Asianet News HindiAsianet News Hindi

Imran Khan पाकिस्तान में ही घिरे, मंत्री ने लगाया Nawaz Sharif को London भेजने की साजिश का आरोप

उमर ने कहा कि वो इस बैठक में मौजूद थें। उनके अतिरिक्त उस मीटिंग में 6-8 अन्य मंत्रीमंडल के सदस्य भी मौजूद थे। मंत्री के मुताबिक इसके बारे में सबसे पहले कैबिनेट की बैठक में चर्चा की गई थी। 

Pakistan Prime Minister Imran Khan granted permission to Nawaz Sharif for London treatment, Colleague minister alleged, DVG
Author
Islamabad, First Published Jan 23, 2022, 3:27 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Prime Minister Imran Khan) अपने ही सहयोगियों के बयानों से फंसते नजर आ रहे हैं। इमरान सरकार के एक मंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Former PM Nawaz Sharif) को लंदन (London) भेजने में पीएम इमरान द्वारा सहयोग करने का आरोप लगाया है। मंत्री ने आरोप लगाया कि पीएम ने नवाज शरीफ के जाने की सारी व्यवस्था कराई थी। 

कौन हैं मंत्री असद उमर?

इमरान खान पर आरोप उनके मंत्री असद उमर (Asad Umar) ने लगाया है। असद उमर, पाकिस्तान के प्‍लानिंग, डेवलेपमेंट एंड स्‍पेशल इनिशिएटिव के मंत्री हैं। उमर ने आरोप लगाया कि नवाज शरीफ के लंदन जाने के लिए इमरान खान ही जिम्मेदार हैं।

पाकिस्तान में हो रही किरकिरी

पाकिस्तान की एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उमर ने खुलासा किया कि चिकित्सीय इलाज के लिए नवाज शरीफ को लंदन भेजने का फैसला 100 फीसदी प्रधानमंत्री इमरान खान का था। उमर ने कहा कि पीएम इमरान खान ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को लंदन इलाज के लिए भेजे जाने के फैसले को लेकर एक मीटिंग बुलाई थी। इस मीटिंग का उद्देश्य यह जानना था कि उनको लंदन इलाज के लिए भेजा जाए या नहीं भेजा जाए। हालांकि, पाकिस्तान के मंत्री ने यह भी दावा किया कि नवाज शरीफ को लंदन भेजे जाने का निर्णय पूरी तरह से इमरान खान ने ही लिया था।्

कैबिनेट में चर्चा की गई

न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक उमर ने कहा कि वो इस बैठक में मौजूद थें। उनके अतिरिक्त उस मीटिंग में 6-8 अन्य मंत्रीमंडल के सदस्य भी मौजूद थे। मंत्री के मुताबिक इसके बारे में सबसे पहले कैबिनेट की बैठक में चर्चा की गई थी। सारा फैसला प्रधानमंत्री इमरान खान ने लिया था।

भ्रष्टाचार के आरोपों के दोषी हैं नवाज शरीफ

71 साल के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पाकिस्तान में भ्रष्टाचार के दो मामलों में दोषी ठहराए गए हैं। नवंबर, 2019 से ही नवाज शरीफ लंदन में हैं। लाहौर हाईकोर्ट की तरफ से नवाज शरीफ को मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए 4 हफ्तों के लिए लंदन जाने की अनुमति मिली थी। हालांकि, लंदन जाने के बाद नवाज शरीफ वापस पाकिस्तान नहीं लौटे। 

नवाज शरीफ व इमरान खान हैं प्रतिद्वंद्वी

इमरान खान अक्सर भ्रष्टाचार को लेकर नवाज शरीफ को निशाना बनाते रहे हैं। हालांकि, पाकिस्तान में चुनाव आय़ोग ने इमरान खान की पार्टी को लेकर बताया है कि तहरीक-ए-इंसाफ ने विदेश से मिलने वाले चंदों की सही जानकारी नहीं दी है।

यह भी पढ़ें:

बम धमाकों से दहला पाकिस्तान; लाहौर के अनारकली बाजार में चार ब्लास्ट, 5 लोगों की मौत, 20 से जयादा लोग घायल

आतंक का आका Pakistan कर रहा भारत के खिलाफ बड़ी साजिश, ड्रग तस्करों का इस्तेमाल कर भेज रहा IED

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios