Asianet News HindiAsianet News Hindi

दो महाशक्तियों में बढ़ा तनाव: US और Russia ने एक दूसरे के डिप्लोमेट्स को किया वापस

रूसी उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने मामले को लेकर कहा है कि अमेरिका को रूसी डिप्लोमेट्स को रूस जाने से रोकने में अभी भी बहुत देरी नहीं हुई है। 

United Staes of America and Russia diplomatic tension increased, both directed each other to back their Diplomats, Ukraine border activities tenses, DVG
Author
Washington D.C., First Published Dec 2, 2021, 1:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मॉस्को। दुनिया की दो महाशक्तियां (world power) एक बार फिर आमने-सामने हैं। रूस (Russia) और अमेरिका (America) के बीच तनाव बढ़ गया है। रूस ने अमेरिकी दूतावास (US Embassy) के कई कर्मचारियों को 31 जनवरी तक अमेरिका लौटने का आदेश दिया है। 
उधर, अमेरिका ने भी पहले ही रूसी डिप्लोमेट (Russian Diplomat) को वापस लौटने को कह दिया है। रूसी राजदूत ने बताया था कि 27 रूसी डिप्लोमेट और उनके परिवारों को भी 31 जनवरी तक अमेरिका छोड़ने को कहा गया था। 

अमेरिका का तर्क, क्यों रूसी राजदूत को वापसी को कहा?

अमेरिका ने रूसी डिप्लोमेट्स को वापस करने के मामले में सफाई दी है। वाशिंगटन ने कहा है कि उसने रूसी डिप्लोमेट्स को वापस नहीं किया है। अमेरिका में कोई भी डिप्लोमेट तीन साल से अधिक समय तक नहीं रहता है। रूसी डिप्लोमेट्स भी तीन साल से अधिक समय से यहां थे, इसलिए उनको वापस कर दिया गया है।

रूसी ने भी दिया जवाब

रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि हम इसी तरह से जवाब देने का इरादा रखते हैं। अमेरिकी दूतावास के कर्मचारी जो तीन साल से अधिक में मॉस्को में हैं उन्हें 31 जनवरी तक रूस छोड़ देना चाहिए। अमेरिका ने मामले को लेकर कहा है कि व्लादिवोस्तोक और येकातेरिनबर्ग में वाणिज्य दूतावास बंद होने के बाद मॉस्को दूतावास रूस में अंतिम परिचालन अमेरिकी मिशन है। 2017 की शुरुआत में यहां करीब 1200 कर्मचारी थे जो अब 120 कर्मचारियों तक सिमट गए हैं। रूसी उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने मामले को लेकर कहा है कि अमेरिका को रूसी डिप्लोमेट्स को रूस जाने से रोकने में अभी भी बहुत देरी नहीं हुई है। 

यूक्रेन को लेकर बढ़ा तनाव

यूक्रेन (Ukraine) को लेकर रूस और अमेरिका के बीच फिर से तनाव बढ़ गया है। रूसी सेना ने यूक्रेन बॉर्डर पर गतिविधियां बढ़ा दी हैं और अमेरिका इसे लेकर विरोध कर रहा है। अमेरिका Antony Blinken ने रूस को यूक्रेन में आक्रामकता से दूर रहने की चेतावनी देते हुए कहा है कि मॉस्को के 'किसी भी कदम' के 'गंभीर परिणाम' हो सकते हैं। 

Read this also:

Research: Covid का सबसे अधिक संक्रमण A, B ब्लडग्रुप और Rh+ लोगों पर, जानिए किस bloodgroup पर असर कम

Covid-19 के नए वायरस Omicron की खौफ में दुनिया, Airlines कंपनियों ने double किया इंटरनेशनल fare

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios