Asianet News Hindi

बिहार में 3rd फेज की वोटिंग खत्मः 78 सीटों पर 6 बजे तक 56.16 फीसदी मतदान

तीसरे चरण के 78 विधानसभा सीट पर शनिवार को वोटिंग खत्म हो गई है। 6 बजे तक 56.16 फीसदी लोगों ने मतदान किया।

Bihar Election Voting for final phase in Bihar, 12 veterans including 12 ministers at stake asa
Author
Bihar, First Published Nov 7, 2020, 6:09 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar )। बिहार विधानसभा चुनाव  (Bihar Assembly Elections) के आखिरी चरण के लिए 78 सीटों पर वोटिंग खत्म हो गई है। 6 बजे तक 56.16 फीसदी लोगों ने मतदान किया।इस फेज में 1204 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे। इनमें गायघाट में सर्वाधिक 31 उम्मीदवार चुनाव लड़े। जबकि बहादुरगंज, जोकिहाट, त्रिवेणीगंज व ढाका में 9-9 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इस चरण में बिहार सरकार के 12 मंत्रियों सहित कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। 10 नवंबर को नतीजे जारी होंगे। इससे पहले पहले फेज में 73, दूसरे फेज में 92 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है।

अपडेट्स

पूर्णिया में फायरिंग
-  बिहार के पूर्णिया में तीसरे चरण की वोटिंग के दौरान  CISF जवानों ने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कहा तो लोगों ने उन्हें घेरकर पीटा। बचाव में जवानों को फायरिंग करनी पड़ी। इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

-  बेगुसराय में एक बूथ पर लोगों ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया। लोगों का कहना है कि क्षेत्र में विकास नहीं हुआ, इसलिए वे मतदान नहीं करेंगे। 

- कटिहार: लकड़ी के पुल से नदी पार कर वोट डालने जाते ग्रामीण

-  सुपौल के निर्मली विधानसभा के 246 नंबर बूथ पर सदानंद राय नाम के मतदान कर्मी की मौत हो गई। वहीं, मुजफ्फरपुर के औराई विधानसभा के बूथ-190 पर पोलिंग ऑफिसर केदार राय की हार्ट अटैक से मौत हो गई। केदार सिंचाई विभाग में थे। डीएम ने 15 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है।

- 11 बजे तक 19.74% मतदान हुआ है।

- राहुल गांधी ने की बढ़ चढ़ कर मतदान करने की अपील
 

-  बिहार के मंत्री सुरेश शर्मा ने डाला वोट

- सुबह 9 बजे तक 7.69% वोटिंग हुई

- मुख्यमंत्री उम्मीदवार पुष्पम प्रिया ने डाला वोट
 


कोरोना के चलते कटिहार में एक पोलिंग बूथ पर खास इंतजाम किए गए
 

-  मुजफ्फरपुर में तीसरे चरण में वोट डालते मतदाता
 


- दरभंगा और अररिया में पोलिंग बूथ पर शांतिपूर्ण तरीके से होता मतदान
 

- पीएम बोले- नया रिकॉर्ड बनाएं
 


- चिराग की हुंकार- अब कभी सीएम नहीं बनेंगे नीतीश कुमार
तीसरे चरण के मतदान से पहले चिराग पासवान ने कहा, जिस तरह से लोग बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट से जुड़ रहे हैं। मुझे विश्वास है कि इस चरण में भी हमारा प्रदर्शन अच्छा होगा। एक बात साफ है कि अब नीतीश कुमार कभी मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे।
 


- किशनगंज में पोलिंग बूथ पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मतदान करने पहुंचे लोग
 

-

 

-तेजस्वी यादव ने लोगों से ये अपील 
महागठबंधन से सीएम फेस तेजस्वी यादव ने लोगों से वोटिंग की अपील की है। उन्होंने ट्टीट कर कहा कि मैं सभी से लोकतंत्र के इस त्योहार में भाग लेने और वोट डालने की अपील करता हूं। इस चुनाव में बिहार अपने भविष्य पर फैसला लेगा।

 

इन चार विधानसभा क्षेत्रों में शाम बजे तक ही वोटिंग
तीसरे चरण के 78 विधानसभा क्षेत्रों में चार विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं जहां वोटिंग का समय एक घ्ंटा अधिक रखा गया है। पश्चिमी चम्पारण के दो बाल्मीकीनगर और रामनगर (सु) एवं सहरसा के दो सिमरी बख्तियारपुर व महिषी विधानसभा क्षेत्रों में सुबह सात बजे से चार बजे तक मतदान होगा। शेष सभी विधानसभा क्षेत्रों में शाम छह बजे तक ही वोटिंग होगी

इन 15 जिलों में हो रहे चुनाव 
पश्चिम चंपारण, पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सहरसा, दरभंगा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और  समस्तीपुर। 
 
इन 78 विधानसभा सीटों पर हो रही वोटिंग
वाल्मीकिनगर, रामनगर(सुरक्षित), नरकटियागंज, बगहा, लौरिया, सिकटा, रक्सौल, सुगौली, नरकटिया, मोतिहारी, चिरैया, ढाका, रीगा, बथनाहा(सुरक्षित), परिहार, सुरसंड, बाजपट्टी, हरलाखी, बेनीपट्टी, खजौली, बाबूबरही, बिस्फी, लौकहा, निर्मली, पीपरा, सुपौल, त्रिवेणीगंज, छातापुर, नरपतगंज, रानीगंज(सुरक्षित), फारबिसगंज, अररिया, जोकिहाट, सिकटी, बहादुरगंज, ठाकुरगंज, किशनगंज, कोचाधामन, अमौर, बायसी, कस्बा, बनमनखी(सुरक्षित), रूपौली, धमदाहा, पूर्णिया, कटिहार, कदवा, बलरामपुर, प्राणपुर, मनिहारी (एसटी), बरारी, कोढ़ा, आलमनगर, बिहारीगंज, सिंघेश्वर(सुरक्षित), मधेपुरा, सोनबरसा(सुरक्षित), सहरसा, सिमरी बख्तियारपुर, महिषी, दरभंगा, हायाघाट, बहादुरपुर, केवटी, जाले, गायघाट, औराई, बोचहां(सुरक्षित), सकरा(सुरक्षित), कुढ़नी, मुजफ्फरपुर, महुआ, पातेपुर(सुरक्षित), कल्याणपुर(सुरक्षित), वारिसनगर, समस्तीपुर, मोरवा व सरायरंजन। 

तीसरे चरण चुनाव पर एक नजर
विधानसभा सीट-78
बूथों की संख्या-33782
पुरुष प्रत्याशी-1094
महिला प्रत्याशी- 110
कुल प्रत्याशी- 1204
पुरुष मतदाता- 12325780
महिला मतदाता-11205378
थर्ड जेंडर मतदाता-894
कुल मतदाता- 23532052

कहां से कौन मंत्री लड़ रहे चुनाव
बताते चले कि पहले चरण में आठ, जबकि दूसरे चरण में चार मंत्री चुनाव मैदान में थे। जबकि, तीसरे चरण में 12 मंत्री चुनाव लड़ रहे हैं, इनमें आठ जेडीयू और चार बीजेपी के कोटे के हैं। जेडीयू के मंत्रियों में सुपौल से बिजेंद्र प्रसाद यादव, मधेपुरा के आलमनगर से नरेंद्र नारायण यादव, सिंघेश्वर (सु.) से रमेश ऋषिदेव, सिकटा से खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद, लौकहा से लक्ष्मेश्वर राय, रूपौली से बीमा भारती, दरभंगा जिले के बहादुरपुर से मदन सहनी और कल्याणपुर (सु.) सीट से महेश्वर हजारी चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं भाजपा कोटे के मंत्रियों में मोतिहारी से प्रमोद कुमार, मुजफ्फरपुर से सुरेश शर्मा, मधुबनी जिले के बेनीपट्टी से विनोद नारायण झा और बनमनखी सीट से कृष्ण कुमार ऋषि शामिल हैं। 

हाल ही में दिवगंत दो मंत्रियों पत्नियां भी लड़ रही चुनाव
बताते चले कि हाल ही दिवंगत हुए मंत्री कपिलदेव कामत की बहू मीना कामत धुबनी जिले के बाबूबरही और मंत्री विनोद कुमार सिंह की पत्नी निशा सिंह कटिहार के प्राणपुर से चुनावी मैदान में हैं। 

विस अध्यक्ष भी आजमा रहे किस्मत
विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी भी समस्तीपुर जिले के सरायरंजन से जदयू के टिकट पर मैदान में हैं। वहीं, विपक्ष के कद्दावर नेता अब्दुलवारी सिद्दिकी, सीपीआई के राज्य सचिव रामनरेश पांडेय, पूर्व सांसद अश्वमेध देवी सरीखे राजनेता भी इसी चरण में चुनाव लड़ रहे हैं।

मुकेश साहनी सहित ये नेता पहली बार लड़ रहे चुनाव
पहली बार चुनाव लड़ रहे वीआईपी प्रमुख मुकेश साहनी के भी किस्मत का फैसला इसी चरण में होना है। वहीं, जेडीयू के प्रदेश प्रवक्ता निखिल मंडल भी मधेपुरा भाग्य आजमा रहे हैं। दूसरी ओर आरजेडी से रानीगंज सुरक्षित सीट से अविनाश ऋषिदेव चुनाव लड़ रहे हैं, जो नियोजित शिक्षक थे और इस्तीफा देकर चुनाव लड़ हैं। बीडीओ की नौकरी से इस्तीफा देकर महिषी से गौतम कृष्णा आरजेडी के टिकट चुनावी मैदान में हैं। परिहार से राजद उम्मीदवार रीतु जयसवाल मुखिया हैं और विधानसभा में जाने के लिए भाजपा की गायत्री देवी के विरुद्ध मैदान में हैं। जाले से कांग्रेस उम्मीदवार मंसूर अहमद हैं, जो एएमयू छात्र संघ अध्यक्ष रहे थे। उनकी लड़ाई भाजपा के जीवेश कुमार से है।  

11 वीं बार चुनावी मैदान में हैं पूर्व मंत्री रमई राम
11वीं बार चुनावी मैदान में उतरे पूर्व मंत्री रमई राम के भी भाग्य का फैसला इसी चरण में होगा। वो बोचहां से आरजेडी के प्रत्याशी हैं। इसके अलावा सहरसा से जेल में बंद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद, पातेपुर से शिवचन्द्र राम, हायाघाट से भोला यादव, कदवा से शकील अहमद खान, वाल्मीकिनगर राजेश सिंह प्रमुख हैं।

यह भी पढ़े

1 हजार से ज्यादा सभाओं के साथ BJP सबसे आगे, सोलो रैली के मामले में तेजस्वी यादव के आस-पास भी नहीं कोई

बिहार चुनावः सास-बहू, देवर-भाभी से लेकर देवरानी-जेठानी तक...चुनावी मैदान में रिश्तों की अनोखी जंग

बिहारीगंज में सुभाषिनी के कारण दांव पर शरद यादव की प्रतिष्ठा, जीत के लिए जोर चुके हैं राहुल गांधी

बाहुबली पति की तरह फैसला लेती हैं लवली आनंद,6 बार लड़ चुकी हैं चुनाव, इस बार दिलचस्प है मुकाबला

बिहार चुनाव का तीसरा फेज: गणित NDA के पक्ष में, ओवैसी चूर कर सकते हैं तेजस्वी यादव का सपना

सिर्फ 8वीं तक पढ़ें हैं मुकेश साहनी, बीजेपी ने अपने कोटे से दी है 11 सीट, खुद यहां से लड़ रहे चुनाव

बिहार चुनावः दिलचस्प होगा आखिरी चरण का मुकाबला, मैदान में हैं NDA सरकार के12 मंत्री समेत ये दिग्गज

बिहार में ये हैं सबसे युवा और उम्रदराज प्रत्याशी,अंगूठा छाप से लेकर प्रोफेसर,डॉक्टर,इंजीनियर तक लड़ रहे चुनाव

बिहार में इस बार चुनाव लड़ रहे 1201 दागी और 1231 करोड़पति, यहां देखें 15 साल का रिकार्ड

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios