुद्दे पर कहा कि दुनिया को न्याय सुनिश्चित करना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के अनुसार कश्मीरी लोगों से जो वादा किया गया है उसे पूरा करना चाहिए। बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने 24 नवंबर को लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर को थल सेनाध्यक्ष और लेफ्टिनेंट जनरल साहिर शमशाद मिर्जा को स्टाफ कमेटी के नए अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया था।

अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से खराब हैं भारत-पाकिस्तान के संबंध
गौरतलब है कि भारत सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर में लागू अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया था। इसके बाद जम्मू और कश्मीर की विशेष स्थिति खत्म हो गई। इसके बाद से भारत और पाकिस्तान के संबंध खराब हैं। पाकिस्तान से भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कम कर दिया था और भारतीय दूत को निष्कासित कर दिया था। इसके बाद से पाकिस्तान और भारत के बीच व्यापार संबंध भी न के बराबर हैं। भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि पूरा केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख देश का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा था और रहेगा।