Asianet News HindiAsianet News Hindi

पेट्रोल वाहन की कीमत पर मिलेंगे Electric vehicles, मंत्री नितिन गडकरी ने बताया सरकार का Plan

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी( Union Minister Nitin Gadkari) ने कहा कि अगले दो साल में पेट्रोल कार और इलेक्ट्रिक कार (Electric Car) की कीमतें एक बराबर हो जाएंगी। गडकरी ने दावा किया कि दो साल बाद के पेट्रोल और इलेक्ट्रिक गाड़ियां एक ही कीमत पर बिकनी शुरू हो जाएंगी। 

Electric vehicles available at the cost of petrol vehicle, Nitin Gadkari told the plan of Modi government, auto news RPS
Author
Bhopal, First Published Nov 8, 2021, 7:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क । देश में इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric vehicles) के लिए लोगों का रुझान बढ़ा है। पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel) की लगातार बढ़ती कीमतों से आम आदमी परेशान है, वहीं इसके विकल्प के तौर पर वह इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में तो पहुंच गए हैं। लेकिन इनकी कीमत इतनी ज्यादा है कि देश का अधिकतम मध्यम और निम्न मध्यम वर्ग ( middle and lower middle class) की पहुंच से फिलहाल दूर है। इलेक्ट्रिक दो पहिया वाहन तो फिर भी लोग हिम्मत जुटाकर खरीद रहे हैं पर इलेक्ट्रिक कार मीडियम रेंज में उपलब्ध नहीं है। लेकिन जल्द ही स्थिति बदले वाली है। आगामी 2 साल (next 2 years) में इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमतें पेट्रोल वाहनों की कीमत के बाराबर हो जाएंगी। केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister for Transport and Highways Nitin Gadkari) ने इसका भरोसा दिया है। 

इलेक्ट्रिक वाहनों पर GST महज 5 फीसदी
सस्टेनेबिलिटी फाउंडेशन संस्था (Sustainability Foundation) द्वारा आयोजित वेबिनार (webinar) में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि अगले दो साल में पेट्रोल कार और इलेक्ट्रिक कार की कीमतें एक बराबर हो जाएंगी। गडकरी ने दावा किया कि दो साल बाद के पेट्रोल और इलेक्ट्रिक गाड़ियां एक ही कीमत पर बिकनी शुरू हो जाएंगी। मौजूदा समय में दोनों गाड़ियों की कीमतों में बड़ा अंतर है। वेबीनार में नितिन गडकरी ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों पर GST महज 5 फीसदी है, जबकि पेट्रोल वाहनों पर यह काफी अधिक है।  

कीमत ज्यादा होने के पीछे बैटरी महंगी
केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने बताया कि इलेक्ट्रिक वाहनों की अधिक कीमत होने के पीछे लीथियम बैटरी है। लीथियम बैटरी की कीमत कम करने की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है। देश में जल्द ऐसा समय आएगा जब लीथियम बैटरी की कीमत घट जाएंगी। इसके बाद इलेक्ट्रिक वाहनों की कीमतें घटना शुरु होंगी। गडकरी ने बताया कि दो सालों में पेट्रोल वाहनों के बराबर रेट पर ही इलेक्ट्रिक गाड़ियां भी मिलना शुरू हो जाएंगी। 

2030 तक बदल देंगे स्थिति
गडकरी ने जानकारी देते हुए कहा कि देश में लीथियम बैटरी की कुल आश्यकता का 81 फीसदी प्रोडक्शन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कैसे सस्ती बैटरी मिल सके, इसकी प्लानिंग की जा रही है। इस पर भी रिसर्च भी जारी है।  उन्होंने कहा कि लोग अब इलेक्ट्रिक वाहन अपनाने में संकोच त्याग चुके हैं, बस उन्हें उनकी रेंज में वाहन उपलब्ध कराना बाकि है। गडकरी ने कहा कि, ऑटोमोबाइल्स कंपनियां भी इलेक्ट्रिक सेगमेंट को प्राथमिकता दे रही हैं। उन्होंने कहा कि हमारा टारगेट है कि 2030 तक 30 फीसदी प्राइवेट कार, 70 फीसदी तक कमर्शियल कार और 40 फीसदी बसें इलेक्ट्रिक  जाएं।। इसके लिए हम लगातार प्रयास कर रहे हैं। 

ये भी पढ़ें-
MUSK के पालतू कुत्ते की फोटो शेयर करते ही CRYPTOCURRENCY SHIBA INU में आया जबरदस्त उछाल, देखें क्या है वजह
Petrol Diesel Rate: 14 राज्यों ने पेट्रोल-डीजल में VAT नहीं किया कम, Ladakh ने की सबसे ज्यादा कटौती
Bhai Dooj 2021, 6 November Gold Price: भाईदूज पर बहन को दें गोल्ड का गिफ्ट, बंपर ऑफर में देखें
Mukesh Ambani की फैमिली की शिफ्टिंग पर Reliance ने जारी किया बयान, जमीन खरीदी की बात कबूली

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios