Asianet News HindiAsianet News Hindi

महाकाल थाली एड बढ़ा विवाद तो Zomato ने मांगी माफी, विज्ञापन भी लेगा वापस, बोला-हम माफी मांगते हैं

पुजारी महेश ने कहा- कंपनी ने अपने विज्ञापन में महाकाल मंदिर को लेकर भ्रामक प्रचार किया है। ऐसे विज्ञापन जारी करने से पहले कंपनी को सोचना चाहिए। हिंदू समाज सहिष्णु है, वह कभी उग्र नहीं होता। अगर कोई दूसरा समुदाय होता, तो ऐसी कंपनी में आग लगा देता। 

Zomato apologises for Hritik Roshan starrer Advertisement of Mahakal thalis, will withdraw ad, DVG
Author
New Delhi, First Published Aug 21, 2022, 6:08 PM IST

नई दिल्ली। महाकाल थाली एड पर विवाद बढ़ते ही फूड डिलेवरी कंपनी जोमैटो ने माफी मांग ली है। जोमैटो ने ऋतिक रोशन का महाकाल वाला विज्ञापन भी हटा लिया है। कंपनी ने स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा कि उनका इरादा कभी भी आस्था या किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। कंपनी पूरी ईमानदारी से माफी मांगती है।

कंपनी ने सफाई देते हुए कहा कि जोमैटो के विज्ञापन में ऋतिक रोशन जिस महाकाल थाली के बारे में प्रचार कर रहे हैं वह उज्जैन के महाकाल रेस्तरां के बारे में है न कि पूज्यनीय श्री महाकालेश्वर मंदिर के बारे में संदर्भित है। कंपनी ने बताया कि वह पूरे देश में हर शहर में लोकप्रियता के आधार पर वहां के टॉप रेस्टोरेंट्स और उसके डिशेस के बारे में पहचान बताने की मुहीम में एड करा रहा है। कंपनी कभी भी आस्था से खिलवाड़ नहीं कर सकता।
दरअसल, ऑनलाइन फूड डिलेवरी कंपनी जोमैटो ने अपने विज्ञापन में महाकाल मंदिर उज्जैन से जोड़ते हुए महाकाल थाली पर एड बनाया था। कंपनी का यह विज्ञापन एड एक्टर ऋतिक रोशन ने किया है। विज्ञापन में फिल्म एक्टर ऋतिक रोशन कह रहे हैं कि थाली का मन किया। उज्जैन में हैं, तो महाकाल से मंगा लिया। लेकिन विज्ञापन जारी होते ही काफी विवादों में फंस गया। आरोप है कि विज्ञापन से लग रहा है कि महाकाल मंदिर में थाली डिलेवरी हो रही है। 

महाकाल मंदिर के पुजारियों ने माफी मांगने की दी थी चेतावनी

विज्ञापन जारी होने के बाद महाकालेश्वर मंदिर के पुजारियों ने आपत्ति जताते हुए माफी मांगने को कहा था। मंदिर के पुजारियों ने कहा कि महाकाल मंदिर के अन्न क्षेत्र में मुफ्त भोजन मिलता है न कि यहां से कोई थाली डिलेवर होती है। कहा कि जोमैटो और ऋतिक रोशन इस विज्ञापन पर माफी मांगें। पुजारी महेश ने कहा- कंपनी ने अपने विज्ञापन में महाकाल मंदिर को लेकर भ्रामक प्रचार किया है। ऐसे विज्ञापन जारी करने से पहले कंपनी को सोचना चाहिए। हिंदू समाज सहिष्णु है, वह कभी उग्र नहीं होता। अगर कोई दूसरा समुदाय होता, तो ऐसी कंपनी में आग लगा देता। जोमैटो हमारी भावनाओं के साथ ऐसा खिलवाड़ न करें। उन्होंने कहा कि यहां थाली में ही सबको भोजना परोसा जाता है जो भी महाकाल मंदिर के अन्न क्षेत्र में आता है लेकिन कहीं भी यह भोजन व्यवसायिक तरीके से डिलेवर नहीं किया जाता है न ही दूसरे माध्यम से थाली कहीं पहुंचाई जाती है। उन्होंने कहा कि महाकाल के अन्न क्षेत्र में केवल सात्विक भोजन ही मिलता है। नॉन वेज डिलेवरी देने वाली कंपनी, ऐसे भ्रामक विज्ञापन न करे। कंपनी ने माफी नहीं मांगी, तो हम कोर्ट जाएंगे।

यह भी पढ़ें:

गुलाम नबी आजाद के बाद अब आनंद शर्मा ने दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी को पत्र लिखा-मेरा हो रहा अपमान

सीबीआई भगवा पंख वाला तोता...कपिल सिब्बल बोले-मालिक जो कहता है यह वही करेगा

AD पर बवाल: Zomato से मंदिर के पुजारी की दो टूक: दूसरा समुदाय कंपनी फूंक देता, हम केवल माफी को कह रहे

भारत के सामने अपनी मजबूरियों को श्रीलंका ने किया साझा, कहा-हम छोटे देश हैं, चीन को नहीं दे सकते जवाब

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios