Asianet News HindiAsianet News Hindi

Diwali 2021 : Gold खरीदने जा रहे हैं तो नोट कर लें ये टिप्स, Cash Memo में देखें पूरी डिटेल, शुद्धता परखें

सोने की ज्वेलरी (gold jewelery) खरीदने जा रहे हैं तोउस पर हॉलमार्किंग (hallmarking) जरूर देखें। विभिन्न कैटेगिरी के लिए अलग- अलग हॉलमार्किंग की जाती है।  खरीदी का कैश मेमो (cash memo) ही लें, देखें इस बिल में किन बातों का होना जरुरी है। वहीं आप भी सोने की शुद्धता परख सकते हैं।  

Diwali 2021 gold buying tips See full details in Cash Memo You can complain if you have wrong information RPS
Author
Bhopal, First Published Nov 7, 2021, 3:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क, Diwali 2021:। दिवाली जरूर बीत गई है पर सोने की खरीदारी जारी है। देवउठनी ग्यारस(Devuthani Gyaras) के मौके पर भी गोल्ड- सिल्वर के आभूषणों (gold-silver jewelery)  की खरीददारी होगी। जब बाजार में ग्राहकों की भीड़ उमड़ती है तो दुकानदार मुनाफा (profit) कमाने का कोई ना कोई रास्ता निकाल लेते हैं। ऐसे में ग्राहकों का अलर्ट रहना जरुरी है। सोना खरीदते समय कुछ जरूरी बातों का जरुर ध्यान रखें। इस खबर में गोल्ड खरीदने के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों के बारे में बताएंगे। 


विश्वसनीय ज्वेलर्स और दुकान का करें चयन
गोल्ड के व्यापार में भरोसा और विश्वसीयनता सबसे ज्यादा आवश्यक है। हर व्यक्ति सोने की परख नहीं कर सकता है। इसलिए जरुरी है कि जो दुकानदार अपनी बेची गई ज्वेलरी को वाजिब दामों में वापस लेता है, उस पर भरोसा किया जा सकता है। इसलिए ऐसे ज्वेलर्स को खरीदी के लिए प्राथमिकता दें। सोने की ज्वेलरी खरीद रहे हैं, उस पर हॉलमार्किंग (hallmarking) जरूर देखें। विभिन्न कैटेगिरी के लिए अलग- अलग हॉलमार्किंग की जाती है, इस खबर में हम आपको हॉलमार्किंग के संबंध में भी विस्तार से जानकारी देंगे।

पक्का बिल जरुर मांगे
 गोल्ड खरीदे या सिल्वर या अन्य कोई भी आयटम उसकी पक्की रसीद जरुर ले लें। कई बार ज्वेलर्स भ्रमित करने के लिए पक्का बिल बताकर उसकी तर्ज पर बनाया रफ बिल थमा देते हैं। सोना खऱीदते समय ध्यान रखें कि बिल या तो कम्प्यूटर द्वारा जनरेट किया पूरी डिटेल बिल हो । उस पर दुकानदार की विधिवत तरीके से लगाई गई सील हो, जिसपर दुकान का रजिस्ट्रेशन नंबर जरूर लिखा हो।  
 

विवाद की  स्थिति में बिल ही सबूत 

ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड्स (BIS) के मुताबिक, रिटेलर या ज्वेलर से अगर हॉलमार्किंग वाली ज्वेलरी खरीदते हैं तो जरूरी है कि उससे प्रमाणित बिल या इनवॉयस जरूर लें। किसी भी प्रकार के विवाद में बिल ही परखा जाता है। हॉलमार्किंग वाली   ज्वेलरी का बिल कैसा होता है, इसके बारे में आफको पूरी जानकारी होनी चाहिए।  


BIS ने बनाई है गाइडलाइन 
BIS के निर्देशानुसार कैश मेमो में हॉलमार्क वाली आभूषणों की डिटेल जानकारी होनी चाहिए। ज्वेलरी का प्रकार, उसकी  धर्मकांटा का शुद्ध वजन, कैरेट, शुद्धता और हॉलमार्किंग चार्ज को लिखा जाना चाहिए। उसमें यह भी लिखा जाना चाहिए कि “उपभोक्ता हॉलमार्क वाले आभूषणों या कलाकृतियों की शुद्धता को बीआईएस से मान्यता प्राप्त किसी भी एएंडएच केंद्र से सत्यापित करवा सकते हैं.”

बिल में इस तरह की पूरी जानकारी होनी चाहिए- 
आइटम का नाम और डिटेल: गोल्ड टॉप्स
मात्रा : 1
वजन (ग्राम): 10 ग्राम
शुद्धता: 22KT
आज गोल्ड का रेड और मेकिंग चार्ज
हॉलमार्किंग चार्ज: 35 रुपये + जीएसटी
खरीदार द्वारा देय कुल राशि
वापसी पर कितने प्रतिशत कटौती की जाएगी इसका भी उल्लेख किया जाना जरुरी है। 

ये जानकारी भी बिल में होना जरुरी
एक स्थायी (पक्का ) बिल या चालान पूरी तरह से वैलिड ट्रांजेक्शन पर आधारित होता है। इसमें ज्वेलरी की पूरी डिटेल दी गई होती है। आभूषण का नाम और कोड, जिस सोने ज्वेलरी के लिए पेमेंट किया जा रहा है, उसका शुद्ध वजन, ब्रेक-अप और मेकिंग और वेस्टेज चार्ज जैसे अतिरिक्त शुल्क भी इसमें अंकित होते हैं। ज्वेलर्स की जीएसटी पहचान संख्या भी इशमें अंकित होती है। 

4 तरीकों से पहचाने सोने की शुद्धता
आप hallmark ज्वैलरी की 4 तरह से पहचान कर सकते हैं। हर ज्वैलरी पर भारतीय मानक ब्यूरो का ट्रेडमार्क यानी BSI का लोगो होता है। हर ज्वैलरी की कैरेट या फाइनेंस में प्योरिटी होगी, जैसे 916 लिखा है तो इसका मतलब यह है कि ज्वैलरी 22 कैरेट के गोल्ड (91.6 फीसदी शुद्धता) का है। 750 लिखा है तो इसका मतलब यह है कि ज्वैलरी 18 कैरेट (75 फीसदी शुद्ध) गोल्ड का है। इसी तरह 585 लिखा है तो इसका मतलब कि ज्वैलरी 14 कैरेट गोल्ड (58.5 फीसदी शुद्धता) का है।

ऐप के जरिए  चेक कर सकते हैं सोने की प्योरिटी
अब आप घर बैठें सोने की प्योरिटी को भी चैक कर सकते हैं, यही नहीं आप इसकी शिकायत भई कर सकते हैं।  इसके लिए सरकार की ओर से एक ऐप बनाया गया है। ‘BIS Care app’ से ग्राहक (Consumer) सोने  की शुद्धता (Purity) की जांच कर सकते हैं।  इस ऐप (App) पर आप शुद्धता को लेकर शिकायत भी कर सकते हैं। इस ऐप (App) में अगर गोल्ड में खरीदी में बिल का लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन और हॉलमार्क नंबर गलत पाया जाता है तो आप  इसकी शिकायत तुरंत कर सकते हैं। 

मिस्ड कॉल देकर पता लगाएं सोने- चांदी का रेट
मोबाइल फोन पर एक मिस्ड कॉल करके सोने- चांदी का भाव पता किया जा सकता है। इसके लिए  आपको सिर्फ इस नंबर 8955664433 पर मिस्ड कॉल देना है, इसके बाद आपके फोन पर मैसेज आ जाएगा, जिसमें आप लेटेस्ट रेट्स चेक कर सकते हैं।
ये भी पढ़ें-
MUSK के पालतू कुत्ते की फोटो शेयर करते ही CRYPTOCURRENCY SHIBA INU में आया जबरदस्त उछाल, देखें क्या है वजह
Petrol Diesel Rate: 14 राज्यों ने पेट्रोल-डीजल में VAT नहीं किया कम, Ladakh ने की सबसे ज्यादा कटौती
Bhai Dooj 2021, 6 November Gold Price: भाईदूज पर बहन को दें गोल्ड का गिफ्ट, बंपर ऑफर में देखें
Mukesh Ambani की फैमिली की शिफ्टिंग पर Reliance ने जारी किया बयान, जमीन खरीदी की बात कबूली
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios