Asianet News HindiAsianet News Hindi

चीन में कोविड लॉकडाउन पर लोगों का गुस्सा, बप्पी दा के गाने 'जिम्मी-जिम्मी, आ जा- आ जा' ने क्यों मचा दी धूम?

चीन में लाखों लोग जो कि कोविड लॉकडाउन की वजह से परेशान हैं, वे बप्पी लाहिड़ी के गाने जिम्मी-जिम्मी, आ जा आ जा...गाना बजाकर लॉकडाउन का विरोध कर रहे हैं। यह गाना 1982 में रिलीज मूवी डिस्को डांसर का है, जिसे आज भी खूब पंसद किया जाता है। 
 

why chinese protesting covid lockdowns are singing bappi lahiri jimmy jimmy mda
Author
First Published Nov 1, 2022, 12:01 PM IST

Jimmy Jimmy In China. चीन में लाखों लोग जो कि कोविड लॉकडाउन की वजह से परेशान हैं, वे बप्पी लाहिड़ी के गाने जिम्मी-जिम्मी, आ जा आ जा...गाना बजाकर लॉकडाउन का विरोध कर रहे हैं। यह गाना 1982 में रिलीज मूवी डिस्को डांसर का है, जिसे आज भी खूब पंसद किया जाता है। बप्पी दा का यह गाना अब लाखों चीनियों के विरोध की आवाज बन चुका है, जिसकी गूंज चीन में सुनी जा रही है।

यह गाना उन लोगों की आवाज बन रहा है जो सरकार के काम से नाराज हैं और जिनका मानना है कि गवर्नमेंट ने कोविड की स्थिति को सही तरह से नहीं संभाला है। कोरोना महामारी के दौरान लाखों लोगों की जानें तो गई ही अभी भी चीन के लोगों को लॉकडाउन से मुक्ति नहीं मिल पा रही। दरअसल टिकटॉक के चाइनीज वर्जन पर यह गाना ट्रांसलेट करके बजाया जा रहा है। बप्पी लाहिड़ी के कंपोज किए गए इस गाने को पार्वती खान ने गाया है। इसका मंदारिन भाषा में ट्रांसलेट किया गया है। यह जीमी जी मी की तरह सुनाई देता है। इसका बहुत ही खराब ट्रांसलेशन किया गया है जिसमें कहा जा रहा गिव मी राइस, गिव मी राइस। लोग सरकार का विरोध करने के लिए खाली डिब्बों का प्रदर्शन कर रहे हैं और उनका कहना है कि कैसे देश के लोगों ने कोविड लॉक डाउन के दौरान खाने-पीने की चीजों की दिक्कतों का सामना किया।

चीन में पॉपुलर रही हैं हिंदी फिल्में
हिंदी फिल्मों की बात करें तो 1950 और 60 के दशक में भारतीय फिल्में चीन में भी खूब पसंद की जाती थी। हाल फिलहाल की बात करें तो थ्री इडियट्स, सीक्रेट सुपरस्टार, हिंदी मीडियम, दंगल और अंधाधुन जैसी फिल्में भी चीन में खूब पॉपुलर रही हैं। चीन में भारतीय फिल्मों पर बैन नहीं है और वहां अथॉरिटी भी इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देती है। अब बप्पी लाहिड़ी का यह गाना चीन में बेहद पसंद किया जा रहा है और यह सरकार के खिलाफ विरोध का सुर भी बन गया है।

यह भी पढ़ें

बांग्लादेश में फिर से हिंदू मंदिर पर हमला, मां काली की मूर्ति तोड़कर गायब हुए उपद्रवी, पढ़िए पूरी जानकारी
 


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios