Aaj Ka Panchang 15 मार्च 2023: आज करें शीतला अष्टमी व्रत, सूर्य और चंद्रमा करेंगे राशि परिवर्तन

| Mar 15 2023, 05:30 AM IST

Panchang-15-mArch-2023

सार

15 मार्च, बुधवार को पहले ज्येष्ठा नक्षत्र होने से ध्वांक्ष नाम का अशुभ योग और इसके बाद मूल नक्षत्र होने से ध्वजा नाम का शुभ योग बनेगा। इनके अलावा सिद्धि और व्यातिपात नाम के 2 अन्य योग भी इस दिन रहेंगे। राहुकाल दोपहर 12:36 से 2:05 तक रहेगा।

 

उज्जैन. 15 मार्च को सूर्य कुंभ राशि से निकलकर मीन में प्रवेश करेगा। इसे मीन संक्रांति कहेंगे और इसी दिन से खर मास का आरंभ भी होगा, जो 14 अप्रैल तक रहेगा। खर मास का महत्व अनेक धर्म ग्रंथों में बताया गया है। इस महीने के दौरान कोई भी शुभ कार्य जैसे- विवाह, मुंडन आदि नहीं किए जाते। मान्यता के अनुसार, इस महीने भगवान सूर्य देवगुरु बृहस्पति की सेवा में रहते हैं। पंचांग में इस मास के बारे में बताया जाता है। आगे पंचांग से जानिए आज कौन-कौन से शुभ योग बनेंगे, कौन-सा ग्रह किस राशि में रहेगा और राहु काल व अभिजीत मुहूर्त का समय…

आज करें शीतला अष्टमी व्रत
चैत्र मास के कृष्ण पक्ष शीतला माता की पूजा 2 दिन की जाती है। इसे शीतला सप्तमी और शीतला अष्टमी कहा जाता है। 15 मार्च, बुधवार को शीतला अष्टमी का पर्व मनाया जाएगा। इस दिन महिलाएं सुबह जल्दी उठकर देवी शीतला की पूजा करती हैं और एक दिन पहले बनाए गए भोजन का भोग माता को लगाती हैं। मान्यता है कि देवी शीतला की पूजा से शीतजन्य रोग नहीं होते।

Subscribe to get breaking news alerts

15 मार्च का पंचांग (Aaj Ka Panchang 15 March 2023)
15 मार्च 2023, दिन बुधवार को चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि शाम 06.45 तक रहेगी, इसके बाद नवमी तिथि आरंभ हो जाएगी। इस दिन शीतला अष्टमी का व्रत किया जाएगा। बुधवार को सूर्योदय ज्येष्ठा नक्षत्र में होगा, जो सुबह 07.33 तक रहेगा, इसके बाद मुल नक्षत्र रात अंत तक रहेगा। बुधवार को पहले ज्येष्ठा नक्षत्र होने से ध्वांक्ष नाम का अशुभ योग और इसके बाद मूल नक्षत्र होने से ध्वजा नाम का शुभ योग बनेगा। इनके अलावा सिद्धि और व्यातिपात नाम के 2 अन्य योग भी इस दिन रहेंगे। राहुकाल दोपहर 12:36 से 2:05 तक रहेगा।

ग्रहों की स्थिति कुछ इस प्रकार रहेगी…
बुधवार को सूर्य कुंभ से निकलकर मीन राशि में और चंद्रमा वृश्चिक से निकलकर धनु राशि में प्रवेश करेगा। इस दिन मंगल मिथुन राशि में, बुध और शनि कुंभ राशि में, गुरु मीन राशि में, केतु तुला राशि में और राहु व शुक्र मेष राशि में रहेंगे। बुधवार को उत्तर दिशा की यात्रा करने से बचना चाहिए। यदि निकलना पड़े तो तिल या धनिया खाकर घर से बाहर निकलें।

15 मार्च के पंचांग से जुड़ी अन्य खास बातें
विक्रम संवत- 2079
मास पूर्णिमांत- चैत्र
पक्ष- कृष्ण
दिन- बुधवार
ऋतु- वसंत
नक्षत्र- ज्येष्ठा और मूल
करण- बालव , कौलव और तैतिल
सूर्योदय - 6:39 AM
सूर्यास्त - 6:31 PM
चन्द्रोदय - Mar 15 1:05 AM
चन्द्रास्त - Mar 16 12:50 PM
अभिजीत मुहूर्त- इस दिन नहीं है।

15 मार्च का अशुभ समय (इस दौरान कोई भी शुभ काम न करें)
यम गण्ड - 8:08 AM – 9:38 AM
कुलिक - 11:07 AM – 12:36 PM
दुर्मुहूर्त - 12:12 PM – 12:59 PM
वर्ज्यम् - 03:21 PM – 04:50 PM



ये भी पढ़ें-

Dream Astrology: सपने में इन 5 पशु-पक्षियों का दिखना माना जाता है शुभ, जानें इन खास संकेतों के बारे में


Chaitra Navratri 2023: कब से शुरू होगी चैत्र नवरात्रि, कौन-कौन से शुभ योग बनेंगे इन 9 दिनों में?


Palmistry: मौत का राज़ खोलती है हथेली की ये रेखा, आप भी जान सकते हैं कब-कैसे होगी किसकी मृत्यु?

 

Disclaimer : इस आर्टिकल में जो भी जानकारी दी गई है, वो ज्योतिषियों, पंचांग, धर्म ग्रंथों और मान्यताओं पर आधारित हैं। इन जानकारियों को आप तक पहुंचाने का हम सिर्फ एक माध्यम हैं। यूजर्स से निवेदन है कि वो इन जानकारियों को सिर्फ सूचना ही मानें। आर्टिकल पर भरोसा करके अगर आप कुछ उपाय या अन्य कोई कार्य करना चाहते हैं तो इसके लिए आप स्वतः जिम्मेदार होंगे। हम इसके लिए उत्तरदायी नहीं होंगे।

 

 

Top Stories